वक्त के साथ बदल रहा है भारतीयों की डेटिंग का अंदाज

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Apr 09, 2014
डेटिंग को अतीत में सामाजिक रूप से स्‍वीकार नहीं किया जाता था। लेकिन मूल्यों और युवाओं में आए बदलाव के कारण आज डेटिंग काफी हद तक सामाजिक रूप से स्वीकार्य हो गई है। आइए जानें, वक्‍त के साथ भारतीयों की डेटिंग का अंदाज किस तरह से बदल रहा है।
  • 1

    भारतीय अंदाज में डेटिंग

    भारतीयों में डेटिंग की गतिशीलता अपने आप में काफी अनोखी है। डेटिंग की बात आने पर भारतीय आज भी अपने परंपरागत मूल्यों को गंभीर महत्व देते है। कुछ दशक पहले डेटिंग का मतलब विचारशील स्‍थानों और गुप्‍त मुठभेड़ों की दया पर था।  इसी कारण डेटिंग को अतीत में जनसंख्या के बहुमत द्वारा पर अपमानित किया जाता था, विशेष रूप से बड़ी उम्र के लोगों द्वारा। धीरे-धीरे बदलाव आये और सामाजिक बातें गौण हो लगी। अब भारत की युवा पीढ़ी प्यार के लिए पागल और प्रतिबद्ध करने के लिए तैयार है।

    भारतीय अंदाज में डेटिंग
    Loading...
  • 2

    वर्तमान स्थिति में चीजें

    भारत में डेटिंग के मानदंड तेजी से पश्चिम के मानदंड से मिलान कर रहे हैं। मूल्यों और युवाओं में आए बदलाव के कारण आज डेटिंग काफी हद तक सामाजिक रूप से स्वीकार्य हो गई है। भारत में इंटरनेट की बढ़ती व्‍यापकता के कारण डेटिंग के दायरे भी बढ़ रहे है। सोशल नेटवर्किंग साइट और ऑनलाइन डेटिंग साइट्स की लोकप्रियता भी तेजी से बढ़ रही है।

    वर्तमान स्थिति में चीजें
  • 3

    भारतीय पुरुष

    पहले के समय में भारतीय पुरुष उबाऊ और लंबी मूंछों वाले होते थे। जबकि वर्तमान समय में पुरुष अपने हितों के प्रति सचेत है और अपनी इच्‍छा की सभी चीजों को करने वाले होते हैं। इसके अलावा वह डेटिंग सहित जीवन के विभिन्‍न रंगों की खोज करने की तीव्र इच्‍छा होती है। हालांकि, साथी की खोज करते समय भारतीय पुरुष सतर्कता को हमेशा अपने ध्‍यान में रखते हैं।

    भारतीय पुरुष
  • 4

    भारतीय महिला

    भारतीय महिलाओं में पिछले कुछ दशकों में भारी परिवर्तन आया है। अब भारतीय महिलाएं पहले की तरह संकोची और निष्क्रिय आचरण वाली नहीं हैं। वर्तमान समय में महिलाये स्‍वतंत्र और जीवन के बारे में भावुक होती है और खुद को मिली छूट का भरपूर लाभ भी उठाती है। लेकिन भारत की ज्यादातर महिलाओं को अभी भी पारंपरिक मूल्यों के प्रति लगाव है। और एकपत्नीत्व की प्रबल वकालत भी करती है।

    भारतीय महिला
  • 5

    शादी की उम्र में बदलाव


    डेटिंग आज भारत में उच्‍चाईयों पर है क्‍यों‍कि युवा पीढ़ी को शादी करने की कोई जल्‍दी नहीं है। कुछ साल पहले तक, 25 साल की उम्र में ज्यादातर भारतीय शादी करके अपने जीवन साथी के साथ बस जाते थे। लेकिन अब प्रवृत्ति बदल गई है आज की नई पीढ़ी 25 के बाद शादी को एक विकल्प के रूप में समझती है।

    शादी की उम्र में बदलाव
  • 6

    जाति और धर्म की बाधाएं

    आज भारत के शहरी इलाकों में धर्म और जाति की तर्ज बहुत तेजी से लुप्‍त हो रही हैं। आज डेटिंग धर्म या जाति की असमानता द्वारा सीमित नहीं रह गई है। धर्म और जाति में अंतर माता पिता के लिए एक समस्या हो सकता है, लेकिन निश्चित रूप से डेटिंग की बात आने पर युवा पीढ़ी के लिए के लिए कोई समस्या हो ही नहीं सकती है।

    जाति और धर्म की बाधाएं
  • 7

    सार्वभौमिक संगतता

    कुछ समय पहले रंग और ऊंचाई जैसी शारीरिक विशेषताओं को बहुत महत्‍व दिया जाता है। लेकिन आज इसका कोई खास महत्‍व नहीं रह गया है। आज पुरुष और महिलाएं दोनों भागीदारों की एक व्यापक श्रृंखला के लिए खुले हैं। डेटिंग के क्लासिक निर्धारकों के रूप में व्यक्तित्व उनके लिए मायने रखता है।

    सार्वभौमिक संगतता
  • 8

    हित महत्वपूर्ण हैं

    जब भारत में डेटिंग की बात आती है तो आज हितों की अनुकूलता का महत्व बड़ गया है। बहुत से लोग आपसी हितों के आधार पर ही मिलते हैं और फिर वह अपने रिश्‍ते को अगले स्‍तर पर ले जाते है। भारत में कई प्रेम कहानियां केवल आम हितों के आधार पर संभव हो पाई है।

    हित महत्वपूर्ण हैं
  • 9

    ऑनलाइन डेटिंग का उदय

    एक ताजा सर्वेक्षण में पाया गया कि आज भारत में लगभग 15 करोड़ लोग ऑनलाइन डेटिंग में लगे हुए हैं। फेसबुक जैसी सोशल मीडिया वेबसाइटों से शहर में व्यापक लोकप्रियता के साथ ही भारत के उप नगरीय क्षेत्रों को भी फायदा हुआ है। यह वेबसाइटों सामाजिक विस्तार के उपकरण के साथ ही युवाओं के लिए डेटिंग की सुविधा भी प्रदान करता है। नए डिजिटल उपकरणों और सेवाओं के साथ, डेटिंग ने भारत में एक नया उच्च स्थान प्राप्त कर लिया है।

    ऑनलाइन डेटिंग का उदय
  • 10

    स्मार्टफोन

    स्‍मार्टफोन की वृद्धि के साथ, भारत में मोबाइल डेटिंग का एक नया क्षेत्र उभरा है। स्मार्टफोन की लोकप्रियता भारत के पुरुषों और महिलाओं दोनों के बीच तेजी से बढ़ रही है। ऐसे में वाट्सअप, ब्लैकबेरी मैसेनजर और कई अन्‍य प्रकार के एप्‍लीकेशन के साथ आप चौबीसों घंटे संपर्क में रह सकते हैं। स्मार्टफोन ने आज डेटिंग और सम्पर्क करने के तरीकों को बदल दिया है।

    स्मार्टफोन
  • 11

    स्काइप

    भारत में लंबी दूरी की डेटिंग स्‍काइप जैसे सॉफ्टवेयर के कारण संभव हो गया है। स्काइप एक वीडियो चैटिंग सॉफ्टवेयर है जो बिना किसी भौगोलिक सीमा के लोगों को पास ला सकता है। पहले लंबी दूरी की रिश्ते काफी कठिन होते थे लेकिन मीलों के रिश्‍ते में भी आज स्काइप के कारण कुछ उम्मीद है।

    स्काइप
  • 12

    धैर्य

    भारत में प्रेम समय लेता है। भारतीय महिलाओं और यहां तक ​​कि कुछ भारतीय पुरुष भी धीमी गति से चीजों को लेना चाहते हैं। भारत में साथी को लुभाने की कोशिश कर रहे व्‍यक्ति को अतिरिक्त धैर्य की जरूरत होती है।

    धैर्य
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK