बुद्धि बढ़ाने के हैं ये 8 बेहतरीन तरीके

तकनीक के अधिक प्रयोग ने हमारी बुद्धि को अस्‍वस्‍थ कर दिया है, छोटी सी बात याद करने के लिए तकनीकि साधनों पर निर्भरता के कारण ही हमारी याद्दाश्‍त कमजोर हो रही है।

Nachiketa Sharma
Written by: Nachiketa SharmaPublished at: Mar 24, 2017

बढ़ायें अपनी बुद्धि

बढ़ायें अपनी बुद्धि
1/9

तकनीक के बढ़ते प्रयोग ने हमारी बुद्धि को अस्‍वस्‍थ कर दिया है, छोटी से बड़ी बातों को याद करने के लिए हम पूरी तरह से तकनीकि साधनों पर निर्भर हो रहे हैं। हमने अपने दिमाग का पूरी तरह से प्रयोग करना बंद कर दिया है और इसका सीधा असर याद्दाश्‍त पर पड़ रहा। तार्किक क्षमताओं और दिमागी उलझने से बचने के कारण याद्दाश्‍त कमजोर होने लगी है। सामान्‍य तरीकों को आजमाने से भी याद्दाश्‍त बढ़ायी जा सकती है। image source - getty images

कुछ नया कीजिए

कुछ नया कीजिए
2/9

बुद्धि को बढ़ाने के लिए पारंपरिक तरीकों को छोड़कर कुछ नया आजमाने की कोशिश कीजिए। यह नया तरीका आपकी याद्दाश्‍त को बढ़ाने में मददगार होगा, क्‍योंकि जब भी हम नया करने की कोशिश करते हैं वो हमे आसानी से याद हो जाता है। इसके लिए खाने की नयी रेसीपी आजमायें, व्‍यायाम के नये तरीके आजमायें, अपनी सामान्‍य दिनचर्या को भी थोड़ा मजे‍दार कीजिए। image source - getty images

नियमित व्‍यायाम

नियमित व्‍यायाम
3/9

शरीर को फिट करने के अलावा अगर आप आपनी याद्दाश्‍त को बढ़ाना चाहते हैं तो व्‍यायाम को अपनी दिनचर्या में शामिल कीजिए। सप्‍ताह में कम 5-6 दिन व्‍यायाम करने से दिमाग की कार्यक्षमता बढ़ती है। व्‍यायाम करने से दिमाग में भी रक्‍त संचार अच्‍छे से होता हो और दिमाग की कोशिकायें भी अधिक सक्रिय हो जाती हैं। image source - getty images

दिमागी कसरत करें

दिमागी कसरत करें
4/9

अपने बुद्धि बढ़ाने के लिए दिमागी कसरत जरूर कीजिए। अपने मोबाइल में अपने जरूरी नंबर संरक्षित करने के अलावा कुछ जरूरी नंबर को याद करने की कोशिश कीजिए। एक बार नंबर याद करने के एक सप्‍ताह बाद इसे दोबारा याद करने की कोशिश कीजिए। इससे बुद्धि बढ़ेगी। कोशिश करें कि याद रखने वाली बातों को कंप्‍यूटर या मोबाइल में नोट न करें। image source - getty images

उत्‍सुकता है जरूरी

उत्‍सुकता है जरूरी
5/9

सभी बातों को सामान्‍य तरीके से लेने के बजाय उत्‍सुकता से उन्‍हें लीजिए। नये विचारों के बारे में जानने के लिए हमेशा उत्‍सुक रहें, नई जगह जाने का जब भी मौका मिले उसे उत्‍साह के साथ स्‍वीकार कीजिए। image source - getty images

सकारात्‍मक सोच रखें

सकारात्‍मक सोच रखें
6/9

दिमागी क्षमता बढ़ाने के लिए सकारात्‍मक सोच होना बहुत जरूरी है। सकारात्‍मक सोच होने पर तनाव और अवसाद होने की संभावन कम होती है और आपका दिमाग अधिक सक्रिय रहेगा। तनाव के कारण दिमाग की कार्यक्षमता कम होती है, इसलिए तनाव याद्दाश्‍त का सबसे बड़ा दुश्‍मन है। इसलिए सकारात्‍मक सोच रखकर इनसे बचने की कोशिश करें। image source - getty images

स्‍वस्‍थ आहार है जरूरी

स्‍वस्‍थ आहार है जरूरी
7/9

अन्‍य चीजों की तरह दिमाग को स्‍वस्‍थ रखने के लिए स्‍वस्‍थ आहार बहुत जरूरी है। हम जो खाते हैं उसका सबसे ज्‍यादा असर हमारी दिमागी कार्यक्षमता पर पड़ता है, इसलिए स्‍वस्‍थ और पौष्टिक आहार का सेवन कीजिए। खाने में ताजे फल और हरी सब्जियों के साथ ओमेगा-3 फैटी एसिड भी शामिल कीजिए। image source - getty images

किताब पढ़ें

किताब पढ़ें
8/9

किताबें हमारे दिमाग की सबसे अच्‍छी दोस्‍त हैं, किताब पढ़ने से दिमागी कसरत होती है और यह बुद्धि बढ़ाने में सहयोग करता है। इसके अलावा कई शोधों में भी यह बात साबित हो चुकी है कि पढ़ने से तनाव और अवसाद भी दूर होता है। किताब पढ़ने से हमारी तार्किक क्षमता के साथ सोचने की क्षमता भी बढ़ती है। image source - getty images

भरपूर नींद है जरूरी

भरपूर नींद है जरूरी
9/9

भरपूर नींद लेने से कई प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं से निजात मिल जाती है। भरपूर नींद लेने से दिमाग को आराम मिलता है और इससे दिमाग की कोशिकायें अधिक सक्रिय हो जाती हैं। इसलिए कम से कम 7 से 9 घंटे की नींद जरूर लें। image source - getty images

Disclaimer