अरेंज मैरिज इन 8 कारणों से होती है बेहतरीन फैसला, जानें

एडवांस हो चुके इस सामाजिक परिवेश में अब भी ज्‍यादातर भारतीय अरेंज मैरेज को तरजीह देते हैं, इसे यूं ही नहीं एक समझदार फैसला भी माना जाता है, बल्कि इसके पीछे कई सकारात्‍मक पहलू भी जुड़े हैं।

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: Apr 02, 2015

समझदार फैसला है अरेंज्ड मैरेज

समझदार फैसला है अरेंज्ड मैरेज
1/9

बदले हुए सामाजिक परिवेश में शायद यह बात अभी भी आपको नागवार लेकिन यह सच है कि लोग लव मैरेज की तुलना में अरेंज मैरेज करना ज्‍यादा पसंद कर रहे हैं। एक ऑनलाइन मैचमेकिंग सर्विस ट्रूल मैडली डॉट कॉम द्वारा कराए गए इस सर्वे की मानें तो 60 प्रतिशत से अधिक लोग परिवार वालों की मर्जी से शादी करना पसंद करते हैं। अरेंज मैरेज का सबसे सकारात्‍मक पहलू यह है कि इसे दोनों पक्ष दिल से स्‍वीकार करते हैं। आगे की स्‍लाइड में जानिये अरेंज मैरेज का चुनाव करना किन-किन लिहाज से फायदेमंद है। Image Courtesy : Getty Images

सास-ससुर का प्‍यार

सास-ससुर का प्‍यार
2/9

नई नवेली दुल्‍हन को नए घर में अडजस्‍ट होने में काफी समय लगता है। लेकिन हमारे देश के कई घरों में आज भी लव मैरेज को सर्पाट नहीं मिलता। जिसके चलते कई प्रकार की समस्‍याओं को सामना करना पड़ता है। लेकिन अरेंज मैरेज में अपनी पसंद की बहू के आने के कारण सास-ससुर का पूरा सहयोग मिलता है। इसके कारण लड़की को लोगों के साथ तालमेल बिठाने में अधिक वक्‍त नहीं लगता। Image Courtesy : Getty Images

परिवार के साथ अच्‍छा तालमेल

परिवार के साथ अच्‍छा तालमेल
3/9

अरेंज्‍ड मैरेज दोनों परिवारों की रजामंदी के बाद ही आगे बढ़ती है। इसका अर्थ यह है कि दोनों परिवार के लोग एक-दूसरे के विचारों और रहन-सहन से पूरी तरह से सहमत है। उनमें कुछ भी ऐसा छिपा हुआ नहीं होता जिससे बाद में दोनों के रिश्‍ते में परेशानी पैदा हो।  Image Courtesy : Getty Images

2 लोगों नहीं 2 परिवारों का मिलन

2 लोगों नहीं 2 परिवारों का मिलन
4/9

इस बात को आज भी माना जाता है कि शादी सिर्फ दो इंसानों में नहीं बल्कि दो परिवार के बीच होती है। आपके माता-पिता हमेशा सामान मूल्‍यों वाले इंसान को चुनते हैं। और जब परिवार एक सामान मूल्‍यों के होते हैं तो शादी शुदा जिंदगी भी खुशनुमा और आसान हो जाती है। आपके बच्‍चे भी समान जीवन शैली का अपनाकर, अपनी संस्कृति, धर्म या मान्यताओं के बारे में भ्रमित नहीं होते। Image Courtesy : Getty Images

परिवार का पूरा सपोर्ट

परिवार का पूरा सपोर्ट
5/9

लव मैरेज में आपको फैमिली सपोर्ट मिलने की कोई गारंटी नहीं होती, पर अरेंज मैरेज में आपके घरवाले आपके साथ होते है। जहां लव मैरेज में परिवार का सपोर्ट नहीं मिलने पर वह सुनी-सुनी लगती है वहीं दूसरी ओर आपकी शादी में चार चांद लगाने के लिए आपके रिश्तेदार भी जान लगा देते हैं।Image Courtesy : Getty Images

डेटिंग का भी मौका देती है अरेंज मैरेज

डेटिंग का भी मौका देती है अरेंज मैरेज
6/9

शादी तय होने के बाद शादी होने तक लड़के और लड़की को डेटिंग का मौका मिल जाता है। हालांकि पहले समय में इस तरह से मिलने को बुरा माना जाता था। लेकिन अब ऐसा नहीं है। शादी से पहले मिले इस समय में लड़का लड़की दोनों एक दूसरे की पसंद-नापसंद, जीवन के प्रति नजरिए और बाकी चीजों के बारे में काफी कुछ समझ लेते हैं।Image Courtesy : Getty Images

आर्थिक सुरक्षा देती है अरेंज मैरेज

आर्थिक सुरक्षा देती है अरेंज मैरेज
7/9

लव मैरेज में लड़कियां अक्‍सर लड़के की आर्थिक स्थिति को नजरअंदाज कर देती है। जिसके कारण शादी के बाद आर्थिक तंगी रिश्‍ते पर भारी पड़ने लगती है। लेकिन अरेंज मैरेज में माता-पिता सबसे पहले यहीं देखते हैं कि लड़के की आर्थिक स्थिति कैसी है। इससे भविष्‍य में आर्थिक रूप से समस्‍या आने की आशंका कम हो जाती है। Image Courtesy : Getty Images

रहस्यों में छिपा प्यार

रहस्यों में छिपा प्यार
8/9

लव मैरेज में एक दूसरे को पहले से जानने के कारण शादी के बाद आपमें एक दूसरे को जानने के लिए कुछ ज्‍यादा नहीं बचता। लेकिन अरेंज्ड मैरेज में ढेर सारे रहस्य होते हैं और इसीलिए इस दौरान एक-दूसरे के प्रति होने वाले आकर्षण में एक अलग ही किस्म का मजा होता है। और आपको धीरे-धीरे अपने होने वाले जीवनसाथी के प्रति प्यार भी महसूस होने लगता है। Image Courtesy : Getty Images

सहनशील बनाती है अरेंज मैरेज

सहनशील बनाती है अरेंज मैरेज
9/9

अरेंज्‍ड मैरेज में लड़का और लड़की शादी के बाद अधिक सहनशील हो जाते हैं। साथ ही उम्मीदें कम होने के कारण रिश्‍ते में सब कुछ बहुत आसान हो जाता है। लेकिन बहुत सारी लव मैरेज में शादी के बाद लड़का और लड़की अपने रिश्ते में धैये खो देते हैं, सिर्फ इसलिए क्‍योंकि वह अपने रिश्‍ते के लिए पहले से ही कई साल खर्च चुके होते हैं। Image Courtesy : Getty Images

Disclaimer