सभी स्‍वस्‍थ महिलाओं को पता होनी चाहिए पीसीओएस से जुड़े ये 8 तथ्य

यूं तो पीसीओएस समस्या के बारे मे जानने के लिए और बहुत कुछ है, लेकिन कोई भी इस बारे मे चर्चा नही करना चाहता। आइये पीसीओएस से जुड़ी ऐसी ही कुछ बातो के बारे मे चर्चा करते है, जिनके बारे मे शायद महिलाओ को जानकारी नही है।

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: Jul 16, 2015

पीसीओएस से जुड़े तथ्य

पीसीओएस से जुड़े तथ्य
1/9

क्या आपको गर्भधारण करने मे परेशानी हो रही है? या आपको मुँहासे की समस्या होने लगी है? और क्या कुछ दिनो से आपके बाल भी झड़ने लगे है? तो फिर आपमे पीसीओएस के कुछ अन्य लक्षण भी हो सकते है। महिला के शरीर में हार्मोन असंतुलन के कारण पीसीओएस अक्सर एक अनियमित मासिक धर्म चक्र का परिणाम होता है। हालांकि इस समस्या के बारे मे जानने के लिए और बहुत कुछ है, लेकिन कोई भी इस बारे मे चर्चा नही करना चाहता। आइये पीसीओएस से जुड़ी ऐसी ही कुछ बातो के बारे मे चर्चा करते है, जिनके बारे मे शायद महिलाओ को जानकारी नही है। लेकिन हर स्वस्थ महिला को इस बारे मे पता होना चाहिए।Image Soure : Getty

एक बार चेकअप पर्याप्त नहीं

एक बार चेकअप पर्याप्त नहीं
2/9

पीसीओएस दुनिया भर में महिलाओं में पाई जाने वाला एक सामान्य स्थिति है। हालांकि इस समस्या के सही कारण अभी भी एक रहस्य बना हुआ है। विज्ञान इसमे जीन की मुख्य भूमिका मानता है लेकिन पीसीओएस का अक्सर आसानी से निदान नहीं होता है। इसलिए, एक ही चेकअप इसके लिए पर्याप्त नहीं हो सकता। इसलिए अगर आपको पीसीओएस के लक्षण जैसे अनियमित पीरियड, चेहरे पर बाल, मूड मे बदलाव आदि दिखते हैं, तो नियमित अंतराल पर अपनी जाँच करवाए। Image Soure : Getty

पीसीओएस से मधुमेह का खतरा

पीसीओएस से मधुमेह का खतरा
3/9

पीसीओएस के लक्षणों में से एक इंसुलिन प्रतिरोध है। ये आपके शरीर में शर्करा की प्रक्रियाओं का तरीका है, जो बाद में मधुमेह के लिए नेतृत्व कर सकता है। इसलिए पीसीओएस की समस्या होने पर उच्च चीनी प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ से बचें।Image Soure : Getty

पीसीओएस से अवसाद का खतरा

पीसीओएस से अवसाद का खतरा
4/9

कई महिलाओं को इस बारे में पता नहीं हैं कि अवसाद भी पीसीओएस का एक लक्षण है। इसलिए अगर आपको नींद, खाने और आराम में दिक्कत महसूस हो, या आपको हर समय उदास या डिप्रेस महसूस हो तो है अपने डॉक्टर या तुरंत एक काउंसलर से परामर्श करें। ये अवसाद के शुरुआती संकेत हो सकते हैं।Image Soure : Getty

चिकित्सा सहायता के बिना पीसीओएस की समस्या बढ़ सकती है

चिकित्सा सहायता के बिना पीसीओएस की समस्या बढ़ सकती है
5/9

पीसीओएस की समस्या होने में कोई शर्म नहीं है। समस्या के लक्षणों को दिखने पर चिकित्सा सहायता प्राप्त करने की सलाह दी जाती है। सही और लगातार दवा लेने से आप पीसीओएस की समस्या से बेहतर डील  और रोका जा सकता हैं।Image Soure : Getty

आप अभी भी गर्भ धारण कर सकते हैं

आप अभी भी गर्भ धारण कर सकते हैं
6/9

कई महिलाओं को इस बारे मे चिंता बनी रहती है, पीसीओएस की समस्या होने के बाद वो गर्भधारण कर सकती हैं या नहीं। खैर, चिकित्सा विज्ञान के अनुसार पीसीओएस से पीड़ित महिलाओं मे गर्भधारण मे कठिनाई हो सकती है लेकिन यह असंभव नहीं है। वास्तव में, आपकी भी नॉर्मल डेलीवेरी हो सकती है। Image Soure : Getty

आहार और एक्‍सरसाइज बहुत जरूरी

आहार और एक्‍सरसाइज बहुत जरूरी
7/9

प्रभावी ढंग से पीसीओएस के उपचार में नियमित रूप से दवा, आहार और व्यायाम प्रमुख भूमिका होती है। प्रोटीन युक्त भोजन और लहसुन, अदरक और तुलसी की तरह जड़ी बूटियों इंसुलिन के स्तर को बनाए रखने में मदद करती हैं। नियमित रूप से 30 मिनट की वॉक एक स्वस्थ जीवन शैली को बनाए रखने में आपकी मदद करता हैं।Image Soure : Getty

पीसीओएस पूरे जीवन नहीं होता

पीसीओएस पूरे जीवन नहीं होता
8/9

कई डॉक्टरों का मानना है कि पीसीओएस को ठीक नहीं किया जा सकता है। इसे केवल खराब होने से नियंत्रित किया जा सकता है। लकीन ऐसा सभी मामलों में ऐसा नही होता। उचित दवा और स्वस्थ जीवन शैली के साथ कई महिलाओं, पीसीओएस का इलाज किया जाया जा सकता है।Image Soure : Getty

आप अकेले नहीं हैं

आप अकेले नहीं हैं
9/9

पीसीओएस अक्सर व्यस्त जीवन शैली और अस्वास्थ्यकर आहार के कारण होने वाली महिलाओं की एक आम समस्या है। चिकित्सा और संतुलित मात्रा के साथ चीनी का सेवन पीसीओएस को नियंत्रण और इलाज कर सकते हैं।Image Soure : Getty

Disclaimer