हर पुरुष के लिए जरूरी है ये सात सप्‍लीमेंट

By:Nachiketa Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Oct 15, 2014
अक्‍सर पुरुषों को नियमित आहार द्वारा शरीर के लिए जरूरी पोषक तत्‍व नहीं मिल पाते हैं और इनके कारण कई प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍यायें होती हैं, इसकी पूर्ति के लिए सप्‍लीमेंट लेना बहुत जरूरी है।
  • 1

    जरूरी है सप्‍लीमेंट

    शरीर के अंगों को सही तरीके से काम करने के लिए और हमारी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए सप्‍लीमेंट बहुत जरूरी होते हैं। कई बार हमें नियमित आहार में जरूरी पोषक तत्‍व नहीं मिल पाते और इनकी कमी के कारण कई प्रकार की स्‍वास्थ्‍य समस्‍यायें भी शुरू होने लगती हैं। अगर पुरुष अपनी बॉडी को बेहतर बनाना चाहते हैं तो स्‍वस्‍थ आहार के साथ-साथ इन सप्‍लीमेंट का सेवन करना बहुत जरूरी है।

    image source - getty images

    जरूरी है सप्‍लीमेंट
    Loading...
  • 2

    ओमेगा-3 फैटी एसिड

    पुरुषों के लिए ओमेगा 3 फैटी एसिड बहुत जरूरी है, यह दिल और दिमाग को मजबूत बनाता है। इसके अलावा ओमेगा 3 फैटी एसिड धमनियों को नुकसान होने से बचाता है। यह सप्‍लीमेंट केवल मछली में पाया जाता है, अगर पौधों की बात करें तो ओमेगा 3 फैटी एसिड शैवाल में पाया जाता है। नियमित रूप से 1000-2000 मिग्रा ओमेगा 3 फैटी एसिड की जरूरत नियमित रूप से होती है, अगर आप इतना नहीं ले पा रहे हैं तो कम से 500 मिग्रा लें।

    image source - getty images

    ओमेगा-3 फैटी एसिड
  • 3

    विटामिन डी

    जैसा कि आप जानते हैं हड्डियों के लिए विटामिन डी बहुत जरूरी होता है। नेशनल कैंसर इंस्‍टीट्यूट द्वारा किये गये एक शोध के अनुसार, पैंक्रियाटिक और कोलोरेक्‍टल कैंसर से ग्रस्‍त लोगों में विटामिन डी की कमी देखी गई, इसके अलावा इस शोध में यह बात भी सामने आयी कि विटामिन डी दिल की बीमारियों से बचाने का भी काम करता है। इसलिए नियमित रूप से 1000 आईयू विटामिन डी नियमित लेना चाहिए।

    image source - getty images

    विटामिन डी
  • 4

    लाइकोपीन

    यह एंटीऑक्‍सीडेंट का बहुत अच्‍छा स्रोत है और यह कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से बचाता है। नेशनल कैंसर इंस्‍टीट्यूट द्वारा किये गये शोध के अनुसार लाइकोपीन रक्‍त संचार को सुचारु करने में मदद करता है जिसके कारण प्रोस्‍टेट कैंसर होने का खतरा कम हो जाता है। लाइकोपीन की कमी खाने के जरिये पूरी की जा सकती है, सबसे अधिक लाइकोपीन टमाटर में पाया जाता है।

    image source - getty images

    लाइकोपीन
  • 5

    कोएंजाइम क्‍यू10

    यह एक प्रकार का प्राकृतिक एंटीऑक्‍सीडेंट है जो हृदय की मांसपेशियों को मजबूत बनाता है, शरीर के हिस्‍सों में होने वाली सूजन को कम करता है और सबसे बड़ी बात ढलती उम्र में होने वाली पार्किंसंस बीमारी के खतरे को कम करता है। अगर आप इसे रोज नहीं ले सकते हैं तो कोई बात नहीं, लेकिन सप्‍ताह में इसका इतना सेवन करें कि रोज के हिसाब से 100 मिग्रा हो जाये।

    image source - getty images

    कोएंजाइम क्‍यू10
  • 6

    मल्‍टीविटामिन

    मल्‍टीविटामिन शरीर के विकास के लिए बहुत जरूरी है। आस्ट्रेलिया की मोनाश यूनिवर्सिटी द्वारा किये गये शोध की मानें तो मल्‍टी विटामिन के सेवन से याददाश्त को बढ़ाने के साथ ही मानसिक विकारों को कम किया जा सकता है। मल्‍टीविटामिन में विटामिन ए, सी, डी, ई और के आते हैं। लेकिन मल्‍टीविटामिन का सेवन अधिक मात्रा में न करें।

    image source - getty images

    मल्‍टीविटामिन
  • 7

    प्रोवॉयोटिक्‍स

    यह ऐसे बैक्‍टीरिया होते हैं जो हमारे पेट की आंत में पाये जाते हैं लेकिन शरीर के लिए बहुत जरूरी होते हैं। यह हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करते हैं और पाचन संबंधी समस्‍याओं को दूर भी करते हैं। दूध के अलावा सोया के उत्‍पादों में ये प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं। अगर इनकी पूर्ति नहीं हो पा रही है तो आप इनके सप्‍लीमेंट भी ले सकते हैं।

    image source - getty images

    प्रोवॉयोटिक्‍स
  • 8

    फोलिक एसिड

    फोलिस एसिड महिलाओं के लिए जरूरी माना जाता है और चिकित्‍सक यह सलाह देते हैं कि इनका सेवन गर्भ धारण करने से पहले करना चाहिए। लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि यह पुरुषों के लिए जरूरी नहीं है। अमेरिका में हुए एक नये शोध के अनुसार, पुरुषों को फोलिक एसिड का सेवन जरूर करना चाहिए, इससे उनकी स्‍पर्म काउंटिंग बढ़ती है और यह प्रजनन क्षमता को भी बढ़ाता है।

    image source - getty images

    फोलिक एसिड
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK