गर्मियों में वरदान हैं ये 6 सब्जियां, नहीं लगेगी लू और पेट को मिलेगी ठंडक

गर्मी के मौसम में खान-पान में जरा सी भी लापरवाही आपको बीमार बना सकती है। सर्दियों के मुकाबले गर्मियों के मौसम में पाचन शक्ति कमजोर हो जाती है। इस मौसम में ज्यादा तला-भुना या मसालेदार खाना नहीं खाना चाहिए। इसका आपके हाजमे पर बुरा असर पड़ता है। आप फूड पॉयजनिंग के शिकार भी हो सकते हैं। गर्मियों में खाना, हल्का व आसानी से पचने वाला होना चाहिए। अगर आप गर्मियों में हीट स्ट्रोक या लू और बॉडी हीट से बचना चाहते हैं, तो आपको इन फलों और सब्जियों का सेवन करना चाहिए।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Apr 30, 2018

लौकी

लौकी
1/6

लौकी में लगभग 96 प्रतिशत पानी होता है। यानी सलाद में जो काम खीरा करता है, सब्जी में वही काम लौकी करती है। लौकी ठंडी होती है। और यह हमारे लीवर को भी दुरुस्त रखती है। इसमें कैलोरी की मात्रा कम होती है, जिस वजह से इसे आसानी से पचाया जा सकता है। लौकी गर्मियों के मौसम में आपके पेट के लिए काफी अच्छी रहती है, और पेट में गैस बनने जैसी समस्या को दूर करती है। इसमें फाइबर होने की वजह से यह अल्सर, पाइल्स और गैस के रोगियों के लिए काफी फायदेमंद सब्जी है। क्योंकि फाइबर होने के कारण लौकी जल्दी पच जाती है, और शरीर में गैस की समस्या नहीं होती।

प्याज

प्याज
2/6

गर्मियों के मौसम में प्याज आपके लिए वरदान है। प्याज में विटामिन सी, विटामिन बी-6 और मैग्नीज की मात्रा भरपूर होती है। इसके अलावा प्याज में कैल्शियम, आयरन, फॉलेट, मैग्नीशियम, फास्फोरस और पोटैशियम होता है। प्याज में क्वैरसेटिन नामक एंटीऑक्सिडेंट भी होता है। इस मौसम में कच्चा प्याज खाने से आपको लू नहीं लगेगी इसलिए प्याज का भरपूर सेवन कीजिए। सब्जी के साथ-साथ प्याज को कच्चा सलाद के साथ खा सकते हैं।

करेला

करेला
3/6

करेले का स्वाद भले ही कड़वा हो, लेकिन सेहत के लिहाज से यह बहुत फायदेमंद होता है। करेला खाने के बाद आसानी से पच जाता है। करेले में फास्फोरस पाया जाता है जिससे कफ की शिकायत दूर होती है। करेले में प्रोटीन, कैल्शियम, कार्बोहाइड्रेट, फास्फोरस और विटामिन पाया जाता है। आइए हम आपको कडवे करेले के गुणों के बारे में बताते हैं। करेला हमारी पाचन शक्ति को बढाता है जिसके कारण भूख बढती है। करेले ठंडा होता है, इसलिए यह गर्मी से पैदा हुई बीमारियों के उपचार के लिए फायदेमंद है।

ग्रीन बीन्स

ग्रीन बीन्स
4/6

हरी बीन्‍स ऐसी सब्जी है जिसके सेवन से शरीर को जरूरी पोषक तत्‍व आसानी से मिल जाते हैं। इसमे पर्याप्त मात्रा में विटामिन ए, सी के अैर बी-6 पाया जाता है। यह फॉलिक एसिड का भी एक अच्छा स्त्रोत हैं। इसके अलावा इनमें कैल्शिोयम, सिलिकॉन, आयरन, मैगनीज, बीटा कैरोटीन, प्रोटीन, पोटैशियम और कॉपर की भी जरूरी मात्रा होती है। हरी बीन्स में पर्याप्त मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जिससे इम्यून सिस्टम बेहतर बनता है। ये कोशिकाओं की क्षति को ठीक करके नई कोशिकाओं के बनने को प्रोत्साहित करता है। इसे भी पढ़ें:- भुने चने में होते हैं प्रोटीन और फाइबर, इस तरह खाने से घटता है मोटापा

सीताफल

सीताफल
5/6

सीताफल यानी कद्दू खनिज तत्वों से भरपूर होता है। कच्चे सीताफल का रस शरीर से विषैले तत्वों को बाहर निकालता है। एसिडिटी दूर करने और वजन कम करने में भी सीताफल बहुत फायदेमंद होता है। इसके बीज का सेवन करने से प्रोस्टेट कैंसर के मरीजों को राहत मिलती है। इसमें आयरन, मैगनीशियम, सेलेनियम और फास्फोरस होता है। जिन लोगों का पेट गरमी और मौसम में गड़बड़ा जाता है, उनके लिए यह बहुत अच्छा है।

टमाटर

टमाटर
6/6

दिन में रोज एक टमाटर खाएं और बीमारियों को दूर भगाएं। टमाटर में विटामिन-ए और सी, फोलेट, पोटेशियम, फाइबर और सभी प्रकार के एंटीऑक्सी डेंट होते हैं। इसे खाने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है और ब्लड प्रेशर नियंत्रण में रहता है। दिल के मरीज के लिए टमाटर बहुत फायदेमंद होता है। इसे भी पढ़ें:- आहार विशेषज्ञों का दावा, हर किसी को खाने चाहिए ये 10 हेल्दी सूपरफूड्स

Disclaimer