गर्मी में आपको तरोताजा रखेंगे ये 12 पेय पदार्थ

आइए जानते हैं, कुछ घरेलू शीतल पेयों के बारे में जिनका सेवन गर्मी में करने से शरीर को तृप्ति मिलती है। और आप गर्मी की तपिश और कई तरह की बीमारियों से बचे रह सकते हैं।

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: Apr 15, 2014

गर्मियों के पेय

गर्मियों के पेय
1/13

गर्मियों में खान-पान पर विशेष ध्‍यान देने की जरूरत होती है। क्‍योंकि गर्मी के दिनों में पसीना अधिक आने के कारण शरीर से जरूरी मिनरल निकल जाते है। डिहाइड्रेशन की समस्‍या न हो इसलिए डाक्‍टर हमें ज्‍यादा से ज्‍यादा पानी ओर पेय पदार्थों का सेवन करने की सलाह देते है। तो इन गर्मियों में आप और आपका परिवार इस समस्‍या से रूबरू न हो इसके लिए अजमाएं ऐसे ही कुछ हेल्‍दी ड्रिंक जिनका सेवन कर आप स्‍वस्‍थ रहने के साथ गर्मी की तपिश को भी आसानी से दूर कर सकेंगे।

नींबू पानी

नींबू पानी
2/13

नींबू पानी भारत का पारंपरिक पेय पदार्थ है। गर्मियों में नींबू पानी प्‍यास बुझाने के साथ-साथ बार बार-बार जी मिचलाने और अजीर्ण रोग में रामबाण औषधि के रूप में काम करता है। इसे बनाने के लिए एक गिलास पानी में एक नींबू, चीनी (स्‍वादानुसार) और काला नमक मिला लें।

सत्तू

सत्तू
3/13

सत्तू पेट की गर्मी को शांत करता है इसलिए इसे 'स्‍टमक कूलेंट' भी कहते है। यूं तो बाजार में सत्तू उपलब्‍ध होता है। लेकिन आप इसे स्‍वयं घर पर भी बना सकते है। इसको बनाने के लिए जौ, चना और गेहूं को बराबर मात्रा में पिसवा लें और इसे पानी में मिलाकर पीये। स्‍वादनुसार आप इसे नमकीन या मीठा पी सकते हैं।

पुदीने का शर्बत

पुदीने का शर्बत
4/13

गर्मी में पुदीना बहुत फायदेमंद होता है। इसमें प्राकृतिक रूप से पिपरमेंट होता है। यह लू, बुखार, जलन, उल्‍टी और गैस की समस्‍याओं में काफी लाभ पहुंचाता है। इसको आसानी से तैयार किया जा सकता है। इसको बनाने के लिए पुदीने की पत्तियों को पानी में मिलाकर पीस लें और उसमें स्‍वादनुसार काला नमक, चीनी और भूना हुआ जीरा मिलाये।

ठंडाई

ठंडाई
5/13

गर्मी को दूर करने के लिए आप ठंडाई का सेवन कर सकते है। बाजार में बने बनाए ठंडाई के कई फ्लेवर उपलब्‍ध है। बस जरूरत है दूध और चीनी की। इसको बनाने के लिए दो चम्‍मच ठंडाई और स्‍वादनुसार चीनी को एक गिलास दूध में अच्‍छी तरह से मिलाये। फिर मस्‍त होकर खुद भी पीये और दूसरों को भी पिलाये।

बेल का शर्बत

बेल का शर्बत
6/13

बेल का शर्बत गर्मी को दूर करने के साथ अतिसार, पेचिश और रक्तविकार वाले लोगों के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके अलावा अल्सर से पीड़ित लोगों और मोटापा कम करने के लिए यह शर्बत अत्यंत गुणकारी साबित होता है। इसका शरबत हर किसी को पसंद आता है। बेल का शरबत बनाने के लिए इसका गूदा निकालें। इस गूदे में दोगुना पानी मिलाकर गूदे को अच्‍छे से मसलकर चलनी से छान लें। अब इसमें स्वादानुसार चीनी मिलाएं।

ताजे फलों का जूस

ताजे फलों का जूस
7/13

फलों का जूस पीने से गर्मियों में तुरंत एनर्जी आ जाती है। इसके लिए आप मौसमी, संतरा, खरबूजा और सेब का इस्‍तेमाल कर सकते है। बिना चीनी के जूस पीना ज्‍यादा फायदेमंद होता है क्‍योंकि फलों में प्राकृतिक मिठास पहले से ही मौजूद होती है। फलों का जूस आप खाने के पहले या बाद में कभी भी पी सकते हैं।

गन्ने का रस

गन्ने का रस
8/13

गर्मी में विटामिन और मिनरल से भरपूर गन्ने के रस का सेवन करना स्वास्थ्य की दृष्टि से बहुत ही उत्तम होता हैं। गन्ने का रस दांतों की रक्षा करने के साथ सांसों में भी ताजगी बनाए रखता है। इसके अलावा ग्लूकोज का अच्छा स्त्रोत होने के कारण यह शरीर में ऊर्जा का स्तर भी बनाए रखता है।

तरबूज का जूस

तरबूज का जूस
9/13

गर्मी में तरबूत का जूस प्‍यास बुझाने के साथ-साथ ताजगी भी देता है। एंटी ऑक्सीडेंट्स और पोटेशियम से भरपूर तरबूज हृदय, कैंसर और डायबिटीज से रक्षा करता है। इसके जूस को बनाने के लिए तरबूज को मिक्‍सर में पीसकर छान लें और स्‍वादानुसार चीनी, काला नमक और चाट मसाला मिलाकर सर्व करें।

छाछ

छाछ
10/13

गर्मियों के लिये छाछ अमृत के समान होती है। आयुर्वेद में भोजन के बाद छाछ पीना स्वास्थ्य के लिए अच्‍छा माना जाता है। खाने के साथ इसे लेने से पाचन अच्‍छा बना रहता है। साथ में यह आसानी से पच भी जाती है। इसको बनाने के लिए आपको  दही, भूना हुआ जीरा पाउडर, पुदीना पाउडर, हींग, काला नमक और ठंडे पानी की जरूरत होती है। एक कप दही लेकर उसे फैट लें फिर उसमें एक कप ठंडा पानी और सभी मसाले डालकर मिलाएं।

Disclaimer