शुष्‍क त्‍वचा होने के इन दस कारणों से अनजान हैं आप

त्‍वचा का शुष्‍क होना सौंदर्य में दाग की तरह है, सर्दियों के मौसम में त्‍वचा का शुष्‍क होना सामान्‍य बात हो सकती है, लेकिन अगर सामान्‍य दिनों में भी त्‍वचा में खुष्‍की है तो इसके अन्‍य कारण भी हो सकते हैं।

Nachiketa Sharma
Written by: Nachiketa SharmaPublished at: Sep 18, 2014

त्‍वचा का शुष्‍क होना

त्‍वचा का शुष्‍क होना
1/11

त्‍वचा का शुष्‍क होना सौंदर्य में दाग की तरह हो सकता है। सर्दियों के मौसम में त्‍वचा का शुष्‍क होना सामान्‍य बात होती है। लेकिन अगर सामान्‍य दिनों में भी त्‍वचा में खुष्‍की है तो इसके अन्‍य कारण भी हो सकते हैं। कोलेजन के कम निर्माण होने के कारण त्‍वचा में नमी की कमी होने लगती है और त्‍वचा सूखी यानी ड्राई होने लगती है। इसके कुछ कारण हैं शायद उनसे आप अनजान हैं। image source - getty images

कठोर साबुन का प्रयोग

कठोर साबुन का प्रयोग
2/11

आप जिस साबुन का प्रयोग करते हैं उसका सीधा असर आपकी त्‍वचा पर पड़ता है। अगर आपने कठोर साबुन का प्रयोग किया है तो इसके कारण आपकी त्‍वचा शुष्‍क हो सकती है। कपड़ा धोने वाला साबुन ज्‍यादा कठोर होता है और यह त्‍वचा के संपर्क में आने के बाद त्‍वचा को शुष्‍क बना देता है। image source - getty images

डायबिटीज की वजह से

डायबिटीज की वजह से
3/11

त्‍वचा का सूखना डायबिटीज के प्राथमिक लक्षणों में से एक हो सकता है। अगर बिना किसी कारण आपकी हाथों और पैरों के साथ-साथ शरीर के अन्‍य अंगों की त्‍वचा में सूखापन आ रहा है तो यह डायबिटीज का लक्षण हो सकता है। आपको तुरंत डायबिटीज की जांच करानी चाहिए। शरीर में शुगर की मात्रा अधिक होने से निर्जलीकरण होता है और यही त्‍वचा के सूखेपन के लिए जिम्‍मेदार भी है। image source - getty images

सूर्य के कारण

सूर्य के कारण
4/11

अगर आपकी त्‍वचा सूर्य के संपर्क में आकर क्षतिग्रस्‍त हुई है तो यह त्‍वचा के ड्राई होने कारण हो सकता है। सूर्य की हानिकारक अल्‍ट्रा-वॉयलेट किरणें त्‍वचा को नुकसान पहुंचाने के साथ-साथ त्‍वचा को शुष्‍क भी बनाती हैं। ये किरणें त्‍वचा की आंतरिक सतह में जाकर कोलेजन के निर्माण में अवरोध पैदा करती हैं और इसके परिणाम स्‍वरूप त्‍वचा सूखने लगती है। image source - getty images

अधिक देर तक तैरना

अधिक देर तक तैरना
5/11

स्‍वीमिंग पूल में तैरना आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदेमंद हो सकता है, लेकिन अधिक देर तक क्‍लोरीन युक्‍त पानी में रहने से बालों और त्‍वचा को नुकसान होता है। क्‍लोरीन के संपर्क में आने त्‍वचा की नमी कम होने लगती है और त्‍वचा शुष्‍क हो जाती है। image source - getty images

उम्र बढ़ना

उम्र बढ़ना
6/11

उम्र बढ़ने के साथ कई समस्‍यायें होने लगती हैं, त्‍वचा का सूखा होना भी इसमें शामिल है। 40 की उम्र के बाद महिलाओं में यह समस्‍या अक्‍सर देखी जाती है। उम्र बढ़ने के साथ-साथ कोलेजन का निर्माण कम होने लगता है और परिणाम स्‍वरूप त्‍वचा शुष्‍क होने लगती है। image source - getty images

दवाओं का सेवन

दवाओं का सेवन
7/11

अगर आप किसी बीमारी से ग्रस्‍त हैं और उसके उपचार के लिए विभिन्‍न प्रकार की दवाओं का सेवन कर रहे हैं तो इसका साइड-इफेक्‍ट आपकी त्‍वचा पर भी दिखेगा। दवाओं के अधिक सेवन के कारण यह समस्‍या होती है। ताजे फल और हरी सब्जियों का सेवन करके इस समस्‍या से कुछ हद तक छुटकारा मिल सकता है। image source - getty images

त्‍वचा की समस्‍या

त्‍वचा की समस्‍या
8/11

अगर आप किसी प्रकार की त्‍वचा की समस्‍या से ग्रस्‍त हैं तो इसके कारण भी त्‍वचा में शुष्‍की हो सकती है। सोरायसिस और एग्जिमा कुछ ऐसी ही त्‍वचा की समस्‍यायें हैं जो कोलेजन के निर्माण को प्रभावित कर सकती है। एग्जिमा के कारण ही त्‍वचा की कई प्रकार की समस्‍यायें होती हैं। image source - getty images

गरम पानी से स्‍नान

गरम पानी से स्‍नान
9/11

अगर आपकी आदत हमेशा गरम पानी से स्‍नान करने की है, तो आपकी त्‍वचा शुष्‍क हो सकती है। दरअसल गरम पानी के संपर्क में आने से एपीडर्मिस यानी त्‍वचा की पहली परत प्रभावित होती है और इसके कारण ही त्‍वचा शुष्‍क हो सकती है। image source - getty images

हाइपोथॉयराइडिज्‍म के कारण

हाइपोथॉयराइडिज्‍म के कारण
10/11

अगर आप हापोथॉयराइडिज्‍म बीमारी से ग्रस्‍त हैं तो आपकी त्‍वचा शुष्‍क हो सकती है। इस समस्‍या में थॉयराइड ग्रंथि कम मात्रा में थॉयराइड हार्मोन का निर्माण करती है जो जिसके कारण पसीने की ग्रंथियां प्रभावित होती हैं और यही त्‍वचा के सूखने का कारण होता है। इस समस्‍या में मॉइश्‍चराइजर और कोल्‍ड क्रीम का प्रयोग भी नहीं करना चाहिए। image source - getty images

Disclaimer