गर्भावस्था में कैसे बनाएं घर और ऑफिस में तालमेल

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 04, 2012
Quick Bites

  • गर्भावस्था के दौरान वजन बढ़ने के कारण शरीर नहीं रहता ज्यादा ऊर्जावान।
  • गर्भावस्था के दौरान ऑफिस और घर में ज्यादा भागदौड़ करने से बचें।
  • पती का सहयोग लें, और दिन भर के घर व ऑफिस के काम को बांट लें।
  • ऑफिस आने जाने के लिए सुरक्षित व आरामदायक साधन का प्रयोग करें।

गर्भावस्था में कैसे बनाएं घर और ऑफिस में तालमेल
 
गर्भवती महिलाओं के लिए सबसे मुश्किल होता है घर और ऑफिस में तालमेल बनाना। क्योंकि गर्भावस्था के दौरान महिला के शरीर का वजन बढता है और शरीर उतना ज्यादा ऊर्जावान नहीं रह पाता है जिसके कारण दोहरी जिम्मेदारी उठाने में समस्या हो सकती है। गर्भावस्था के शुरूआती दिनों में दिक्कत नहीं आती है लेकिन वक्त के साथ समस्याएं बढ़ती जाती हैं। आइए हम बताते हैं कि गर्भवती महिलाएं ऑफिस और घर में कैसे तालमेल बना सकती हैं। 


गर्भावस्था में ऑफिस और घर में तालमेल बनाने के तरीके – 

समय निर्धारित कीजिए – 
गर्भावस्था में सबसे ज्यादा मुश्किल ऑफिस और घर के काम के बीच समय का तालमेल बिठाना। ऑफिस की टाइमिंग और काम के दबाव के कारण महिलाओं के पास समय का अभाव होता है। कई बार तो ऑफिस के काम की वजह से घर का काम प्रभावित होता है। इसलिए सबसे पहले ऑफिस और घर के काम के बीच समय का निर्धारण कीजिए। 


भागदौड़ करने से बचें – 
गर्भावस्था के दौरान ऑफिस और घर में ज्यादा भागदौड़ करने से बचिए। क्योंकि, ज्यादा भागदौड़ करने से थकान होगी। जो जरूरी हो वही काम कीजिए। ऑफिस में अतिरिक्त बोझ लेने से बचें। ऑफिस का काम निपटाने के बाद घर में नई रेसिपी बनाने से बचिए। अगर हो सके तो ज्यादा मेहनत वाले काम को करने मत कीजिए।  


मानसिक रूप से तैयार रहें- 
अगर गर्भावस्था के दौरान आपके ऊपर घर और ऑफिस दोनों की जिम्मेदारी है तो इसके लिए मानसिक रूप से अपने को तैयार कीजिए। इस बात को लेकर ज्यादा परेशान मत होइए कि आपसे घर और ऑफिस का काम एक साथ नहीं हो पाएगा। गर्भावस्था के दौरान अपने बॉस को इस बात के लिए राजी कीजिए कि वो आपके ऊपर काम का ज्यादा दबाव ना डालें। आप ऑफिस का काम ऑफिस में ही निपटाने की कोशिश कीजिए। ऑफिस के काम को घर पर निपटाने के बारे में बिलकुल मत सोचिए। 


पति से सहयोग लीजिए – 
गर्भावस्था के दौरान ऑफिस और घर के बीच तालमेल बिठाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है पति का सहयोग। आपके पति ऑफिस के काम में आपका सहयोग भले ही न कर पायें लेकिन घरेलू काम में वह आपका हाथ बंटा सकते हैं। इसलिए घर के छोटे-छोटे काम के लिए पति का सहयोग जरूर लीजिए। घरेलू काम को निपटाने के लिए अगर आपके पति आपकी मदद करते हैं तो आपके शरीर को कुछ हद तक आराम मिलेगा। 


समय पर जांच कराएं – 
गर्भवती महिलाओं के लिए ऑफिस और घर की दोहरी जिम्मेदारी होने के कारण आपके पास समय का बिलकुल अभाव होता है। जिसके कारण गर्भवती महिलाएं समय पर अपनी जांच नहीं करवा पाती हैं, जो कि मां और शिशु दोनों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। इसलिए ऑफिस और घर के काम से समय निकाल जरूरी चेक-अप करवाइए। 

गर्भवती महिला के लिए घर और ऑफिस में तालमेल बिठाना बहुत मुश्किल होता है। लेकिन गर्भावस्था में अगर कुछ बातों का ध्यान रखा जाए तो कुछ हद तक ऑफिस और घर में तालमेल बिठाया जा सकता है। 


जब आप जॉब करते समय मां बनने के बारे में सोचती हैं तो रह-रह कर दिल में कई सवाल उठने लगते हैं। जैसे खाने-पीने का ध्यान कैसे रखेंगी,  ऑफिस के इतने सारे काम और भाग दौड़ का होने वाले बच्चे पर कोई दुष्प्रभाव तो नहीं पड़ेगा, इस स्थिति में घर और ऑफिस को कैसे मैनेज करेंगी और ऐसे ही कई और सवाल। इसीलिए हम बता रहे हैं आपको कि कैसे गर्भावस्था में घर और ऑफिस में तालमेल बनाया जाए ताकी आप ऑफिस के साथ भी एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दे सकें और खुद भी तंदुरुस्त रहें।

garbhavastha me kaise banaye ghar aur office me taalmel

गर्भवती महिलाओं के लिए सबसे मुश्किल होता है घर और ऑफिस में तालमेल बनाना। क्योंकि गर्भावस्था के दौरान महिला के शरीर का वजन बढता है और शरीर उतना ज्यादा ऊर्जावान नहीं रह पाता है। जिसके कारण दोहरी जिम्मेदारी उठाने में समस्या हो सकती है। गर्भावस्था के शुरूआती दिनों में दिक्कत नहीं आती है लेकिन वक्त के साथ समस्याएं बढ़ती जाती हैं। आइए हम बताते हैं कि गर्भवती महिलाएं ऑफिस और घर में कैसे तालमेल बना सकती हैं। 

 

गर्भावस्था में ऑफिस और घर में तालमेल बनाने के तरीके – 


समय निर्धारित कीजिए –

गर्भावस्था में सबसे ज्यादा मुश्किल ऑफिस और घर के काम के बीच समय का तालमेल बिठाना। ऑफिस की टाइमिंग और काम के दबाव के कारण महिलाओं के पास समय का अभाव होता है। कई बार तो ऑफिस के काम की वजह से घर का काम प्रभावित होता है। इसलिए सबसे पहले ऑफिस और घर के काम के बीच समय का निर्धारण कीजिए। 

 

भागदौड़ करने से बचें – 

गर्भावस्था के दौरान ऑफिस और घर में ज्यादा भागदौड़ करने से बचिए। क्योंकि, ज्यादा भागदौड़ करने से थकान होगी। जो जरूरी हो वही काम कीजिए। ऑफिस में अतिरिक्त बोझ लेने से बचें। ऑफिस का काम निपटाने के बाद घर में कोई नई रेसिपी बनाने या कोई लया अक्पेरिमेंट करने से बचिए। अगर हो सके तो ज्यादा मेहनत वाले काम को करने मत कीजिए।  

 

मानसिक रूप से तैयार रहें- 

अगर गर्भावस्था के दौरान आपके ऊपर घर और ऑफिस दोनों की जिम्मेदारी है तो इसके लिए मानसिक रूप से अपने को तैयार कीजिए। इस बात को लेकर ज्यादा परेशान मत होइये कि आपसे घर और ऑफिस का काम एक साथ नहीं हो पाएगा। गर्भावस्था के दौरान अपने बॉस को इस बात के लिए राजी कीजिए कि वो आपके ऊपर काम का ज्यादा दबाव ना डालें। आप ऑफिस का काम ऑफिस में ही निपटाने की कोशिश कीजिए। ऑफिस के काम को घर पर निपटाने के बारे में बिलकुल मत सोचिए। दिमाग को शांत रखने के लिए सुबह थोड़े समय के लिए योग भी करें।

 

पति से सहयोग लीजिए –

गर्भावस्था के दौरान ऑफिस और घर के बीच तालमेल बिठाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है पति का सहयोग। आपके पति ऑफिस के काम में आपका सहयोग भले ही न कर पायें लेकिन घरेलू काम में वह आपका हाथ बंटा सकते हैं। इसलिए घर के छोटे-छोटे काम के लिए पति का सहयोग जरूर लीजिए। घरेलू काम को निपटाने के लिए अगर आपके पति आपकी मदद करते हैं तो आपके शरीर को कुछ हद तक आराम मिलेगा। 

 

समय पर जांच कराएं – 

गर्भवती महिलाओं के लिए ऑफिस और घर की दोहरी जिम्मेदारी होने के कारण आपके पास समय का बिलकुल अभाव होता है। जिसके कारण गर्भवती महिलाएं समय पर अपनी जांच नहीं करवा पाती हैं, जो कि मां और शिशु दोनों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। इसलिए ऑफिस और घर के काम से समय निकाल जरूरी चेक-अप करवाइए। समय पर भोजन करें और भूखी बिल्कुल न रहें। कुछ थोड़ा-थोड़ा हैल्दी खाती रहें। हो सके तो ऑफिस में ही कुछ अच्छा सा पौष्टिक खाने की चीजें मंगा कर दराज में रख लें।

 

गर्भवती महिला के लिए घर और ऑफिस में तालमेल बिठाना बहुत मुश्किल होता है। लेकिन गर्भावस्था में अगर कुछ बातों का ध्यान रखा जाए तो कुछ हद तक ऑफिस और घर में तालमेल बिठाया जा सकता है। 

 

Read More Articles on Pregnancy Care in Hindi.

 

Loading...
Is it Helpful Article?YES2 Votes 43598 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK