अच्छी नींद के 14 टिप्स

क्या आपको रात में पर्याप्त मात्रा में नींद नहीं आती? क्या आप रातभर अपने कमरे में  यहाँ से वहां घूमते रहते हैं? आप पूरी रात अपने बिस्तर में करवटें बदलते रहते हैं? क्या आपके मस्तिष्क में दिन में हुई घटनाएं घुमती रहती हैं? वाकई में, अच्छी नीं

लक्ष्मण सिंह
मानसिक स्‍वास्‍थ्‍यWritten by: लक्ष्मण सिंहPublished at: Mar 21, 2013
अच्छी नींद के 14 टिप्स

क्या आपको रात में पर्याप्त मात्रा में नींद नहीं आती? क्या आप रातभर अपने कमरे में  यहाँ से वहां घूमते रहते हैं? आप पूरी रात अपने बिस्तर में करवटें बदलते रहते हैं? क्या आपके मस्तिष्क में दिन में हुई घटनाएं घुमती रहती हैं? वाकई में, अच्छी नींद न मिलने के कारण जो कुंठा पैदा होती है वह आपको परेशान कर देती है। और रात में अच्छी नींद नहीं मिलने के कारण आपके अगले दिन की उत्पादकता पर प्रतिकूल असर हो सकता है।

इस बात पर हमेशा बहस होती रहती है कि एक आदमी को कितने घंटे की नींद लेनी चाहिए। कोई एक नियम सबपर लागू नहीं हो सकता। कुछ लोगों की नींद मात्र 4 घंटे में पूरी हो जाती है तो कुछ लोगों की नींद 8 घंटे में पूरी होती है। आमतौर पर एक व्यक्ति को 7-8 घंटे सोने की सलाह दी जाती है। लेकिन मरीज या बच्चे उससे ज्यादा घंटे भी सो सकते हैं।

आप  कितने घंटे सोते हैं यह बात महत्वपूर्ण नहीं है, लेकिन सोकर उठने के बाद आप तारो ताजा महसूस करते हैं या नहीं यह महत्वपूर्ण है। अगर सुबह आपको इच्छा के खिलाफ न उठाना पड़े या सुबह उठने पर आप एकदम तारो ताजा महसूस करें तो समझिये आपकी नींद पूरी हो गई है।

रात में आपको अच्छी नींद आई कि नहीं यह बात जानने के लिए पता करें कि क्या आप बिना अलार्म के उठ गए हैं। क्या सुबह उठने के बाद आप अपने भीतर बेचैनी तो महसूस नहीं करते?   

अच्छी नींद न मिलने से आपके व्यवसाय और आपकी कार्यशीलता पर  प्रतिकूल असर पड़ सकता है। तो आइये हम अच्छी नींद पाने के लिए कुछ उपायों के बारे में बात करते हैं:

  1. अपना कम्प्यूटर और टेलीविजन सोने से एक घंटा पहला बंद कर दें।
  2. आप तभी सोयें जब आपको नींद आये। इससे बिस्तर में जागने का समय कम हो जाएगा।
  3. अगर आप बिस्तर पर लेटने के 20 मिनिट के अंदर सो नहीं पाते तो नींद आने तक उठकर ऐसा काम करें जो कि उबानेवाला हो। इससे आपको अच्छी नींद आ जायेगी।      
  4. दिन में  न सोयें लेकिन अगर आप सोये बिना नहीं रह सकते तो सिर्फ आधा  एक घंटे के लिए सोयें, और वह भी दिन में 3 बजे से पहले।
  5. सोने और जागने के लिए रोज़ाना एक ही समय तय करें, और यह नियम छुट्टी के दिन भी पालें। इससे नींद का चक्र व्यवस्थित रहेगा और आप बेहतर महसूस करेंगे।
  6. अपने बिस्तर से टीवी ना देखें, और बिस्तर पर यौन क्रिया के अलावा कोई और काम न करें।
  7. बिस्तर पर जाने से लगभग 4 से 6 घंटे पहले कॉफ़ी, मदिरा, और निकोटिन का प्रयोग न करें। कॉफ़ी और निकोटिन उत्तेजक पदार्थ होते हैं जो आपकी नींद में खलल डालते हैं। मदिरा का सेवन आरंभ में आपको नींद दिला सकती है, लेकिन बाद में आपको नींद टुकड़ों में आएगी।
  8. रात के डिनर के बाद अगर आपको बिस्तर पर जाने से बहुत पहले  सुस्ती महसूस होती है, तो कुछ हल्का फुल्का काम करें  जैसे कि कुछ प्लेटें धोना, दोस्त से फ़ोन पर बात करना, अगले दिन की दफ्तर की  तैयारी करना वगैरह वगैरह। अगर आप सुस्ती के सामने हथियार डाल देंगे तो हो सकता है कि आप बीच रात में जाग उठें और आपको दोबारा  नींद न आये।   
  9. गर्मी के दिनों में  सोने से एक  डेढ़ घंटा पहले ठन्डे  पानी से नहा लें। इससे आपको  अच्छी नींद आएगी।
  10. यह निश्चित कर लें कि आपका बिस्तर और आपका बेडरूम आरामदेह है। अगर सोते वक्त आपको बहुत ठण्ड या गर्मी लग रहो हो तो आपको अच्छी नींद नहीं आएगी।  
  11. अगर आपका पेट खाली है तो आपकी नींद में बाधा पड़ सकती है, और अगर आपका पेट आवश्यकता से अधिक भरा हुआ है तो उससे भी आपकी नींद में खलल पड़ सकती है।
  12. दूध के उत्पादन और पेरू पक्षी में ट्राईपटोफोन होता है जो नींद को बढ़ावा देता है। ट्राईपटोफोन के कारण ही कभी कभी  सोने से पहले दूध के सेवन की सलाह भी दी जाती है।   
  13. सोते वक्त किसी से फ़ोन पर या घर में गुस्से में बात न करें वरना आपकी नींद उड़ जाएगी।
  14. सोने से पहले हर प्रकार के तनाव सम्बन्धी विचार को त्याग दें या दूसरे दिन के लिए टाल दें। इससे आपको अच्छी नींद आएगी।
Disclaimer