निरोग जीवन के लिए अपनायें ये सूत्र

हर व्यक्ति चाहता है निरोग रहना, लेकिन निरोग रहने के लिए क्या करना है इसपर हमारा ध्यान नहीं जाता। लेकिन अगर कुछ बा‍तों को अमल में लाया जाए तो स्वस्‍थ्‍य जीवन जीने में कोई परेशानी नही होगी।

Nachiketa Sharma
तन मनWritten by: Nachiketa SharmaPublished at: May 10, 2012
निरोग जीवन के लिए अपनायें ये सूत्र

व्यस्त जीवनशैली ने लोगों की दिनचर्या को बिगाड़ दिया है, जिसका सबसे ज्यादा असर स्वास्‍थ्‍य पर पडा है। हर व्यक्ति चाहता है निरोग रहना, लेकिन निरोग रहने के लिए क्या करना है इसपर हमारा ध्यान नहीं जाता। काम की अधिकता के कारण लोगों के पास इतना भी समय नहीं है कि वे अपनी दिनचर्या को नियमित कर सकें।

healthy in hindi

निरोग जीवन के सूत्रों में से खान-पान और व्यायाम सबसे महत्वपूर्ण है। खाद्य-पदार्थों में जंक फूड और फास्ट फूड लोगों की पहली पसंद बन गया है। इन सबका परिणाम यह हुआ है कि बीमारियों और बीमार लोगों की संख्या बढी है। आज के समय में अगर किसी को सामान्य बीमारी है तो उसके लिए एंटीबायोटिक्स दवाईयों की बजाय घरेलू-नुस्खे अपनाने का प्रयोग करें। लेकिन अगर कुछ बा‍तों को अमल में लाया जाए तो स्वस्‍थ्‍य जीवन जीने में कोई परेशानी नही होगी।

खान-पान में बदलाव -

 

  • हमारा स्वास्‍थ्‍य खान-पान पर निर्भर करता है। खान-पान में अनियमितता होगी तो कई प्राकर के पेट से संबधित रोग होने शुरू हो जाते हैं।
  • विटामिन, मिनरल, प्रोटीन और पोषण से भरपूर खाद्य-पदार्थों को अपनी डाइट योजना में शामिल करें।
  • हरी, पत्तेदार और मौसमी सब्जियों का सेवन कीजिए। लंच और डिनर में सलाद को अवश्य शामिल कीजिए इससे मोटापा कम होता है।
  • जूस, फल और सूखे मेवे को खाने के बाद खायें। फल खाने से शरीर को सभी प्रकार के पोषक तत्व मिलते हैं।
  • ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर का समय निर्धारित करें। एक निश्चित अंतराल पर ही खाना खायें ।


healthy eating

जीवन शैली में बदलाव -

 

  • लाइफस्टाइल का सबसे ज्यादा प्रभाव स्वास्‍थ्‍य पर पडता है। क्योंकि आपकी दिनचर्या आपके मेटॉबॉलिज्म‍ और इम्यू्न सिस्टम को प्रभावित करती है।
  • भरपूर और उचित नींद लेने की कोशिश कीजिए। हर रोज कम से कम 7 घंटे की नींद पर्याप्त मानी जाती है।
  • भरपूर नींद लेने से तनाव समाप्त होता है साथ ही कई बीमारियां जैसे- डायबिटीज, अवसाद नहीं होता हैं।
  • हमेशा खुश और प्रसन्नचित्त रहने की कोशिश कीजिए। प्रसन्नचित्त रहने से दिमाग में किसी प्रकार का तनाव नहीं रहेगा।


एक्सरसाइज और योगा -

 

  • निरोग जीवन का सबसे बहुमूल्य मंत्र है व्यायाम। नियमित रूप से व्यायाम करने से कई प्रकार के रोग समाप्त हो जाते हैं।
  • योगा के आसनों को दिनचर्या में शामिल करें। सूर्य नमस्कार और अनुलोम-विलोम जैसे योगा के आसन कम समय में भी किए जा सकते हैं।
  • अगर आप समय के अभाव के कारण सुबह-सुबह योगा नहीं कर सकते हैं, तो ऑफिस में भी योगा किया जा सकता है जिससे भरपूर ऊर्जा मिलती है और कई रोग समाप्त होते हैं।
  • वर्कआउट या मॉर्निग वॉक के लिए खुद को प्रोत्साहित कीजिए। सुबह-सुबह वर्कआउट करने से मोटापे से निजात मिलती है।
  • अगर आपको व्यायाम बोरिंग लगता है तो आप स्वीमिंग कर सकते हैं या डांस का सहारा ले सकते हैं।

exercise in hindi


निरोग जीवन के कुछ अन्य टिप्स -

 

  • खान-पान, एक्सरसाइज के अलावा कुछ अतिरिक्त काम को अपनी दिनचर्या में शामिल कीजिए।
  • अगर आप थकान या तनाव अनुभव कर रहे हैं तो संगीत सुनिए। संगीत सुनने से मन और दिमाग दोनों स्वस्थ रहेंगे।
  • दिन में समय मिले तो धूप में अवश्य टहलिए। धूप में टहलने से शरीर को विटामिन-डी मिलता है जिससे हड्डियां मजबूत होती हैं।
  • अपने घर में कई प्रकार के फूलों और पौधों के गमले लगाइए। इससे आपके आस-पास का वातावरण स्वच्छ और प्रदूषणमुक्त  होगा।
  • निरोग जीवन जीने के लिए तंबाकू, धूम्रपान, शराब जैसे नशीले पदार्थों का सेवन बंद कीजिए।



Image Source : Getty

Read More Articles on Healthy Living in Hindi

Disclaimer