एक से दूसरे व्‍यक्ति में फैलता है, कोरोना वायरस

कोरोना वायरस बेहद नजदीकी संपर्क में रहने वाले दो इंसानों में एक से दूसरे में संक्रमित हो सकता है।

एजेंसी
लेटेस्टWritten by: एजेंसीPublished at: May 18, 2013Updated at: May 18, 2013
एक से दूसरे व्‍यक्ति में फैलता है, कोरोना वायरस

ek se dusare vyakti me failta hai corona virus

कोरोना वायरस इंसान और जानवर दोनों में सांस संबंधी संक्रमण के लिए जाना जाता है।

 

अब से कुछ महीने पहले तक ये मालूम नहीं था कि कोरोना वायरस एक इंसान से दूसरे इंसान में फैलने वाला वायरस है। मगर अब विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस बात की पूरी संभावना व्यक्त कर दी है।

 

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने हाल ही में जारी अपने बयान में कहा है कि कोरोना वायरस बेहद नजदीकी संपर्क में रहने वाले दो इंसानों में एक से दूसरे में संक्रमित हो सकता है।

 

फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस वायरस से संक्रमित एक और व्यक्ति की पहचान की है। मंत्रालय ने इस व्यक्ति के वायरस से संक्रमित होने का संभावित कारण एक व्यक्ति का दूसरे के संपर्क में आना माना है।

 

आमतौर पर कोरोना वायरस को निमोनिया और कभी-कभी किडनी फेल होने का कारण माना जाता है।

 

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अपने बयान में कहा है, “सबसे अधिक चिंताजनक बात यह है कि अलग-अलग देशों में मरीजों के अलग-अलग समूहों की गहन पड़ताल से यही बात पुष्ट होती है कि यह नया वायरस नजदीकी संपर्क के कारण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकता है.”

 

मगर विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा जारी बयान में आगे कहा गया है, “अब तक यह देखने में आया है कि एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलने वाला यह वायरस कुछ छोटे समूहों तक ही सीमित रहा है और अब तक इस बात के पुख्ता सबूत नहीं मिले हैं जिससे पता चले कि यह समुदाय में व्यापक रूप से फैलने की क्षमता रखता है.”

 

 

Read More Articles on Health News in hindi.

Disclaimer