दिल के रोगियों के लिए सुरक्षित है यौन संबंध

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 23, 2012

Heart attack manदिल के रोगियों को कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं। इतना ही नहीं दिल के रोगियों को खानपान, रहन-सहन, व्यायाम इत्यादि के बारे में खास ख्याल रखना होता है। दिल के रोगियों को सावधानियां बरतते हुए नियमित रूप से डॉक्टर के संपर्क में रहना चाहिए। लेकिन यहां सवाल ये उठता है कि क्या दिल के रोगी सेक्स संबंध बना सकते हैं, क्या यौन संबंधों के दौरा दिल के मरीज सुरक्षित हैं। यह जानना बेहद जरूरी है कि दिल के रोगियों के लिए सेक्स करने से कोई खतरा तो नहीं होगा। आइए जानें इन्हीं बातों को कि दिल के रोगियों के लिए सुरक्षित है यौन संबंध या नहीं।

[इसे भी पढ़े- पुरुषों में सेक्स संबंधी समस्याएं]

दिल की बीमारी खतरा क्यों

  • दिल के रोगियों के लिए सेक्स के बारे में अधिक जानकारी इसीलिए भी जरूरी है कि कई बार सेक्स के दौरान ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है जो कि दिल के रोगियों के लिए खतरनाक हो सकता है।
  • सेक्स के दौरान बहुत एनर्जी लगती है जिससे पसीना आना भी स्वाभाविक है। ऐसे में व्यक्ति को गर्मी भी बहुत लगती है, तो यह जानना दिल के मरीजों के लिए और भी जरूरी हो जाता है कि उनके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए सेक्स संबंध बनाना कितना सुरक्षित है।

[इसे भी पढ़े- दस सामान्य सेक्स समस्याएं]


क्या कहते हैं शोध

  • हाल ही में आए शोधों से ये बात साबित हो चुकी है कि दिल के मरीजों को या फिर दिल का दौरा या हार्ट अटैक पड़ने वाले लोग को सेक्स संबंध बनाने में कोई समस्या नहीं आती।
  • शोधों में यह भी बात सामने आई है कि दिल के मरीजों को यदि तेज कदमों से चलने के दौरान या फिर सीढि़या चढ़ने के दौरान कोई दिक्कत नहीं आती या फिर सीने में दर्द की शिकायत नहीं और सांस नहीं फूलती तो ऐसे लोग सेक्स संबंध आसानी से बना सकते हैं। यानी आप रोजमर्रा के जीवन में स्वस्थ महसूस करते हैं तो आराम से सेक्स संबंध बना सकते हैं।
  • हालांकि शोधों में यह बात भी साफ की गई है कि जिन लोगों को दो बार अटैक पड़ चुका है या फिर पहला अटैक बहुत गंभीर था तो ऐसे लोगों को यौन संबंध बनाने से पहले अपने डॉक्टर से एक बार सलाह लेना बेहद जरूरी है।

[इसे भी पढ़े- सेक्स से पहले ध्यान दें इन बातों पर]

दिल के मरीजों की चिंता


कई बार ऐसी स्थिति भी आ जाती है जब दिल के मरीज या फिर दिल की किसी बीमारी का पता लगने के बाद मरीज छोटी- छोटी बातों से परेशान रहने लगता है नतीजन, उसकी सेक्स में रूचि कम हो जाती है और सेक्स के दौरान वह घबराने लगता है। कई बार बीमारी को लेकर ही मरीज इतना चिंतित होता है कि सेक्स करने से बचता है।


दिल के मरीज क्या करें

  • दिल के दौरे या फिर दिल के रोगियों को यौन संबंध बनाने में यदि घबराहट या फिर बेचैनी होती है तो ऐसी स्थिति में इन्हें नियमित रूप से व्यायाम करना चाहिए।
  • यौन संबंध स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेहतर होते हैं लेकिन जो व्यक्ति हृदय स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं से गुजर रहा है उसके लिए यौन संबंध बनाना कई बार जानलेवा भी हो सकता है, इसीलिए ऐसी स्थिति में अपने आपको चुस्त -दुरूस्त रखने के लिए अच्छी डायट लेनी चाहिए और दवाओं के सेवन के साथ सुबह की ताजा हवा लेनी चाहिए। इससे दिल के दौरे के खतरे को भी कम किया जा सकता है।

 

Read More Articles On Sex Problem In Hindi


Loading...
Is it Helpful Article?YES10 Votes 49235 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK