बेदाग त्‍वचा पाने में इस तरह से मददगार है क्रायोथेरेपी

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 15, 2017
Quick Bites

  • क्रायोथेरेपी में अंदर का तापमान -140 डिग्री होता है।
  • तरल नाइट्रोजन के जरिये किया जाता है त्वचा को फ्रीज।
  • इससे मस्से, अनचाहे तिल और सनबर्न को कर सकते हैं दूर।
  • एसएलई मरीज और बच्चे ना करें इस ट्रीटमेंट का इस्तेमाल।

क्रायोथेरेपी का उपयोग हॉलीवुड की अधिकतर अभिनेत्रियां खुद को जवां रखने के लिए करती हैं। यह थेरेपी आपकी त्वचा को बेदाग रखती है। इस थेरेपी में आपको या आपकी त्वचा को -140 डिग्री या उससे नीचे के तापमान में रखा जाता है। जिसके कारण ब्लड, स्किन के सर्फेस तक पहुंच जाता है। जिससे त्वचा की अशुद्ध चीजों को खून शुद्ध करता है। जिसके बाद आपकी त्‍वचा में बेदाग निखार हो जाता है।
क्रायोथेरेपी

इस ट्रीटमेंट में क्या होता है?

इस ट्रीटमेंट में आपके त्वचा के खराब हिस्सों या घाव वाले त्वचा को तरल नाइट्रोजन के जरिये फ्रीज किया जाता है जिससे त्वचा से जुड़ी सारी अशुद्धियां तुरंत खत्म हो जाते हैं।


इसके क्या फायदे हैं?

इस ट्रीटमेंट से मस्से, अनचाहे तिल, घातक ट्यूमर या उनकी वृद्धि औऱ सनबर्न स्कीन को ठीक किया जाता है। इसके अलावा मुँहासे और गहरे घाव के इलाज के लिए भी इस थेरेपी का इस्तेमाल किया जाता है।


क्या सभी इस्तेमाल कर सकते हैं?

नहीं। इसका इस्तेमाल केवल कुछ लोग ही कर सकते हैं। सबसे पहले डर्मेटोलॉजिस्ट आपकी त्वचा की जांच करते हैं उसके बाद आपको ये ट्रीटमेंट रिकमेंड करते हैं।


इन लोगों के लिए नहीं है ये ट्रीटमेंट

बच्चों और 18 साल से कम किशोरों व एसएलई के मरीजों को क्रायोथेरेपी का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।


ट्रीटमेंट के साइडइफेक्ट

इरिटेशन, नेकरोसिस (किसी भी बॉडी टिशू का मरना) और इनफेक्शन इस ट्रीटमेंट के साइड इफेक्ट हैं। इसके लिए फ्रीक्वेंट सीटिंग जरूरी है।


ट्रीटमेंट का चार्ज

यह ट्रीटमेंट की वेरायटी पर निर्भर करता है कि आप किस प्रकार की त्वचा के लिए ट्रीटमेंट ले रहे हैं। वैसे 2,000 रुपये इस ट्रीटमेंट का मिनिमम चार्ज है।

Loading...
Is it Helpful Article?YES31 Votes 9024 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK