कीमोथेरेपी के लिए डाक्‍टर को कब सम्पर्क करें

कीमोथेरेपी के लिए डाक्‍टर को कब सम्पर्क करें: कीमोथेरेपी क्‍या है। कीमोथेरेपी की जरूरत किसको होती हैं। कीमोथेरेपी के लिए डाक्‍टर को कब सम्पर्क करें।

 ओन्लीमाईहैल्थ लेखक
कैंसरWritten by: ओन्लीमाईहैल्थ लेखकPublished at: Apr 22, 2013
कीमोथेरेपी के लिए डाक्‍टर को कब सम्पर्क करें

अगर कीमोथेरेपी के बाद आपको इनमें से कोई भी समस्या आती है तो चिकित्सक से तुरंत सम्पर्क करें


[इसे भी पढ़े- कीमोथेरेपी क्‍या है]

  • chemotherapy me doctor ko kab smpark kare


  • बुखार
  • ठंड लगना
  • चकत्ते
  • हाथों, पैरों या चेहरे पर सूजन
  • उल्टियां होना
  • दस्त
  • यूरीन में या मलत्याग के दौरान रक्त आना
  • त्वचा से किसी भी प्रकार से असामान्य तौर पर रक्त का आना
  • सांस लेने में परेशानी होना
  • तेज़ सरदर्द
  • किसी प्रकार का लम्बे समय से रहने वाला दर्द

[इसे भी पढ़े- कीमोथेरेपी की किसे ज़रूरत है]

अगर एण्टी कैंसर ड्रग्स का इंजेक्शन लगवाने के बाद इंजेक्शन की जगह पर आपको किसी प्रकार का दर्द, सूजन या लाली दिखाई देती है तो तुरंत चिकित्सक से सम्पर्क करें

  • कीमोथेरेपी के प्रकार के साथ ही अतिरिक्त प्रभाव भी अलग–अलग हो सकते हैं और इनके लिए आपको चिकित्सा से पहले अपने चिकित्सक से सम्पर्क करना होता है।

  • अपने प्रतिदिन के रुटीन के कामों के साथ ही आपको कीमोथेरेपी के अतिरिक्त प्रभाव को भी समझना चाहिए। जैसे कि अगर एण्टी कैंसर चिकित्सा के प्रभाव से आपकी त्वचा पर सूरज की किरनों के अतिरिक्त प्रभाव हो रहे हैं, तो आपको धूप में बाहर निकलने का समय बदल देना चाहिए और सन ब्लाक लोशन भी लगाना चाहिए।

  • आप कुछ दवाएं लेना छोड़ भी सकते हैं जैसे कि एस्पीरिन, खांसी की दवा, नींद की दवा क्योंकि इनसे कीमोथेरेपी के ड्रग्स के प्रभाव में परिवर्तन हो सकता है। आपका चिकित्सक आपमें कीमोथेरेपी के प्रभाव को कम करने के तरीके बतायेगा।

 

Read More Articles On- Chemotherapy in hindi

Disclaimer