कोलेस्ट्रॉल बढ़ चुका है तो आपके लिए सुपरफूड है भिंडी, जानें कोलेस्ट्रॉल घटाने में कैसे करती है मदद

अगर आपका कोलेस्ट्रॉल बढ़ा हुआ है, तो आपके लिए भिंडी से बेहतर कोई सब्जी या फूड नहीं है। जानें भिंडी में ऐसा क्या खास है, जो अन्य सब्जियों में नहीं होता

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavUpdated at: Jun 26, 2020 10:22 IST
कोलेस्ट्रॉल बढ़ चुका है तो आपके लिए सुपरफूड है भिंडी, जानें कोलेस्ट्रॉल घटाने में कैसे करती है मदद

इंसान के शरीर में कोलेस्ट्रॉल (High Cholesterol) की मात्रा बढ़ने से हार्ट से जुड़ी बीमारियों का खतरा (Heart Diseases) बढ़ जाता है। हम सामान्य बातचीत में इसे कोलेस्ट्रॉल कहते हैं, जबकि ये असल में बैड कोलेस्ट्रॉल (Bad Cholesterol) होता है। मेडिकल की भाषा में इसे लो-डेंसिटी लिपोप्रोटीन्स (low-density lipoproteins) या LDL कहते हैं। ये LDL कोलेस्ट्रॉल मोम जैसा एक चिपचिपा पदार्थ होता है, जो धमनियों में फैट के रूप में जमा हो जाता है और खून के बहाव को रोकता है। खून का बहाव व्यक्ति के किसी भी अंग के लिए घातक हो सकता है लेकिन अगर मस्तिष्क और हृदय की धमनियों में ये बहाव रुक जाए, तो व्यक्ति की तत्काल जान भी जा सकती है। इसीलिए माना जाता है कि कोलेस्ट्रॉल को जितनी जल्दी खत्म कर दिया जाए, उतना बेहतर है। कोलेस्ट्रॉल को घटाने में (Reducing Cholestrol) में एक्सरसाइज और डाइट की महत्वपूर्ण भूमिका हो सकती है। और डाइट में भी एक ऐसा सुपरफूड है, जो कोलेस्ट्रॉल रोगियों (Superfood For Cholesterol) के लिए वरदान साबित हो सकता है। इस सुपरफूड को हम सब भिंडी (Okra or Lady Finger)  के नाम से जानते हैं।

भिंडी हर जगह आसानी से और सस्ती मिलने वाली सब्जी है। लेकिन ये भिंडी कोलेस्ट्रॉल रोगियों के लिए सबसे बेहतरीन फूड हो सकता है। आइए जाने कि भिंडी क्यों है खास।

bhindi benefits in cholesterol

कोलेस्ट्रॉल घटाने में क्यों महत्वपूर्ण है भिंडी?

सबसे पहली बात तो यह कि भिंडी कोलेस्ट्रॉल फ्री होती है, यानी इसमें कोलेस्ट्रॉल की मात्रा शून्य होती है। और दूसरा यह कि भिंडी बाकी सब्जियों से इस मामले में अलग है कि इसे काटने पर जेल जैसा एक पदार्थ निकलता है, जिसे म्यूसिलेज (mucilage) कहते हैं। बस यही जेल जैसा पदार्थ भिंडी को कोलेस्ट्रॉल रोगियों के लिए सबसे महत्वपूर्ण सब्जी बना देता है। दरअसल भिंडी को खाने पर जब ये जेल जैसा पदार्थ कोलेस्ट्रॉल रोगियों के शरीर में जाता है, तो पाचन के दौरान ये कोलेस्ट्रॉल के साथ मिल जाता है। इससे शरीर का पाचनतंत्र इसे भी वेस्ट मैटीरियल समझकर मल के साथ बाहर निकाल देता है। इससे शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ता नहीं है। भिंडी खाने से धीरे-धीरे कोलेस्ट्रॉल शरीर से बाहर निकलता रहता है।

इसे भी पढ़ें: सिर्फ गलत फूड्स ही नहीं, इन 5 कारणों से भी बढ़ता है बैड कोलेस्ट्रॉल, हार्ट की बीमारी से बचना है तो रहें सावधान

भिंडी के बीज भी कोलेस्ट्रॉल घटाने में महत्वपूर्ण

कोलेस्ट्रॉल घटाने में भिंडी के बीज भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। रिसर्च के अनुसार भिंडी के बीजों के सेवन से शरीर में कोलेस्ट्रॉल कम होता है। भिंडी के बीजों में मौजूद पॉलीसेकेराइड्स कोलेस्ट्रॉल घटाते हैं और कैंसर की संभावना को कम करते हैं। ऐसा एक महत्वपूर्ण शोध चूहों पर किया गया है, जिसमें 42 दिनों तक चूहों को भिंडी के बीज दिया गया और देखा गया कि उनका वजन और कोलेस्ट्रॉल दोनों कम हो गया था।

भिंडी में फाइबर भी है बहुत फायदेमंद

भिंडी में फाइबर की मात्रा बहुत ज्यादा होती है, जो कि इस सब्जी को और भी अधिक फायदेमंद बना देता है। रिसर्च में ये बात काफी पहले बता दी गई थी कि फाइबर वाले आहारों के ज्यादा सेवन से कोलेस्ट्रॉल को घटाया जा सकता है। इसके अलावा ये फाइबर आंतों में जमा गंदगी को साफ कर देता है और मल को मुलायम बनाता है। जिससे पूरे शरीर की सफाई हो जाती है और शरीर स्वस्थ रहता है।

इसे भी पढ़ें: रोज सुबह पिएं 'भिंडी का पानी', दूर होंगे मोटापा, डायबिटीज और हाई कोलेस्ट्रॉल जैसे रोग

bhindi health benefits hindi

लेकिन गलत तरीके से न खाएं भिंडी

मगर आपको इस बात का जरूर ध्यान रखना चाहिए कि आप भिंडी को गलत तरीके से न खाएं, अन्यथा फायदे के बजाय नुकसान ही होगा। कोलेस्टरॉल घटाने के लिए भिंडी को आप कई रूपों में प्रयोग कर सकते हैं। भिंडी को काटकर रात में पानी भिगोकर सुबह इस पानी को पी सकते हैं। इसके अलावा भिंडी की सब्जी बनाकर खा सकते हैं। लेकिन बहुत सारे लोग भिंडी को डीप फ्राई करके या कुरकुरा बनाकर खाते हैं। इस तरीके से भिंडी खाना आपके लिए फायदेमंद नहीं है। भिंडी में प्राकृतिक नमी होती है। इसलिए आप इसे थोड़े से तेल में, नॉन स्टिक कढ़ाई में भाप से पकाकर खाएं। भिंडी को जलाएं या फ्राई न करें।

Read More Articles on Healthy Diet in Hindi

Disclaimer