इस तरह के होने चाहिए आपके नवजात के कपड़े

शिशु के लिए हमेशा ऐसे कपड़ों का चुनाव करें जो उसके शरीर पर फिट आये और उसे कपड़े बदलते समय किसी असुविधा का सामना ना करना पड़े।

Aditi Singh
नवजात की देखभालWritten by: Aditi Singh Published at: Mar 17, 2016
इस तरह के होने चाहिए आपके नवजात के कपड़े

नवजात की त्‍वचा बहुत ही कोमल होती है, इसलिए हमेशा ऐसे कपड़ों का चुनाव करें, जो आरामदायक हो।शिशु के लिए हमेशा ऐसे कपड़ों का चुनाव करें जो उसके शरीर पर फिट आये और उसे कपड़े बदलते समय किसी असुविधा का सामना ना करना पड़े। विशेषज्ञ ऐसी सलाह देते हैं कि आपकी बच्ची अगर आरामदायक कपड़े पहनेगी तो वो आराम दे रहेंगें।

  • गर्मियों के मौसम में शिशु को ठंडक देने वाले सूती कपड़े पहनाएं। सिंथेटिक कपड़े इस्तेमाल न कीजिए, क्योंकि वे गर्माहट को अंदर ही रोकते हैं और बच्चे के लिए बहुत तकलीफदेह हो सकते हैं। इनके कारण घमौरियां भी हो सकती हैं।  धूप में बाहर निकलते समय शिशु के लिए लंबी बाजू के हल्के कपड़े चुनें।
  • शिशु को धूप से बचाने के लिए टोपी या हैट पहना सकते हैं। मगर, सुनिश्चित करें कि वह चौड़े रिम वाली टोपी है और आराम से फिट होती है। इलास्टिक पट्टी के सपोर्ट वाली हैट न पहनाएं, क्योंकि वह तंग हो सकती हैं और इनसे रक्त परिसंचारण पर दबाव पड़ सकता है।
  • कपड़े की नैपियां शिशु के लिए ज्यादा आरामदायक हो सकती हैं। ये गर्मी और डिस्पोजेबल नैपी पहनने से होने वाले ददोरों (नैपी रैश) से भी बचाएंगी। अगर आपको डायपर पहनाना ही पड़े, तो शिशु को ठंडे वातावरण में रखें और तापमान के अनुसार उचित कपड़े पहनाएं।
  • सर्दियों में शिशु के कपड़े गरम, नरम और आरामदेह होने चाहिए, जिन में कोई जिप या टैग न लगा हो। बच्चे के हाथपैर गरम रखने के लिए उसे दस्ताने और मोजे पहनाने चाहिए और उस का सिर टोपी से ढकना चाहिए।
  • बच्चे को कई बार ऊनी कपड़ों से ऐलर्जी हो जाती है जिस से उस के शरीर पर रैशेज हो जाते हैं।  इसलिए कपड़े तापमान के हिसाब से ही पहनाने चाहिए। बच्चे को सीधा ऊनी कपड़ा पहनाने के बजाय पहले एक सूती कपड़े पहनानी चाहिए।


शिशु के कपड़े अच्छी क्वालिटी के होने चाहिए और ज्यादा तंग नहीं होने चाहिए। बच्चे के कपड़े धोने का डिटर्जैंट माइल्ड होना चाहिए।

 

Image Source-Getty

Read More Article on Baby Care in Hindi

 

 

 

 

Disclaimer