गंजेपन के शिकार पुरुषों को हो सकता है प्रोस्टेट कैंसर

हाल ही में हुए शोध में सामने आया है कि चालीस साल के बाद गंजेपन के शिकार पुरुषों में प्रोस्टेट कैंसर का खतरा हो सकता है। जानिए कैसे पहचानें इस गंभीर समस्या को।

Anubha Tripathi
लेटेस्टWritten by: Anubha TripathiPublished at: Sep 18, 2014
गंजेपन के शिकार पुरुषों को हो सकता है प्रोस्टेट कैंसर

baldness in menचालीस साल की उम्र में पुरुषों में बाल झड़ने की समस्या का सीधा संबंध प्रोस्टेटे कैंसर से हो सकता है। डेली मेल छपी खबर के मुताबिक 45 साल की उम्र तक गंजे हो जाने वाले पुरुषों को प्रोस्टेट कैंसर का खतरा सामान्य पुरुषों की अपेक्षा 40 प्रतिशत अधिक होता है।

 

अमेरिकी शोधकर्ताओं ने अपने अध्ययन के आधार पर माना है कि यह खतरा खास तरह के गंजेपन में होता है जिसमें पुरुषों के माथे व सिर के मध्य भाग के बाल के बाल पहले झड़ जाते हैं। उन्होंने यह भी माना कि दूसरे प्रकार के गंजेपन से प्रोस्टेट कैंसर का संबंध नहीं है। शोधकर्ताओं के अनुसार, इसकी वजह पुरुषों के शरीर में सेक्स हार्मोन एंड्रोजन और एंड्रोजन रिसेप्टर्स की अधिकता है। इसी कारण पुरुषों के सिर के मध्य भाग के बाल झड़ते हैं।

शोधकर्ताओं ने अपने अध्ययन के आधार पर माना है कि माथे पर और सिर के मध्य भाग में 45 साल की उम्र तक बाल झड़ने वाले पुरुषों के लिए जरूरी है कि वे इस कैंसर से संबंधित टेस्ट करवाएं। उनका दावा है कि इस शोध के बाद सही समय पर प्रोस्टेट कैंसर की पहचान करना संभव हो सकेगा।

 

Source डेली मेल डॉट कॉम

 

Read More Health News in Hindi

Disclaimer