टायलेट से भी ज्‍यादा गंदा हो सकता है लेडीज हैंड बैग

लेडीज हैंड बैग में टॉयलेट से ज्यादा बैक्टीरिया पाए जाते हैं, जानिए कैसे।

एजेंसी
लेटेस्टWritten by: एजेंसीPublished at: May 21, 2013
टायलेट से भी ज्‍यादा गंदा हो सकता है लेडीज हैंड बैग

कई बार महिलाएं अपने हैंड बैग में रखी चीजों से जूझती नजर आती हैं। उनके हैंड बैग में तमाम जरूरी व गैर-जरूरी सामान भरा पड़ा होता है। और इस सामान के साथ ही होते हैं कई खतरनाक बैक्‍टीरिया भी।


bacteria ka garh hai ladies handbag

एक ताजा शोध में पाया गया है कि लेडीज हैंड बैग में कई बार औसत टॉयलेट से ज्यादा बैक्टीरिया होते हैं।

 

किसी भी महिला के पर्स में कौन सा ऐसा सामान है, जो नही होता। टॉयलेट पेपर, फेसवॉश, लिपिस्टिक, क्रीम, काजल, आईलाइनर, परफ्यूम, रूमाल, दवाएं, क्रेडिट और एटीएम कार्डस, मोबाइल फोन हैंडसेट, वॉलेट, टिकट, चाबियां, टैबलेट, लंच बॉक्स और कई बार फल और नट्स।

 

टेस्ट में यह भी पाया गया कि पांच में से एक हैंडबैग में मानव स्वास्थ्य के लिए खतरा पैदा करने वाले बैक्टीरिया होते हैं। इनमें सबसे ज्यादा घातक है हैंडक्रीम बॉटल, जिस पर टॉयलेट सीट से ज्यादा बैक्टीरिया वास कर रहे होते हैं। अलबत्ता लिपिस्टिक और मस्करा पैक पर कम बैक्टीरिया उधम मचाते मिले।

 

‘इनीशियल वॉशरूम हाइजीन’ द्वारा कराए गए इस शोध के नतीजे चौंकाने वाले हैं। पता चला कि चमड़े के बने हैंडबैग ज्यादा खतरनाक होते हैं, क्योंकि उनका स्पंजी टैक्सचर बैक्टीरिया को बसने और पनपने के लिए ज्यादा उपयुक्त माहौल देते हैं।

 

शोध से जुड़े वैज्ञानिकों ने महिलाओं को सलाह दी है कि वे नियमित रूप से अपने हाथ तथा हैंडबैग को एंटी बैक्टीरिल जेल या वाइप से साफ करें। ‘इनीशियल वॉशरूम हाइजीन’ के टेक्निकल मैनेजर पीटर बैरट का कहना है कि हैंडबैग नियमित रूप से हमारे हाथ और नाना प्रकार की सतह और स्थानों के संपर्क में आते हैं, इसलिए उनकर कई तरह के बैक्टीरियों के हमले की आशंका ज्यादा रहती है।

 

इसमें सबसे बुरी बात यह है कि बैग को हम शायद ही कभी साफ करते हों. एक बार बैक्टीरिया हैंडबैग पर काबिज हुए नहीं कि उन्हें दूसरे स्थानों पर कॉलोनियां बनाने में हैंडबैग कैरियर की तरह मदद करता है. हम बैग को मेज, फ्रिज, किचन और बेड पर रखते हैं। यानी इन जगहों पर बैक्टीरिया के प्रसार करते हैं।



Read More Articles on Health News in hindi.

Disclaimer