बच्चों की आदत बिगाड़ता है मां का शराब पीना

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 09, 2012

bacho ki adat bigadta hai maa ka sharab peena

कहते हैं कि माता-पिता की आदतों का असर बच्‍चों पर पड़ता है। फिर चाहे वो उनका बोलचाल हो खानपान या फिर रहन-सहन। बच्‍चों की आदतों की नींव अपने माता-पिता को देखकर ही पड़ती है। इनमें भी मां क्‍योंकि बच्‍चों के अधिक करीब होती है, इसलिए बच्‍चों के उससे प्रभावित होने की संभावना अधिक होती है। शराब भी एक ऐसी ही चीज है। कहा भी जाता है कि जिस घर में बड़े शराब का सेवन अधिक करते हैं उसका दुष्‍प्रभाव बच्‍चों पर भी पड़ता है। हाल ही ब्रिटेन में हुआ शोध भी इस बात की तस्‍दीक करता है।

[इसे भी पढ़े: बच्चों को तनाव क्यों होता है]

 

हालांकि, इस शोध में यह बात सामने आई है कि पिता की अपेक्षा मां का शराब का सेवन बच्‍चों पर ज्‍यादा प्रभाव छोड़ता है। शोध में यह बात निकलकर सामने आई है कि मां यदि शराब का सेवन करती है तो बच्‍चों के इस आदत की ओर आकर्षित होने के संभावना अधिक होती है। मां को बच्‍चों की पहली शिक्षक भी कहा जाता है। ऐसा माना जाता है कि बच्‍चे मां से अधिक जल्‍दी सीखते हैं, फिर चाहे वो कैसी भी आदत हो।

[इसे भी पढ़े: पैरेंट्स बनाते हैं बच्चों को झगडालू]

 

शोधकर्ताओं का दावा है कि मां के मदिरापान का बच्चों पर ज्यादा असर पड़ता है। बड़े होकर उनमें शराब पीने की आदत काफी कुछ इसी बात पर निर्भर करती है कि उनकी मां को इसकी आदत थी। ब्रिटिश अखबार टेलीग्राफ की खबर के मुताबिक ब्रिटेन में स्थित डेमोस सिटीजन प्रोग्राम नामक थिंक टैंक ने तीन दशकों तक कुल मिलाकर 18 हजार लोगों पर सर्वेक्षण किया गया। इस सर्वेक्षण में पाया गया कि 16 साल की उम्र में बच्चे शराब सेवन के मामले में अपने दोस्तों और सहपाठियों की आदतों से प्रभावित होते हैं और माता-पिता की शराब सेवन की आदतों का उन पर बहुत थोड़ा असर ही रहता है। लेकिन, 34 की उम्र तक पहुंचते-पहुंचते इस बात की संभावना अधिक होती है कि शराब के सेवन में अपनी मां से अधिक प्रभावित हों। हालांकि, इस शोध में पिता की शराब सेवन की आदतों का बच्चों पर कोई प्रभाव नहीं देखा गया।

 

[इसे भी पढ़े: बढ़ते बच्चों के लिए जरूरी पोषक तत्व ]

 

शोधकर्ताओं के अनुसार इसके पीछे यह कारण है कि पिता अक्सर ही घर से बाहर पब आदि में पीते हैं लेकिन मांए अधिकतर घर पर ही रहकर शराब का सेवन करती हैं। बच्चे ही इसके मुख्य गवाह होते हैं, इसी के चलते मां की आदतें उनके लिए अधिक मायने रखती हैं। इससे पूर्व हुए इस शोध में गर्भावस्था के दौरान मां के शराब सेवन को भी गर्भस्थ शिशु को नुकसानदायक बताया गया था


Read More Health News In Hindi

 

Loading...
Is it Helpful Article?YES2 Votes 11711 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
I have read the Privacy Policy and the Terms and Conditions. I provide my consent for my data to be processed for the purposes as described and receive communications for service related information.
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK