अवसाद से निजात दिलाएगी नई दवा

अवसाद से निपटने के लिए एक ऐसी दवा की खोज की गई है जो बिना किसी साइड इफेक्ट के रोगी को आराम पहुंचाएगी।

 ओन्लीमाईहैल्थ लेखक
लेटेस्टWritten by: ओन्लीमाईहैल्थ लेखकPublished at: Dec 15, 2012
अवसाद से निजात दिलाएगी नई दवा

avsad se nijat dilayegi nai dawa

अवसाद एक बड़ी समस्‍या है। दुनिया भर में लाखों मरीज इस बीमारी की चपेट में हैं। तेज रफ्तार भागती जिंदगी से कदमताल करने की मजबूरी या जिद इसकी बड़ी वजह है। हैरत की बात तो यह है कि तमाम वैज्ञानिक परीक्षणों के बावजूद इस बीमारी का कोई ऐसा इलाज नहीं तलाशा जा सका है, जो पूरी तरह सटीक और दुष्‍प्रभाव रहित हो। लेकिन, अब तस्‍वीर बदलती नजर आ रही है।

 

शोधकर्ताओं ऐसी दवा खोजने में कामयाब हो गए हैं जो व्‍यक्ति को बिना किसी दुष्‍प्रभाव के अवसाद से निजात दिलाने में मदद करेगी। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ (एनआईएच) के परीक्षण में एक ऐसी दवा बनाने का दावा किया गया है जो अवसाद से निकालने में तो मदद करती है, लेकिन इस दवा का कोई प्रतिगामी प्रभाव सामने नहीं आया है।

 

[इसे भी पढ़ें: अवसाद में कारगर है म्यूजिक थेरेपी]

 

अभी तक बाजार में अवसाद की जो दवाएं मिलती हैं, वे मस्तिष्क की सेरोटोनिन प्रणाली पर असर करने में लम्बा समय लेती हैं। इसके चलते कई मरीज गलत कदम भी उठा लेते हैं। इनमें से कई तो आत्‍महत्‍या जैसा अतिगामी फैसला ले लेते हैं।  केटामिन का हालांकि असर कुछ घंटों में ही दिखने लगता है लेकिन इसके प्रयोग से दुष्प्रभाव होते हैं।

एक विज्ञान पत्रिका के अनुसार एनआईएच के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ के कार्लोस जराटे ने कहा, 'हमारी खोज उस अवधारणा को सही साबित करती है, जिसके तहत हम अवसाद के सुरक्षित और तेज इलाज की नई पीढ़ी का विकास कर सकते हैं।'

 

[इसे भी पढ़ें: तनाव से कैसे पाएं छुटकारा]

 

एनआईएच के बयान के अनुसार नयी दवा भी केटामिन की तरह ही काम करती हैं। लेकिन यह शरीर में एनएमडीए रिसेप्टर को कम शक्तिशाली तरीके से अवरूद्ध करती है और यही कारण है कि यह पुरानी दवाओं से बेहतर है।

 

Read More Health News In Hindi

Disclaimer