कोरोनावायरस के खिलाफ हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवाओं का उपयोग हो सकता है जानलेवा, FDA ने दी चेतावनी

हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन कोरोनावायरस के लिए एक संभावित उपचार नहीं है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार, इससे स्वास्थ्य संबंधी गंभीर जोखिम हो सकते हैं।

Written by: Sheetal Bisht Updated at: 2020-04-27 19:04

एंटी मनेरिया ड्रग्‍स हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन, हाल ही में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प द्वारा मीडिया इंटरेक्शन में कोरोनावायरस उपचार में इस दवा की प्रभावशीलता के बारे में बात करने के बाद बहस का सबसे गर्म मुद्दा बन गया। भारत के साथ विवाद के बाद, हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वाइन के सबसे बड़े निर्माता ने इस दवा के निर्यात को समाप्त करने का फैसला किया। अमेरिकी राष्ट्रपति ने इस दवा को 'चमत्कारिक दवा' बताया, लेकिन FDA यानि फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन के इस पर परस्पर विरोधी विचार हैं।

FDA के अनुसार, COVID-19 उपचार में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन और क्लोरोक्विनिट दोनों सुरक्षित या प्रभावी साबित नहीं होते हैं और इसलिए, डॉक्टरों को इस दवा को किसी को भी नहीं देना चाहिए। FDA ने चेतावनी दी कि इन एंटी मलेरिया दवाओं के खतरनाक दुष्प्रभाव हैं और कोरोनावायरस महामारी की गंभीरता को नियंत्रित करने में संभावित रूप से प्रभावी नहीं हैं। ये दवाएं मलेरिया के इलाज में प्रभावी हैं और इसका उपयोग केवल सीमित परिस्थितियों में किया जाना चाहिए। ये दवाएं दिल की समस्याओं सहित गंभीर और घातक दुष्प्रभावों को रोकने के लिए हैं। इसलिए, इसका उपयोग केवल हेल्‍थ एक्‍सपर्ट्स के तहत किया जाना चाहिए। लोगों को COVID-19 के खिलाफ खुद को बचाने के लिए इन्हें लेने की आवश्यकता नहीं है अन्यथा वे इस दवा के साइड-इफेक्ट के रूप में होने वाली अन्य गंभीर बीमारियों से जूझ सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: ट्रम्प के बयान पर डेटॉल ने जारी किया निर्देश- डिसइंफेक्टेन्ट को पीने या इंजेक्शन लगाने से कोरोना से बचाव नहीं

FDA के स्टीफन हैन ने अपने बयान में कहा, “जहां COVID-19 के लिए इन दवाओं की सुरक्षा और प्रभावशीलता को निर्धारित करने के लिए क्‍लीनिकल टेस्‍ट जारी हैं, इन दवाओं के दुष्प्रभाव ज्ञात हैं, जिन्हें माना जाना चाहिए। "

उन्होंने कहा, "हम स्वास्थ्य कर्मचारियों को व्यक्तिगत रूप से रोगी के लिए निर्णय लेने के लिए प्रोत्साहित करते हैं और इन जोखिमों को कम करने में मदद करने के लिए उन रोगियों की निगरानी कर हैं।"

इसे भी पढ़ें: COVID-19 पर अच्छी खबर- कोरोना वायरस के संक्रमण में आई कमी, अब 10.‍5 दिन में डबल हो रही है मरीजों की संख्‍या

ट्रम्प सरकार ने बहुत कम वैज्ञानिक सबूतों के बावजूद इन दवाओं को 'रामबाण' के रूप में बढ़ावा दिया है, जो हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन को COVID -19 के प्रभावी होने का संकेत दे सकती हैं। रिपोर्ट्स हैं कि संयुक्त राज्य अमेरिका के शीर्ष स्वास्थ्य अधिकारियों में से एक को कोरोनोवायरस के लिए इन दवाओं के उपयोग के खिलाफ बोलने के बाद अपने पद से हटा दिया गया था। इससे पहले, अमेरिकी राष्ट्रपति ने नोवल कोरोनावायरस को रोकने के लिए हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन और एजिथ्रोमाइसिन के चमत्कारी संयोजन पर जोर दिया। हालांकि, विभिन्न संस्थानों के स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने इस सोच का विरोध किया है।

हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के दुष्प्रभाव

कई अध्ययनों का दावा है कि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन और एज़िथ्रोमाइसिन लेने से व्यक्ति को अनियमित दिल की धड़कन का खतरा हो सकता है। यह दवा की खुराक पर निर्भर करता है क्योंकि उच्च खुराक का मतलब उच्च जोखिम है। इसलिए, यह सुझाव दिया जाता है कि इन दवाओं को तब तक न लें, जब तक कि एक प्रमाणित डॉक्‍टर या हेल्‍थ प्रोफेशनल आपको दवा का सुझाव नहीं देता है।

Read More Article On Health News In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

Related News