ऐसे चुनें कामसूत्र का सर्वश्रेष्ठ आसन

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 24, 2013

किसी युगल के रिश्ते की मजबूती में उनके शारीरिक संबंधों की बहुत अहमियत होती है। किसी भी पुरुष अथवा महिला की यही चाहत होती है कि उसका साथी सम्भोग के लिहाज से अच्छा हो। इस बात में कोई शक नहीं कि अगर आपकी रात साथी के साथ खुशनुमा बीती है तो दिन की शुरुआत भी अच्‍छी होगी। और अगर सारी रातें अच्छी बीतती हैं तो पूरा जीवन एक अच्छे रिश्ते के साथ बीतेगा। इस लिए यह सुनिश्चित करें कि आपका सम्भोग रचनात्मकता से भरा हो। और इस मामले में कामसूत्र आपको इसकी पूरी जानकारी देना का माध्यम हो सकता है।

Aise chune kamasutra ka sarvshresth aasanकामसूत्र में रतिक्रीड़ा के अनेकों आसनों का वर्णन है जो सम्भोग में चरम प्राप्ति के लिए मार्गदर्शित करता है। कामसूत्र में 64 संभोग आसनों का वर्णन है। आप अपनी सहूलियत के हिसाब से उनमें से कोई भी चुन सकते हैं। आइए जानते हैं कामसूत्र के कुछ आसनों के बारे में-


मकड़ आसन:  

सम्भोग के इस आसन में पुरुष अपनी टांगों को सामने की तरफ ख़ोलकर बैठता है और संतुलन के लिए अपने हाथों को पीछे की ओर लगा देता है। महिला साथी भी पुरुष की ओर वैसी ही स्थिति बनाकर बैठ जाती है। अब दोनों साथी सामंजस्‍य और लय में हिलकर रतिक्रीड़ा शुरू करते हैं। पुरुष इस दौरान महिला का भार अपने कूल्हों और हाथों पैर ले लेता है। महिला साथी भी घुटनों को मोड़कर व ताल से ताल मिलकर, चरम प्राप्ति के लिए पूर्ण सहयोग करती है।

वुमन ऑन टॉप:  

कामसूत्र के इस आसन में स्त्री को अपना पूरा सहयोग देने का मौका मिलता है। साथ ही वह सम्भोग की क्रिया को अपनी इच्छा अनुसार नियंत्रित व चयनित करती है। वुमन ओन टॉप पोजीशन में दोनों साथी आरामदायक स्तिथि में सम्भोग का आनंद ले सकतें है।

मेजिक माउंटेन आसन :  

इस आसन में तकियो के ढेर का एक पर्वत जैसा बना लिया जाता है। महिला साथी ताकियों के ढेर पर घुटने टेक कर उकडू लेट जाती है। इन ताकियो का सहारा लेकर महिला अपनी टांगों को थोडा खोल देती है इसके बाद दोनों रतिक्रीड़ा आरंभ करते हैं।

मैन ऑन टॉप :

यह शायद सम्भोग की सबसे अधिक बार इस्तेमाल किये जाने वाली तथा सबसे आम स्थिति है। इस अवस्था में बाजी पुरुष के हाथ में होती है। इसमें मुख्‍यत: स्त्री का कोई विशेष योगदान नहीं होता। यहां पुरुष अपनी गति पर पूरी तरह नियंत्रण रख सकता है। 'मैन ऑन टॉप' अवस्था का लाभ यह है कि सम्भोग क्रिया के दौरान पुरुष, स्त्री को होठों, गले व कान आदि पर चुम्बन कर सकता है। साथ ही दोनों एक दूसरे को आंखों में आंखें डाल कर देख सकते हैं।

सीटिड बॉल :   

सीटिड बॉल आसन में दोनों साथी आधी बैठी अवस्था में होते हैं। महिला पुरुष के ऊपर थोड़ी झुकी हुई अवस्था में होती है और पुरुष सम्भोग कर रहा होता है। जब पुरुष महिला साथी को पीठ पर चुम्बन कर रहा होता है तब गतिविधि को अपनी एड़ी द्वारा नियंत्रित करती है। सम्भोग की इस क्रिया में बहुत लचक की ज़रूरत होती है किन्तु इस आसन में पुरुष, महिला के उन अंगों को भी तरजीह दे पाता है जो सामान्यतः ध्यान से परे होते हैं। यदि आप लचीले है तो आपको यह आसन अवश्य लेना चाहिए।

टॉड पोजीशन:   

इस आसन में महिला पैरों को खोलकर पीठ के बल लेट जाती है और पुरुष उसके पैरों के बीच लेटता है। महिला अपने पेरों को पुरुष साथी के कूल्हों के चोरों तरफ जकड लेती है और पेरों द्वारा पुरुष के कूल्हों पर थोडा वज़न दाल कर उसे प्रेरित करती है। यह आसन दोनों को इच्छा अनुसार कोई भी गतिविधि व स्पर्श करने की सवतंत्रता देता है। सम्भोग के इस अन्तरंग आसन में महिला पुरुष को कमर और नीचे से उत्तेजित कर सकती है।

साइड किक पोजीशन:   साइड किक आसन में महिला को पुरुष की तरफ पीठ के बल लेटना होता है। इस आसन में सम्भोग के समय पुरुष का एक घुटना महिला साथी के पैरों के बीच में व दूसरा उसके बराबर में स्थित होता है। पुरुष महिला को उसके नितंभों से पकड़ता है ताकि तीव्र गतिविधि कर सके, जबकि महिला अपने पैरों को फैलाती है जिससे अच्छा दृश्य मिलता है।

शोल्डर होल्डर पोजीशन: 
सम्भोग के इस आसन में महिला कमर के बल एक तकिये पर सिर रखकर लेटी होती है और उसके पैर हवा में होते हैं। पुरुष, महिला के पैरों को अपने कन्धों पर रखकर सामने की तरफ से सम्भोग करता है। पुरुष अपने एक हाथ को नीचे रख कर सहारा लेता है और रतिक्रिया करता है।  

इस प्रकार आप और आपका साथी कामसूत्र का कोई भी आसन अपनी सुविधा और एक मत से चुन कर व्यवहार में ला सकते है। बस ध्यान रहे कि आप दोनों भी आसन को करने से पूर्व उसे अच्छी तरह से समझ व पढ़ लें ताकि आप एक दूसरे के साथ का पूरा आनंद ले सकें।

.

Loading...
Is it Helpful Article?YES482 Votes 46104 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK