खाने की आदतों में परिवर्तन से जीन पर असर

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 03, 2013

Ahar parivartan se jeen par asar

आहार आदतों में परिवर्तन आपके जीन को प्रभावित कर सकता है। वैज्ञानिकों का कहना है कि आहार संबंधी परिवर्तन जीन के स्वरूप में बदलाव से जुड़ा होता है जो कि संपूर्ण स्वास्थ्य और शरीर विज्ञान को प्रभावित कर सकता है।

स्वास्थ्य को लेकर जागरूक अधिकतर लोग भी समय-समय पर जंक फूड के मोहपाश से मुक्त नहीं हो पाते हैं। मैसाच्युसेट्स यूनिवर्सिटी की मेडिकल इकाई (यूएमएमएस) के शोध से जुड़े वैज्ञानिकों के मुताबिक, किसी खास मौके पर ही लिया गया बहुत थोड़ा सा भी चित्ताकर्षक भोजन जीन के स्वरूप में परिवर्तन ला सकता है।

यूएमएमएस में मॉलीक्युलर मेडिसिन के प्रोफेसर और शोध सामग्री के प्रकाशक एजी मरियन वल्हाउट शोधपत्र में बताते हैं कि कैसे उपापचय प्रक्रिया (मेटाबोलिज्म) और शरीर विज्ञान (फिजियोलॉजी) आहार (डाइट) से जुड़े होते हैं। वल्हाउट और उनके सहयोगियों ने इस बात का अवलोकन किया कि कैसे अलग-अलग आहार जीन के स्वरूप में परिवर्तन लाते हैं।

 

Read More Health News In Hindi

Loading...
Is it Helpful Article?YES1835 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK