आहार जो करे कैंसर का वार बेकार

नियमित रूप से इन खाद्य-पदार्थों का सेवन करने से कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से बचाव मुमकिन है।

Nachiketa Sharma
एक्सरसाइज और फिटनेसWritten by: Nachiketa SharmaPublished at: May 22, 2013
आहार जो करे कैंसर का वार बेकार

कैंसर एक खतरनाक और जानलेवा बीमारी है। सेल्‍स की अनियंत्रित वृद्धि के कारण कैंसर होता है। मुंह का कैंसर, पेट का कैंसर, सर्वाइकल कैंसर, ब्रेस्‍ट कैंसर, टेस्टिकुलर कैंसर आदि कैंसर के प्रमुख प्रकार हैं। कैंसर का पता अगर शुरूआती स्‍टेज में चल जाए तो इसका इलाज संभव है।

ahaar jo kare cancer ka war bekarलेकिन यदि आप नियमित रूप से स्‍वस्‍थ और पोषणयुक्‍त आहार का सेवन कर रहे हैं तो कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी आपसे दूर रहेगी। कैंसर के मरीज अपनी डाइट चार्ट में इन आहार को शामिल कर कैंसर की जटिलता को कम कर सकते हैं। आइए हम आपको कैंसर से बचाने वाले आहार के बारे में जानकारी देते हैं।

 

[इसे भी पढ़ें : क्‍या आपका खाना पोषक है]

 

कैंसर से बचाने वाले खाद्य-पदार्थ -

अदरक
अदरक में पाये जाने वाले एंटी-ऑक्‍सीडेंट्स कैंसर के सेल्‍स से लड़ते हैं। नियमित रूप से अदरक खाने से कैंसर होने की संभावना कम होती है। इसके अलावा अदरक कोलेस्ट्राल का स्तर कम करता है। यह खून का थक्का जमने से रोकता है। इसमें एंटी फंगल और कैंसर के प्रति प्रतिरोधी होने के गुण भी पाए जाते हैं।


लहसुन

लहसुन बहुत महत्‍वपूर्ण औषधि है। लहसुन में एलियम नामक एंटीबायोटिक होता है जो कैंसर होने से बचाता है। लहसुन कई रोगों में भी फायदेमंद है। नियमित लहसुन खाने से ब्लडप्रेशर कम या ज्यादा होने की बीमारी नहीं होती। गैस्टिक ट्रबल और एसिडिटी की शिकायत में इसका प्रयोग बहुत ही लाभदायक होता है। लहसुन की पांच कलियां खाने से दिल की बीमारी नही होती।


आंवला
आंवला विटामिन-सी का एक बहुत अच्छा स्रोत है। एक आंवला में 3 संतरों के बराबर विटामिन-सी होता है। आंवला कैंसर से बचाता है। आंवला खाने से लीवर को शक्ति मिलती है जिससे लीवर हमारे शरीर से टॉक्सिन्‍स को बाहर निकालता है। आंवले का जूस खून को साफ करता है। इसके अलावा यह कई अन्‍य रोगों के लिए भी फायदेमंद है।


ग्रीन टी
ग्रीन टी में पोलीफिनॉल पाया जाता है, यह एंटी-ऑक्‍सीडेंट है जो कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ने से रोकता है। चीनी के बिना चाय पीना सबसे अच्छा होता है, लेकिन अगर आप अपनी चाय को मीठा करना चाहते हैं तो इसमें शहद या मेपल सिरप की तरह एक न्यूनतम प्रसंस्कृत स्वीटनर का उपयोग करने का प्रयास कीजिए।

[इसे भी पढ़ें : बोन कैंसर में आहार]

 

स्‍वीट पोटैटो (शकरकंद)
कैंसर रसायनों के कारण शरीर की कोशिकाओं की रक्षा करने के लिए बीटा कैरोटीन बहुत उपयोगी होता है जो लाल और नारंगी रंग के फल और सब्जियों में पाया जाता है। मीठे आलू में बीटा कैरोटीन सहित कई गुण होते हैं, जो कैंसर के सेल्‍स को बढ़ने से रोकते हैं। गाजर और कद्दू में भी बीटा कैरोटीन पर्याप्‍त मात्रा में होता है।


मशरूम
मशरूम भी कैंसर से बचाता है और प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है। इसमें बीटा-ग्‍लूकण पाया जाता है। मशरूम में प्रोटीन भी होता है जिसे लेक्टिन कहते हैं। लेक्टिन कैंसर कोशिकाओं पर हमला करता है और उन्हें बढ़ने से रोकता है। मशरूम शरीर में इंटरफेरॉन के उत्पादन को प्रोत्साहित कर सकते हैं।


ब्लूबेरी
डार्क-स्‍क्रीन फलों (स्ट्रॉबेरी, अंगूर आदि) में एंटीऑक्‍सीडेंट होता है। जामुन शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसे अपने आहार में शामिल कर आप कैंसर के खतरे को कम कर सकते हैं।
 

फलियां
फलियों में उच्च फाइबर और प्रोटीन होता है, जो कोशिकाओं की रक्षा करने में मदद करते हैं। सेम, कैंसर कोशिकाओं द्वारा किए जा रहे हमले से स्वस्थ कोशिकाओं की रक्षा करता है और साथ-साथ धीमी गति से हो रहे ट्यूमर के विकास को रोकने में भी मदद करता हैं। किसी


इसके अलावा गाजर, स्क्वैश, अंडे, डेयरी उत्पाद, ब्रोकोली, फूलगोभी आदि को अपने आहार में शामिल करके कैंसर होने की संभावना को कम किया जा सकता है।

 

 

Read More Articles on Diet and Nutrition in Hindi

Disclaimer