आनुवंशिक मोटापे से छुटकारा दिलाने में मददगार हैं जॉगिंग और ये 6 एक्‍सरसाइज, वैज्ञानिकों ने किया दावा!

आनुवंशिक रूप से मोटापे के शिकार व्‍यक्तियों वजन कम करना किसी चुनौती से कम नहीं है। ऐसे में वैज्ञानिकों के इस शोध ने वजन कम करने का प्रयास करने वालोंं के लिए एक उम्‍मीद लेकर आया है। 

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Aug 05, 2019
आनुवंशिक मोटापे से छुटकारा दिलाने में मददगार हैं जॉगिंग और ये 6 एक्‍सरसाइज, वैज्ञानिकों ने किया दावा!

हाल ही में हुए एक अध्ययन में एक्‍सरसाइज के कुछ प्रकार पाए गए हैं जो आनुवंशिक प्रभावों से निपटने में प्रभावी हैं, जोकि मोटापे की वजह बनते हैं। दरअसल, कुछ लोगों की जीन में ही मोटापे की समस्‍या होती है जो पीढ़ी दर पीढ़ी चलती रहती है। यह रिसर्च ऐसे लोगों के लिए उम्‍मीद की किरण जैसा है। जो लोग मोटापे से ग्रसित हैं उनके लिए ये एक्‍सरसाइज वजन कम करने में मदद कर सकती है। 

दुनिया भर में, मोटापे को नियंत्रित करने के लिए एक चुनौतीपूर्ण स्थिति है क्योंकि यह एक व्यक्ति के आनुवांशिकी और जीवन शैली से जुड़ा मुद्दा है। डॉक्टर अक्सर व्यायाम करने की सलाह देते हैं, लेकिन यह स्पष्ट नहीं है कि व्यक्तियों में आनुवंशिकी के कारण वजन बढ़ने पर अंकुश लगाने के लिए कौन सी एक्‍सरसाइज सबसे अच्‍छी है। 

शोधकर्ताओं ने विशेष रूप से मोटापे के पांच उपायों जैसे बॉडी मास इंडेक्स (BMI), शरीर में वसा प्रतिशत और कमर से कूल्हे के अनुपात को देखा। उन्होंने पाया कि नियमित जॉगिंग, उन पांच उपायों के अनुसार मोटापे के प्रबंधन के लिए सबसे अच्छे प्रकार की एक्‍सरसाइज में से एक था। इसके अलावा, माउंटेन क्लाइम्बिंग, वॉकिंग, पॉवर वॉकिंग, कुछ खास तरह के डांसिंग और लंबे योगा अभ्यास भी मोटापे के शिकार लोगों में बीएमआई को कम करते हैं। आश्चर्यजनक रूप से, साइक्लिंग, स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज, तैराकी और नृत्य ने मोटापे पर होने वाले आनुवंशिक प्रभावों के प्रतिकूल नहीं था।

obesity 

आइए, इस लेख में हम आनुवंशिक मोटापे से निपटने में मददगार व्‍यायामों के बारे में विस्‍तार से जानते हैं:  

जॉगिंग 

जॉगिंग फिट रखने और लंबे समय तक स्‍वस्‍थ जीवन जीने का एक शानदार तरीका है। वैज्ञानिक प्रमाणों ने पुष्टि की है कि इस एक्‍सरसाइज से हृदय रोगों, मधुमेह, मोटापा, उच्च रक्तचाप, अवसाद और चिंता के जोखिम में कमी आती है। यह आपकी सहनशक्ति और उत्पादकता को भी बढ़ाता है। इसलिए, निर्विवाद रूप से, जॉगिंग करना आपके जीवन का सबसे अच्छा निर्णय हो सकता है। 

माउंटेन क्‍लाइम्बिंग

माउंटेन क्‍लाइम्बिंग एक्‍सरसाइज आपके पेट, पैर, ट्राइसेप्‍स, कंधे और शरीर के अन्‍य हिस्‍सों को मजबूत बनाता है। माउंटेन क्‍लाइम्बिंग को 'रनिंग प्‍लैंक्‍स' के नाम से भी जाना जाता है। ये मोटापे को कम करने में मदद करता है। इसे आप बिना किसी यंत्र के कहीं भी कर सकते हैं। यह एक्‍सरसाइज वजन कम करने में मददगार साबित हो सकता है। 

वॉकिंग 

क्या आप जोड़ों के दर्द, हृदय की समस्याओं, तनाव, अवसाद या मोटापे से पीड़ित हैं? तो आप रोजाना वॉकिंग करना शुरू कर दें। क्योंकि जर्नल मेडिसिन एंड साइंस इन स्पोर्ट्स एंड एक्सरसाइज के अनुसार, चलने से पुरानी बीमारियों (Chronic diseases) के जोखिम को कम करने में मदद मिलती है। रोजाना पैदल चलने से करीब 20 स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं। 

पॉवर वॉकिंग 

शोध बताते हैं कि, हर घंटे जब आप घूमने जाते हैं तो आपके जीवनकाल में 2 घंटे का समय जुड़ जाता है, यानी आपकी जिंदगी 2 घंटे बढ़ गई। पॉवर वॉकिंग यानी तेज चलना आपके हृदय रोग, स्ट्रोक, मोटापा, टाइप 2 डायबिटीज, कैंसर और अवसाद के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है।

इसे भी पढ़ें: रोजाना 4:40 मिनट की इस 5 एक्‍सरसाइज से आपका पेट हो जाएगा सपाट, पतली हो जाएगी कमर

डांसिंग 

डांसिंग से पूरे शरीर की कसरत हो जाती है और यह पूरी तरह से मजेदार भी है। यह आपके हृदय के लिए फायदेमंद है। 30 मिनट के डांस क्‍लास से आप 130 से 250 कैलोरी बर्न कर सकते हैं। रोजाना डांस करने से तेजी से वजन घटाने में मदद मिलती है।

इसे भी पढ़ें: ये नई टेक्निक से जानें कि आपको कितना वजन कम करने की जरूरत है, और वजन घटाने के 5 आसान उपाय

योग 

जैसा कि, रिसर्च में भी वैज्ञानिकों ने माना है कि योग से आनुवंशिक मोटापे से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकते हैं। लंबी अवधि के योगासन वजन घटाने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

Read More Articles On Weight Management In Hindi

Disclaimer