स्वस्थ दांतो के लिये तनावमुक्त रहें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 31, 2011
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!


स्वस्थ दांतबालों के गिरने से झुर्रियों तक बहुत सी समस्याओं का कारण है ‘तनाव’। लेकिन अगर हम यह कहें कि तनाव के कारण आपके दांत भी खराब हो सकते हैं, तो शायद आपके लिए यह आश्चर्य की बात होगी।
विशेषज्ञों का ऐसा मानना है कि दांतों का खराब होना आनुवांशिक कारणों से भी हो सकता है। यह स्थितियां सिर्फ दांतों को ही प्रभावित नहीं करती बल्कि ऐसे कारणों से आपको सार्वजनिक जगह पर शर्मिंदा भी होना  पड़ सकता है। ऐसी ही एक समस्या है ‘नींद में या होश में दांत किटकिटाना’।


 
क्या आप दांत किटकिटाते हैं:


•    क्या किसी ने आपसे कहा है, कि आप नींद में दांत किटकिटाते हैं।
•     क्या आप जबड़ों के दर्द, सरदर्द कंधे या गर्दन दर्द के कारण से जाग जाते हैं।
•    क्या  सुबह उठने पर आपके जबड़ों में दर्द होता है।
•    क्या आपके दांत संवेदनशील हैं।



बचाव के तरीके:


•    सोने से पहले तनाव से मुक्त होने का प्रयास करें। आप तनाव कम करने के लिए कम आवाज़ में गाने सुन सकते हैं।

•    नाईट गार्ड आक्लूवज़ल स्लिकन्टम एक प्लास्टिक यंत्र है, जिसे दांतों में आगे से पीछे की ओर लगाना होता है। आप इसका प्रयोग कर सकते हैं।  कुछ लोगों में इसके प्रभाव से दांतों का किटकिटाना बढ़ जाता है और कुछ में बिलकुल ही ठीक हो जाता है। इसे फिट करने के लिए डेंटिस्टह से संपर्क करें।
•    दांतों के लिए एक्यूपंचर, मसाज, रिलैक्सेशन थेरेपी और मेडिटेशन की भी सलाह दी जाती है ।
•    प्रभावित मांस पेशियों की चिकित्साज के लिए डेंटिस्ट  से सपकि  है, जिससे मांस पेशियों में थकान नहीं होता।

अगर आपको लगता है कि आप भी नींद में दांत किटकिटाते हैं, तो इस समस्या  पर आज ही ध्या न दें।  आराम करें क्योंकि अच्छी नींद लेना दांत किटकिटाने जैसी समस्या का समाधान हो सकता है ।

 

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES2 Votes 12787 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर