स्माल सेल लंग कैंसर में डाक्‍टर को कब सम्पर्क करें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 25, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

यदि आपको फेफड़ों के स्माल सेल कैंसर का कोई भी लक्षण अनुभव हो तो जितनी जल्दी हो सके अपने डाक्‍टर को दिखाएं।

small cell lung cancer me docter ko kab sampark kareलोगों के बीच मानसिक रोग लगभग चार सौ गुना बढ़ गया हैं। तनाव से मुक्ति पाने के लिए लोग नशा करने लगते हैं। पिछले कुछ वर्षो में हर साल धूम्रपान करने वालों की संख्या में आश्चर्यजनक रूप से इजाफा होता जा रहा है। स्‍माल सेल लंग कैंसर के लगभग 90 प्रतिशत मामलों के पीछे धूम्रपान कारण है। इसके बावजूद शिक्षित युवाओं का एक बड़ा वर्ग इसे अपना रहा है। आइए जानें उन लक्षणों को जिनके दिखाए देने पर हमें तुरन्‍त डाक्‍टर को संपकै करना चाहिए।

स्माल सेल लंग कैंसर में डाक्‍टर को सम्पर्क

 

  • लगातार खांसी - अगर खांसी लगातार तीन सप्‍ताह से ज्‍यादा समय से हो रही है, और खांसी के साथ ब्‍लड भी आ रहा है। तो आपको स्‍माल सेल लंग कैंसर का हो सकता है। ऐसे में आपको तुरन्‍त डाक्‍टर से संपर्क करना चाहिए।  
  • थूक के साथ खून - थूकने पर लगे की खून भी आ रहा है तो भी आपको तुरन्‍त अपने डाक्‍टर से संपर्क करना चाहिए।
  • सांस लेने में तकलीफ - अगर मुंह में घरघराहट हो रही है और इसकी वजह से ज्‍यादा लंबी सांस नही ली जा रही हो और साथ ही साथ निगलने में भी दिक्‍कत हो रही है। तो डाक्‍टर से संपर्क करें।  
  • निमोनिया के लक्षण - निमोनिया के कोई भी लक्षण दिखें। साथ ही बुखार हो, खांसी के साथ कफ भी आ रहा हो और छाती में दर्द हो रहा हो। तो तुरन्‍त अपने डाक्‍टर से संपर्क करें।  
  • वजन कम होना - अगर भूख लगनी कम हो गई हो और वजन लगातार गिर रहा हो।
  • दर्द - सीने, कंधों, बांहों, सिर में या हड्डियों में अगर लगातार दर्द बना रहता हो तो बिना देरी किए तुरन्‍त अपने डाक्‍टर से संपर्क करें।



इनमें से कोई भी लक्षण दिखाई देने पर तुरन्‍त अपने डाक्‍टर से संपर्क करें क्‍योंकि कैंसर का शुरूआती स्‍टेज पर इलाज संभव हैं।

 


Read More Article on Small Cell Lung Cancer in hindi.

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES2 Votes 11714 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर