वैज्ञानिकों ने खोजा त्वचा से रक्त बनाने का तरीका

By  ,  दैनिक जागरण
Apr 30, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

रक्त कैंसर और एनीमिया का सफल इलाज करने का दावा


वैज्ञानिकों ने मानव त्वचा से रक्त बनाने की विधि विकसित करने का का दावा किया है। इससे 'ल्युकेमिया (रक्त कैंसर)' सहित रक्त की जरूरत वाले रोगों के इलाज में क्रंतिकारी सफलता मिलेगी। इस तरीके का ईजाद किया है कनाडा के मैक मास्टर युनिवर्सिटी स्थित स्टेम सेल एंड कैंसर रिसर्च इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों ने।


विज्ञान पत्रिका 'लाइव साइंस' के अनुसार, यह तरीका भ्रूणीय स्टेम कोशिका के इस्तेमाल संबंधी विवाद से भी निजात दिलाएगा। पहले का तरीका निराशाजनक रहा है। इसकी वजह यह थी कि प्रतिरोपण के लिए भ्रूणीय स्टेम कोशिका को परिपक्व कोशिका में तब्दील करने में असफल रहना। साथ ही इस कोशिका को वयस्कों में प्रत्यारोपित नहीं किया जा सकता था।


अब वैज्ञानिक इस नए तरीके से जरूरत के अनुसार काफी मात्रा में रक्त विकसित कर सकेंगे। संस्थान के निदेशक और दल का नेतृत्व कर रहे भारतीय मूल के मिक भाटिया ने कहा, 'भविष्य में हम ज्यादा सहज तरीके से रक्त बना सकेंगे।'


यह शोध जर्नल 'नेचर' में प्रकाशित हुआ है। वैज्ञानिकों के अनुसार सर्जरी के समय और एनीमिया (रक्त की कमी) के इलाज में इससे रक्त की जरूरत को पूरा किया जा सकेगा। वैज्ञानिकों के अनुसार, 'भ्रूणीय रक्त कोशिका के बजाय वयस्क रक्त कोशिका विकसित करना बहुत ही लाभकारी है।'


वयस्क रक्त कोशिका के प्रत्यारोपण से स्टेम कोशिका के नैतिक इस्तेमाल संबंधी विवाद से भी बचा जा सकेगा। भाटिया की टीम ने दो साल से कई बार त्वचा से रक्त विकसित किया है। हालांकि शोध का चिकित्सकीय परीक्षण 2012 में आरंभ होगा।

 

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES38 Votes 23922 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर