रूम फ्रेसनर्स बढ़ा सकते हैं दमा का जोखिम

By  ,  दैनिक जागरण
Jul 13, 2010

 लंदन, भाषा : कमरे में सफाई  अथवा हवा स्वच्छ रखने के लिए किया जाने वाला स्प्रे दमा का जोखिम बढ़ा सकता है। यूरोप में किए गए ताजा अध्ययन से यह बात सामने आई है।

 

स्पेन में म्युनिसिपल इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल रिसर्च के डाक्टर जान-पाल जोक के अनुसार घर में सफाई के लिए अक्सर इस्तेमाल में लाया जाने वाला स्प्रे वयस्कों में दमा का जोखिम बढ़ा देता है। ऐसे तत्वों के संपर्क में आने से यह जोखिम दर करीब 15 प्रतिशत यानि सात दमा वाले मामलों में से एक पाई गई।

 

अमेरिकन जर्नल आफ रेस्पिरेटररी ऐंड क्रिटिकल केअर मेडिसन के नवीनतम अंक में प्रकाशित अध्ययन के मुताबिक दमा का औसतन जोखिम उन लोगों में 40 प्रतिशत अधिक पाया  गया जो नियमित तौर पर ऐसे छिड़काव के संपर्क में आते हैं। दमा होने का जोखिम इस बात पर निर्भर करता है कि व्यक्ति कितनी अवधि में उसके संपर्क में आया और कितनी मात्रा में छिड़काव किया गया। जोक के नेतृत्व वाले अनुसंधानकर्ताओं के दल ने पाया कि क्लीनिंग स्प्रे अधिक असरदार होती है। खासकर एअर फ्रेसनर, फर्नीचर क्लीनर्स तथा ग्लास क्लीनर्स।

 

Loading...
Is it Helpful Article?YES10994 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK