मंडे ब्‍लूज

आज युवाओं में बढ़ते हृदयघात ने लोगों के मन में हृदय की बीमारियों को लेकर चिंता बना दी है ।
लेकिन हां जागरूकता भी बढ़ा दी है।

युवाओं में अकसर हृदय के दौरे का पता ही नहीं चल पाता और इसलिए य‍ह समस्या  उनके लिए और भी घातक हो

 ओन्लीमाईहैल्थ लेखक
मानसिक स्‍वास्‍थ्‍यWritten by: ओन्लीमाईहैल्थ लेखकPublished at: Jan 15, 2013
मंडे ब्‍लूज

Monday bluesH22sepआज युवाओं में बढ़ते हृदयघात ने लोगों के मन में हृदय की बीमारियों को लेकर चिंता बना दी है ।
लेकिन हां जागरूकता भी बढ़ा दी है।
आज युवाओं में बढ़ते हृदयघात ने लोगों के मन में हृदय की बीमारियों को लेकर चिंता बना दी है ।
लेकिन हां जागरूकता भी बढ़ा दी है।
आज युवाओं में बढ़ते हृदयघात ने लोगों के मन में हृदय की बीमारियों को लेकर चिंता बना दी है ।
लेकिन हां जागरूकता भी बढ़ा दी है।
आज युवाओं में बढ़ते हृदयघात ने लोगों के मन में हृदय की बीमारियों को लेकर चिंता बना दी है ।
लेकिन हां जागरूकता भी बढ़ा दी है।
आज युवाओं में बढ़ते हृदयघात ने लोगों के मन में हृदय की बीमारियों को लेकर चिंता बना दी है ।
लेकिन हां जागरूकता भी बढ़ा दी है।

युवाओं में अकसर हृदय के दौरे का पता ही नहीं चल पाता और इसलिए य‍ह समस्या  उनके लिए और भी घातक हो जाती है।
आज युवाओं में बढ़ते हृदयघात ने लोगों के मन में हृदय की बीमारियों को लेकर चिंता बना दी है ।
लेकिन हां जागरूकता भी बढ़ा दी है।

युवाओं में अकसर हृदय के दौरे का पता ही नहीं चल पाता और इसलिए य‍ह समस्या  उनके लिए और भी घातक हो जाती हआज युवाओं में बढ़ते हृदयघात ने लोगों के मन में हृदय की बीमारियों को लेकर चिंता बना दी है ।
लेकिन हां जागरूकता भी बढ़ा दी है।

युवाओं में अकसर हृदय के दौरे का पता ही नहीं चल पाता और इसलिए य‍ह समस्या  उनके लिए और भी घातक हो जाती है।
आज युवाओं में बढ़ते हृदयघात ने लोगों के मन में हृदय की बीमारियों को लेकर चिंता बना दी है ।
लेकिन हां जागरूकता भी बढ़ा दी है।

युवाओं में अकसर हृदय के दौरे का पता ही नहीं चल पाता और इसलिए य‍ह समस्या  उनके लिए और भी घातक हो जाती है।
आज युवाओं में बढ़ते हृदयघात ने लोगों के मन में हृदय की बीमारियों को लेकर चिंता बना दी है लेकिन हां जागरूकता भी बढ़ा दी है।

 

 

Disclaimer