तैराकी से मोटापा कम करें

तैराकी हर प्रकार के योगा और जिम जाने से बेहतर विकल्प है। इसे पूरे शरीर का एक अच्छा व्यायाम हो सकता है।

Nachiketa Sharma
वज़न प्रबंधनWritten by: Nachiketa SharmaPublished at: Mar 21, 2012
तैराकी से मोटापा कम करें

गर्मी का मौसम शुरू होते ही पानी का उपयोग बढ जाता है। मौसम गर्म होने पर लोग पानी में रहना ज्यादा पसंद करते हैं। इस मौसम में तैरने का अपना अलग ही मजा है। तैराकी हर प्रकार के योगा और जिम जाने से बेहतर ऑप्शन है।

tairakee se motapa kum kare

तैरना शरीर के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है क्योंकि इसमें पूरे शरीर का व्यायाम होता है। तेज तैराकी से शरीर को आराम मिलता है क्योंकि शरीर आसानी से पानी में गति करता है। 30 मिनट तक तैरकर शरीर से 400 कैलोरी घटाया जा सकता है। तैरने से रक्त संचार बढता है, जिससे सिर दर्द और तनाव से मुक्ति मिलती है।

तैराकी की विभिन्न क्रियाएं –

 

फ्रंट स्ट्रोक -

 

फ्रंट स्ट्रोक में पेट के बल तैरा जाता है और दोनों बांहे नीचे की ओर घूमती हुई जाती है तथा दोनों टांगे बारी-बारी से चलती है। हाथ आगे खींचने पर पेट पर दबाव पड़ता है तथा पूरे शरीर में खिंचाव पैदा होता है। इससे पेट के पास मौजूद अतिरिक्त चर्बी समाप्त होती है।
 

ब्रेस्ट स्ट्रोक –

इसमें शुरू में दोनों बांहे एक-साथ चलती है फिर बाद में दोनों पैर। 30 साल से ज्यादा उम्र वाली महिलाओं में यह क्रिया ज्यादा प्रचलित है, इसमें ज्यादा थकान नहीं महसूस होती है। इससे टांगों और कूल्हों को बहुत ज्यादा लाभ होता है। इससे पेट, कमर, सीने और हाथ-पैर की चर्बी कम होती है।

बैक स्ट्रोक –

बैक स्ट्रोक पीठ के बल की जाती है। इससे दोनों टांगे घूमती हुई बारी-बारी से ऊपर से नीचे की ओर आती है। इस क्रिया को पीठ के बल करने के बावजूद भी पेट पर इसका असर पड़ता है और पेट की चर्बी समाप्त होती है।

बटरफ्लाई स्ट्रोक -

इस क्रिया में शरीर के आगे का भाग, बांहे और सिर पहले पानी से बाहर निकलते हैं और बाद में दोनों पैर साथ-साथ चलते हैं। इसे करने के लिए शरीर लचीला होना चाहिए। इस क्रिया से शरीर पर बहुत ज्यादा जोर पड़ता है और ताकत भी ज्यादा लगती है। इससे ज्यादा कैलोरी बर्न होती है।

 

तैराकी के फायदे –

  • पानी में तैरने के दौरान जमीन पर व्यायाम की तुलना में 12 गुना अधिक काम करना पड़ता है क्योंकि जमीन की तुलना में पानी में 12 गुना अधिक प्रतिरोध होता है।
  • तैराकी से मोटापे पर नियंत्रण पाया जाता सकता है। हर 30 मिनट तक तैरने से शरीर से लगभग 440 कैलोरी कम हो जाती  है।
  • तैरना एक अच्छा कार्डियो व्यायाम है जो अन्य कार्डियो व्यायामों की तुलना में बहुत फायदेमंद है क्योंकि इसमें आदमी का शरीर पानी से हो कर आगे की तरफ जाता है।
  • तैरने से ब्लड प्रेशर और खून में कोलेस्ट्राल की मात्रा नियंत्रित रहती है।
  • तैरने से सांस तेजी से अंदर-बाहर होती है जिससे फेफड़ों को मजबूती मिलती है साथ ही स्ट्रोक, हार्ट अटैक और डायबिटीज की आशंका घटती है और फेफडे का कैंसर होने से बचाया जा सकता है।
  • हर रोज तैरने से शरीर और जोड़ों को लचीला बनाया जा सकता है जिससे एनर्जी बढ़ती है और मांसपेशियां मजबूत होती है।
  • नाश्ता करने या खाने के तुरंत बाद तैरना नहीं चाहिए। खाने के 1 घंटे बाद तैरना चाहिए।


गर्मी के मौसम में पसीना ज्यादा निकलने से शरीर अधिक शुगर एवं नमक की मांग करता है। इसके अलावा इस मौसम में लोग शीतल पेय पदार्थ जैसे हर्बल टी, बीयर और नींबू पानी अधिक पीते हैं जिससे शरीर में अधिक मात्रा में कैलोरी बनती  है

Disclaimer