ताकि मजबूत बनी रहें हड्डियां

By  ,  दैनिक जागरण
Nov 11, 2010

जीवन में मजबूती का खासा महत्व है। यह मजबूती तभी कायम रहती है जब हड्डियों में मजबूती और ताकत हो। कैल्शियम की कमी हड्डियों को कमजोर बनाती है जिससे आस्टियोपोरोसिस रोग हो सकता है। इसके लिए जरूरी है कि बचपन से ही कैल्शियम की खुराक दी जाए।


आस्टियोपोरोसिस हड्डियों को खोखला कर देता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की मानें तो हृदयरोगियों के बाद दुनिया में सबसे ज्यादा मरीज आस्टियोपोरोसिस के हैं। भारत में भी करीब 6 करोड़ लोग इस समस्या से पीडि़त हैं। पुरुषों की अपेक्षा महिलाएं इस समस्या से ज्यादा पीडि़त होती हैं। दरअसल आस्टियोपोरोसिस की समस्या की शुरुआत बचपन से ही हो जाती है लेकिन उम्र बढ़ने के साथ यह अपने असल रूप में सामने आती है।


क्यों होती है यह समस्या

 

  • साफ्ट ड्रिंक्स और अन्य मीठे पेयों के सेवन के चलते बच्चों और किशोरों में कैल्शियम की कमी होने लगती है। नतीजन हड्डियां कमजोर होने लगती हैं।


क्या है उपचार

 

  • हमारा भोजन ही कैल्शियम का प्रमुख स्रोत है। इसके अलावा आप डाक्टर की सलाह से कैल्शियम सप्लीमेंट भी ले सकते हैं।
  • दूध और दुग्ध उत्पादों (पनीर, मक्खन, दही) के साथ पालक तथा सोया प्रोटीन कैल्शियम का प्रमुख स्रोत है।
  • धूम्रपान से दूर रहें।

 

 

Loading...
Is it Helpful Article?YES10 Votes 13554 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK