डायबिटीज है तो क्या हुआ

By  ,  दैनिक जागरण
May 23, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

डायबिटीज से पीडि़त लोगों को खान-पान में सावधानी बरतने की सबसे ज्यादा ताकीद दी जाती है। सामान्य रूप से मरीज वजन में कमी और उपयुक्त भोजन से ब्लड ग्लूकोज (रक्त शर्करा) में कमी ला सकता है। अमेरिकन डायबिटिक एसोसिएशन के मुताबिक डायबिटीज से पीडि़त व्यक्ति को ज्यादा से ज्यादा रेशेदार भोजन करना चाहिए।

 

डायबीटिज के मरीज इन चीजों का सेवन कर सकते हैं :


करेला


स्वाद में कड़वे किंतु बेहद असरदार करेले को डायबिटीज और सोरियासिस रोगियों के लिए खासा असरदार माना जाता है। करेले की पत्तियों, बीजों और रस का प्रयोग भी डायबिटीज की रोकथाम में कारगर है।


सेब


सेब में मौजूद पेक्टिन नामक तत्व डायबिटीज रोकने में कारगर साबित होता है। पेक्टिन शरीर से विषैले पदार्थो को दूर करने में अहम भूमिका निभाता है। इसके अलावा सेब शरीर की इंसुलिन की जरूरत को कम करता है। सेब पोटैशियम का उच्च स्रोत है और बैक्टीरिया व वायरस से लड़ने में लड़ने में मददगार भी। इसलिए कहा जाता है कि 'एन एपल ए डे, कीप्स डाक्टर अवे(रोज एक सेब खाएं और डाक्टर से दूर रहें)।'


चना


चने ग्लूकोज अवशोषण की दर को कम कर गैस बनने से रोकता है और शरीर में इंसुलिन बनने की प्रक्रिया तेज करता है।


प्रोटीन


डायबिटीज के मरीजों के लिए जरूरी है कि वह ज्यादा से ज्यादा प्रोटीन युक्त पदार्थो दालों, सोयाबीन, मीट इत्यादि का प्रयोग करें। हालांकि उच्च वसा युक्त मीट के सेवन से बचें।


दही


दही में पाए जाने बैक्टीरिया पैंक्रियास (अग्न्याशय) की क्रियाशीलता को बढ़ाकर पाचन को दुरुस्त रखते हैं। इसके अलावा दही पैंक्रियास को साफ कर इंसुलिन बनने की प्रक्रिया तेज करता है।


प्याज


प्याज को अच्छा एंटी-आक्सीडेंट माना जाता है। प्याज को ब्लड शुगर कम करने में मददगार माना जाता है।


ब्रोकली और बींस


क्रोमियम का अच्छा स्रोत माने जाने वाली ब्रोकली इंसुलिन और ब्लड शुगर को नियंत्रित करती है। इसके अलावा ब्रोकली एंटीबायोटिक की तरह भी काम करती है। रेशेदार बींस भी डायबिटीज को नियंत्रित करने में मददगार होती हैं।


लहसुन


लहसुन में मौजूद एलिल प्रोपिल डाइसल्फाइड (एपीडीएस) और एलिसिन ब्लड शुगर को कम करने में मददगार होते हैं। इसके अलावा लहसुन कार्डियोवेस्कुलर (हृदय-धमनी) रोगों से निजात दिलाता है।


मूंगफली


रक्त शर्करा को नियंत्रित रखने में मूंगफली भी अहम किरदार निभाती है। इसके अलावा मूंगफली शरीर में विटामिन बी या नियासिन की कमी को भी पूरा करती है।

 

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES13 Votes 13383 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर