डायबिटीज आहार: कुछ हिदायतें

Diabetes Diet Tips: डायबिटीज पेशेंट के लिए खानपान से जुड़ी जरूरी टिप्‍स और डाइट प्‍लान के बारे में विस्‍तार से जानने के लिए पढ़ें ये लेख।

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Feb 18, 2011Updated at: Feb 26, 2020
डायबिटीज आहार: कुछ हिदायतें

टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 Diabetes) हमारी जीवनशैली से जुड़ी एक गंभीर समस्‍या है। डायबिटीज होने के कई कारण हो सकते हैं। इसमें शामिल हैं: मोटापा, गतिहीन जीवशैली, अस्‍वस्‍थ्‍यकर आहार, व्‍यायाम की कमी, तनाव और कुछ मामले जेनेटिक होते हैं। डायबिटीज में आमतौर पर शरीर में इंसुलिन (हार्मोन) पर्याप्‍त मात्रा में उत्‍पादन नहीं होता है या शरीर इंसुलिन के प्रति प्रतिक्रिया नहीं कर पाता है। इससे शरीर में ब्‍लड शुगर (Blood Sugar) नियंत्रित नहीं रहता है। ऐसे में व्‍यक्ति को अपना ब्‍लड शुगर नियंत्रित करने के लिए संघर्ष करना पड़ता है। 

हालांकि, आहार में सुधार कर आप अपने ब्‍लड शुगर को कंट्रोल कर सकते हैं। इसके साथ ही आपको योग, प्राणायाम और व्‍यायाम करना फायदेमंद हो सकता है, इससे आप तनाव से भी दूर रह सकते हैं।

diabetes

यहां हम आपको डायबिटीज डाइट के बारे में विस्‍तार से बता रहे हैं: 

एक डायबिटीज डाइट (Diabetes Diet) का मतलब है कि नियमित रूप से स्वास्थ्यप्रद खाद्य पदार्थों को निर्धारित मात्रा में खाना और साथ ही अस्‍वस्‍थ्‍य आहार से परहेज करना। डायबिटीज डाइट एक हेल्‍दी डाइट प्‍लान है जो प्राकृतिक रूप से पोषक तत्वों से भरपूर और वसा और कैलोरी में कम है। इसमें प्रमुख तत्व के रूप में फल, सब्जियां और साबुत अनाज शामिल हैं। वास्तव में, एक डायबिटीज डाइट आमतौर सभी के लिए सबसे अच्छा डाइट प्‍लान माना जाता है।

इसे भी पढ़ें: आपकी त्‍वचा को कैसे प्रभावित करता है डायबिटीज, जानें इसके लक्षण और बचाव

मधुमेह रोगी के लिए कुछ जरूरी आहार टिप्‍स: Some important diet tips for a diabetic patient

  • डायबिटीज के रोगी को पेय पदार्थ ज्यादा से ज्यादा लेने चाहिए। जितना हो सके पानी पीजिए। पेय पदार्थ लेने से शरीर के विषाक्‍त बाहर निकलते हैं। 
  • रेड मीट न लें। खाना सोने से दो घंटे पहले खाएं सोते समय दूध लेने से पेट खाली नहीं रहेगा क्योंकि प्रोटीन डाइट पचने में देर लगती है।
  • करेले का जूस, रात में भिगोया मेथी दाना व जामुन मधुमेह में फायदेमंद है। 
  • खाना जल्दी में न खाएं। धीरे-धीरे चबाकर अच्छी तरह खाएं। भरपेट भोजन कभी न करें। 
  • खाना खाते समय बातचीत न करें, न ही टीवी देखें। तनावग्रस्त होने व थके होने पर भोजन न करें, क्योंकि इस तरह की स्थिति होने पर पाचन-क्रिया ठीक ढंग से काम नहीं करती। भोजन ठीक से न पचने के कारण शुगर लेवल बढ़ जाता है। 
  • कभी सब्जियां सैलेड के रूप में खाएं। 
  • ये पांच फल: केला, चीकू, आम, लीची व अंगूर कम खाएं। सब्जियों में आलू, अरबी, जिमिकंद, कटहल और शकरकंदी हानिकर हैं। यदि इनमें से कुछ खाते हैं तो बाकी खाने में कैलोरी संतुलित करें। 
  • रेशेदार फल व सब्जियां खाएं। खाने से पहले इन्हें लेने से इनके फाइबर खाने में मौजूद शक्कर को सोख लेते हैं।

याद रखिए ब्रेन को सुचारु रूप से काम करने के लिए जो ऊर्जा चाहिए वह ग्लूको़ज से ही मिलती है और पूरे तौर पर इससे परहेज करने पर ब्रेन ठीक से काम नहीं कर पाएगा। इसलिए खाएं सबकुछ लेकिन अनुपात में। आगे जानिए कुछ स्वादिष्ट व्यंजनों की विधियां जिन्हें आप खा सकते हैं।

Read More Articles On Diabetes In Hindi

Disclaimer