टोक्सोप्लास्मोसिस क्‍या है

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 01, 2011
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

टोक्सोप्लास्मोसिस एक परजीवी का संक्रमण होता है। यह एक दुर्लभ बीमारी का कारण बनता है।

कुछ लोगो में इस परजीवी से संक्रमण का बहुत गंभीर होता है। यह कई बार प्राणघातक भी हो सकता है। नवजात जो जन्म के वक्त इससे प्रभावित होते हैं, एड्स से ग्रस्त लोग, कैंसर से ग्रस्त लोग और वो लोग जिनमे अस्थि मज्जा या किसी अंग का प्रतिरोपण होता है इस संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित हो सकते हैं।

टोक्सोप्लास्मोसिस टोक्सोप्लामा गोंडी एक कोशिका वाले परजीवी की वजह से होता है। यह परजीवी अधिकतर बिल्लियों में पाया जाता है। एक बिल्ली मिलियन संख्या में टोक्सोप्लामा अपने मलो से बाहर निकाल देती है, इसलिए टोक्सोप्लास्मोसिस आसपास आसानी से फ़ैल सकता है। यह उन लोगों अथवा जंतुओं को अपने वाहक के तौर पर इस्‍तेमाल करता है, जो बिल्‍ली के साथ अपना अधिक समय बिताते हैं।

इंसानों में टोक्सोप्लामा परजीवी प्राय: शरीर के अंदर जाने से होता है। कई बार लोग बिल्ली के मल को साफ़ करने के बाद अपने हाथों को अच्‍छी प्रकार साफ नहीं करते और फिर उसी हाथ से अपने मुंह को छूते हैं, तो यह परजीवी इंसानी शरीर में प्रवेश कर सकता है। कई बार अच्‍छी तरह न पका हुआ सुअर, भेड़ अथवा बिल्‍ली का मांस खाने से भी यह परजीवी इनसानी शरीर में प्रवेश कर सकता है।

 

टोक्सोप्लामा परजीवी मनुष्य के आहार नाल का अंदर बनने वाली कोशिकाओं में रहता है। टोक्सोप्लामा परजीवी शरीर के किसी भी अंग से निकल सकता है जिसमे दिमाग मॉस पेशी , ह्रदय की मॉस पेशी , आँख फेफड़े और लसीका ग्रंथि सम्मिलित है ।स्वस्थ्य लोगो में शरीर का प्रतिरक्षा  तंत्र धीरे धीरे तोक्सोप्लास्मा परजीवी के फैलने को रोइकता है ।हालाँकि कुछ परजीवी बहुत समय के लिए लुप्त अवस्था में दिमाग या रेटिना में रह सकते हैं ।

 

वो लोग जिनमे की प्रतिरक्षा तंत्र एड्स कैंसर या प्रतिराख्सा दाबक दवा के कारण कम हो गया होता है उनमे नया टोक्सोप्लास्मोसिस संक्रमण नियंत्रण के बहार हो सकता है और घातक भी हो सकता है या लुप्त तोक्सोप्लास्मा परजीवी पहले हुए टोक्सोप्लास्मोसिस संक्रमण से क्रियाशील हो सकते हीं और गंभीर बिमारी कर सकते हैं ।यह दशा एड्स से ग्रस्त लोगो के लिए खतरनाक होती है ।इन लोगो  में प्रसुप्त टोक्सोप्लास्मोसिस दुबारा से चालू हो सकता अहि और दिमाग का गंभीर संक्रमण करा सकता है (एनसेफेलाइटिस ) जो की जब्ती और अन्य तंत्रिका तंत्र समस्या करा सकता है ।अगर उसका उपचार नहीं किया गया तो इंसेफेलाइटिस से होने वाली मौत की दर बहुत ज्यादा हो जायेगी गुतकने के अलावा टोक्सोप्लामा परजीवी शरीर के अंदर संक्रमित रक्त स्थान्नंत्रण या संक्रमित व्यक्ति से लिए गए स्त्य्हानान्त्रित अंगों से हो सकता है ।साथ ही अगर टोक्सोप्लास्मोसिस संक्रमण एक गर्भधारण की गयी महिला में हुआ हो तो 50 फीसदी संभावना है की टोक्सोप्लामा परजीवी खेडी से निकल जाएगा और भ्रूण में टोक्सोप्लास्मोसिस करा देगा ।इसे जन्मजात टोक्सोप्लास्मोसिस कहते हैं ।

 

युनितेद स्टेट में जन्म जात टोक्सोप्लास्मोसिस 400 से 4000 नए पैदा हुए बच्चों में होता है हर साल और इन नवजातो में टोक्सोप्लास्मोसिस से सम्बन्धित आँख की समस्या और विकास की अपन्ग्ताये होने की संभावना का जोखिम बहुत होता है ।यु एस के रोग नियंत्रण और निवारण विभाग (सीडीसी) के हिसाब ए यह माना गया है की 2,25000 टोक्सोप्लास्मोसिस की घटना हर साल होती है जिम की 5000 लोगो को अस्पताल में जाना पड़ता है और 750 लोग मारे जाते हैं। लगभग 50 फीसदी टोक्सोप्लास्मोसिस की घटना खाने से सम्बन्धित होती है । युनाइटेट स्टेट में 4 फीसदी मेमने के उत्पाद और 32 फीसदी सूअर के मॉस के उत्पाद टोक्सोप्लास्मोसिस से संक्रमित होते हैं ।

 

 

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES11178 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर