कंप्यूटर गेम के भरोसे नहीं हो सकते पतले

By  ,  दैनिक जागरण
Jul 27, 2010

कंप्यूटर गेम के भरोसे नहीं हो सकते पतलेअगर आपका बच्चा मोटापे का शिकार है और आप एथलेटिक गतिविधियों की नकल वाले कंप्यूटर गेम्स के जरिए उनका मोटापा कम करने की कोशिश कर रहे हैं, तो आपकी कोशिश बेकार जा सकती है। एक नए शोध से पता चला है कि मोटापा कम करने की यह तकनीक कारगर नहीं है।


मोटापे की समस्या दुनिया भर में महामारी का रूप ले रही है। अफसोस की बात यह है कि बच्‍चे भी इसकी गिरफ्त में आ रहे हैं। इस समस्या से निपटने के लिए शारीरिक व मानसिक रूप से सक्रियता बनाए रखना जरूरी है। लेकिन मौजूदा जीवनशैली में समय की किल्लत के चलते ऐसा संभव नहीं हो पाता। लिहाजा कई लोग तकनीक का सहारा लेते हैं।

 

वे एथलेटिक गतिविधियों की नकल वाले कंप्यूटर गेम्स को मोटापे से लड़ने का जरिया बनाते हैं। गेम्स के प्रति बच्चों की दीवानगी के चलते उनके साथ यह तरीका कुछ ज्यादा ही आजमाया जाता है। लेकिन एक अध्ययन रिपोर्ट में बताया गया है कि यदि माता-पिता यह सोचते हैं कि निनटेंडो केवी एक्टिव गेम कंसोल से उनके बच्चों का मोटापा कम हो जाएगा, तो वे खुद को धोखा दे रहे हैं।
इस गेम में एक बेतार कंसोल एथलेटिक गतिविधियों की नकल पेश करता है। उत्तर पश्चिमी इंग्लैंड में लीवरपूल जान मूर्स यूनिवर्सिटी के खेल विज्ञान के शोधकर्ताओं ने 13 से 15 साल उम्र के छह लड़कों और पांच लड़कियों को भर्ती किया। गेम खेलते हुए उनके ऊर्जा क्षय को मापने के लिए एक मानिटरिंग डिवाइस लगाई गई।

 

बच्चों को 15 मिनट के चार गेम खेलाए गए। इन चार गेम्स में से एक गेम प्रोजेक्ट गोथ रेसिंग तीन था। यह एक्स बाक्स 350 पर खेला जाता है। इसे माइक्रोसाफ्ट ने बनाया है। बाकी तीन गेम्स में स्पो‌र्टस बालिंग, टेनिस तथा बाक्सिंग शामिल थे। इन्हें वी स्पो‌र्ट्स सिस्टम पर खेला गया। इन गेम्स के बीच में पांच मिनट का आराम भी दिया गया। सभी बच्चों ने कंसोल पर एक घंटे तक विभिन्न गेम खेले।
वैज्ञानिकों ने पाया कि वी सिस्टम पर गेम खेलते समय एक्स बाक्स के मुकाबले ऊर्जा का क्षय 51 फीसदी रहा। लेकिन अकेले यह आंकड़ा भ्रम पैदा करने वाला है, क्योंकि वी सिस्टम का इस्तेमाल करते हुए एक घंटे में केवल 60 कैलोरी खत्म हुई। अध्ययन के मुताबिक एक सप्ताह के कंप्यूटर आधारित सक्रिय खेल से ऊर्जा की खपत में इजाफा दो फीसदी से भी कम रहा।

 

छाया: onlymyhealth


Loading...
Is it Helpful Article?YES40899 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK