एंटीसोशल पर्सनालिटी डिसार्डर के जोखिम कारक

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 29, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

दूसरी पर्सनैलिटी डिसऑर्डर की ही तरह एंटीसोशल पर्सनैलिटी डिसऑर्डर भी एक जटिल डिसऑर्डर जिससे परेशानी उत्पन्न होती है।रिश्तों में कपटी और सामनेवाले को डराकर रखने वाले होते हैं एवं दूसरों के अधिकारों की परवाह नहीं करते।


गुस्से में मजाकिया कर्टूनइस रोग से ग्रस्त लोग आपराधिक गतिविधियों में भाग ले सकते हैं, लेकिन अगर ये ऐसा करते हैं तो दूसरों को क्षति पहुंचाने वाले अपने कामों के लिए इन्हें खेद का अनुभव नहीं होता। ये बिना सोचे समझे सहसा काम करनेवाले, और हिंसक भी होते हैं।

[इसे भी पढ़ें: आत्महत्या या खुद को घात पहुंचाना]


एंटीसोशल पर्सनैलिटी डिसऑर्डर के रोगी सामान्यतः नियम-कानूनों के अनुसार चलने में विश्वास नहीं रखते, वे मात्र तभी इन्हें मान सकते हैं अगर उन्हें सजा का डर दिखाया जाए। ये प्रवृत्ति उन्हें दूसरों का शोषण करने की ओर अग्रसर करती है।


इस समस्या(एंटीसोशल पर्सनैलिटी डिसऑर्डर) के शिकार कुछ व्यक्ति मात्र दूसरों को धोखा देने और उन्हें नुकसान पहुंचाने को ही अपना लक्ष्य समझते हैं।लगता है कि ये लोग अपने सिवा किसी औऱ की परवाह नहीं करते। वे दूसरों की भावनाओं को समझ सकते हैं, लेकिन इन्हें अपनी वजह से दूसरों को हुए कष्ट के लिए कोई शर्म महसूस नहीं होती। इसकी जगह, दूसरों की कमजोरी की जानकारी का उपयोग वह स्वयं के लिए समर्थन या अनुग्रह हासिल करने के लिए या किसी को अपने पक्ष में कर कोई लाभ हासिल करने के लिए करते हैं। वे किसी को पीड़ा देने की बात स्वीकार नहीं करते या किसी की पीड़ा के लिए स्वयं को जिम्मेवार नहीं मानते। ये मानसिक समस्याएं, रोगविज्ञान संबंधी जोखिम, अल्कोहल और सबस्टांस अब्यूज और कई प्रकार के मूड और एनेक्जायटी डिसऑर्डर के शिकार हो सकते हैं।

[इसे भी पढ़ें: फायदेमंद होता है तनाव]


उनमें आत्महत्या का खतरा अधिक होता है। एंटीसोशल पर्सनैलिटी डिसऑर्डर संभवतया कई कारणों के संयोग के कारण होता है। इस प्रकर के रोगियों में हिंसक रूप से अकाल मृत्यु या हत्या की अधिक संभावना होती हैं, जैसे दुर्घटना, हत्या, या आत्महत्या  इत्यादि। इस विकार में अक्सर लम्बे समय तक बेरोजगारी, बाधित शिक्षा, टूटे हुए विवाह सम्बन्ध , गैर जिम्मेदारना पितृत्व या मातृत्व जैसे दुषपरिणाम सामने आते हैं।

 

Read More Articles On Mental Health In Hindi

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES11199 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर