एंकायलूजि़ग स्‍पांडेलाइटिस से बचाव

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 25, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

ankylosing spondylitis se bachaavएंकायलूजि़ग स्‍पांडेलाइटिस अर्थाराइटिस का ही एक प्रकार है। यह ज्यादातर लोगों के कमर के निचले हिस्से को प्रभावित करता है। कई बार शरीर के अन्य ज्वांइट वाले हिस्से भी इसके शिकार हो जाते हैं। अगर घर में किसी को यह बीमारी है तो इसके लक्षण आगे आने वाली पीढ़ी में जरूर दिखते हैं। ऐसे में इसको रोक पाना मुश्किल हो जाता हैं लेकिन फिर कुछ उपाय है जिनके प्रयोग से इससे बचा जा सकता है-

इससे बचने के लिए नियमित रुप से व्यायाम करना बहुत जरूरी है। जब यह दर्द असहनीय हो जाता है तो डॉक्टर से सलाह लेकर दवाएं भी ली जा सकती हैं। कई बार इसके दर्द से रोगी इतना परेशान हो जाता है कि वो कोई काम करने असमर्थ हो जाता है।
 
एंकायलूजि़ग स्‍पांडेलाइटिस से बचाव के लिए जागरुकता जरूरी है। इस बारे में लोगों को जितना ज्यादा पता होगा वे इस समस्या से बच पाएंगे।
इस समस्या से ग्रसित लोगों को धूम्रपान व नशे से दूर रहना चाहिए क्योंकि एंकायलूजिग स्पांडेलाइटिस में फेफड़ों की प्रक्रिया पर ज्यादा असर होता है।  
एंकायलूजिग स्पांडेलाइटिस से बचने के लिए इसके जोखिम कारकों से दूर रहें जैसे कमर के निचले हिस्से में होने वाले दर्द को गंभीरता से लें और डॉक्टर से संपंर्क करें।
बढ़ते वजन को काबू में रखें।

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES51 Votes 15752 Views 1 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर