निप्पल से जुड़े इन तथ्यों को जानकर हो जाएंगे आप हैरान

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 12, 2016
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • निप्पल बहुत ही संदेवनशील हिस्सा होता है।
  • निप्पल में लालिमा आने पर चिकित्सक से मिलें।
  • डार्क निप्पल अधिक कामुक होते हैं।
  • गर्भावस्था में निप्पल का बढ़ना सामान्य बात है।

शरीर के कुछ अंगों की तरह निप्पल भी है जिसके विषय में सामान्यतः कोई बात नहीं करना चाहता। जबकि यह सरासर गलत है। दरअसल निप्पल के बारे में हमें इसलिए भी पता होना चाहिए ताकि भविष्य में निप्पल से जुड़ी कोई बीमारी हो जाए तो हम पहले से ही सजग हो सके। इस लेख में निप्पल से जुड़े तमाम रोचक तथ्यों पर नजर दौड़ाएंगे।

एक दूसरे से भिन्न

क्या आप जानते हैं कि आपके दोनों निप्पल एक दूसरे से भिन्न हो सकते हैं? जी, हां! आपको बता दें कि ये ट्विंस नहीं है। ऐसे में इनमें भिन्नता हो सकती है। सामान्यतः दोनों निप्पलों में से एक छोटा और एक बड़ा होता है। यही नहीं दोनों में रंगभेद भी होता है। एक ज्यादा गाढ़े रंग का होता है तो दूसरा हल्के रंग का।

इसे भी पढ़ें- बरगद है कमाल मचा देगा बिस्‍तर पर धमाल

 

निप्पलगैस्म भी होता है

शायद आपके लिए यह नया शब्द हो। लेकिन जिन महिलाओं के निप्पल अत्यधिक सेंसिटिव होते हैं, वे निप्पल के जरिये भी चरम सुख तक पहुंच सकती है। यही नहीं इसमें पुरुष की भूमिका भी अनिवार्य होती है। निप्पल का सेंसिटिव होना और पुरुष का महिला के साथ सही तरह से फोरप्ले करना। ये दोनों एक दूसरे के पूरक के रूप में होते हैं।

 

इन्वर्टेड निप्पल

कुछ महिलाओं के निप्पल किसी एक दिशा की ओर झुके होते हैं। लेकिन अच्छी बात यह है कि चरमसुख की ओर पहुंचते वक्त निप्पल इरेक्ट हो जाते हैं और कामक्रीड़ा खत्म होने के बाद ये अपनी पुरानी स्थिति में लौट आते हैं।

 

डार्क निप्पल कामुक होते हैं

आपको हैरानी हो सकती है कि जिन महिलाओं के निप्पल डार्क होते हैं, उनके पति अकसर उनसे खुश रहते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि डार्क निप्पल बेहद कामुक होते हैं। कई समुदायों में तो निप्पलों को डाई करने का चलन भी है।

इसे भी पढ़ें - स्लीप सेक्स - आदत नहीं, एक बीमारी, जो कर देती है जिंदगी बर्बाद

 

निप्पल में लालिमा आना

अगर आपके किसी भी एक निप्पल में लालिमा बढ़ रही है तो सजग हो जाएं। असल में निप्प्ल जो लालिमा लिये होती है, वो स्तन कैंसर की ओर इशारा कर रही है। अगर ऐसा है तो तुरंत विशेषज्ञ से संपर्क करें।

 

कृत्रिम रूप से स्तन बड़ा करना

कृत्रिम रूप से स्तन बड़े करने वाली महिलाओं को हम बता दें कि भले इससे स्तन खूबसूरत लगते हों। लेकिन इससे निप्पल की सेंसिटिव प्राय खत्म हो जाती है। यह न तो स्तन के लिए और न ही निप्पल के लिए अच्छे संकेत होते हैं। यही नहीं इससे चरमसुख पर पहुंचने में भी बाधा आती है।

निप्पल पियर्सिंग

पियर्सिंग मौजूदा समय में फैशन का पैमाना बन गया है। लेकिन निप्पल पियर्सिंग सेक्स लाइफ को बुरी तरह प्रभावित करती है। यह ठीक होने में तकरीबन 8 से 10 महीने तक लेती है। अतः ऐसा करने से पहले कई बार सोचें।

 

निप्पल और इयर लोब के बीच सम्बंध

भले ये आश्चर्यजनक तथ्य है, लेकिन सच है कि निप्पल और इयर लोब के बीच गहरा सम्बंध है।

इसे भी पढ़ें - नैचुरल तरीके से स्तन बढ़ाने के तरीके

 

निप्पल का संवेदनहीन होना

यूं तो सेक्स के दौरान निप्पल की महति भूमिका है। बावजूद इसके कुछ महिलाओं के निप्पल संवेदनहीन होते हैं। मतलब यह कि सेक्स के दौरान उनके निप्पल कोई खास रोल अदा नहीं करते।

 

कई रंग, कई रूप

आपको जानकर हैरानी हो सकती है कि निप्पलों के कई रंग और कई रूप होते हैं। ये गाढ़े, हल्के, गुलाबी, ब्राउन, छोटे, बड़े हर आकार में होते हैं। यह पूरी तरह सामान्यत हैं।

 

एरोला

एराला निप्पल का वह हिस्सा है जो उसके इर्द गिर्द फैला होता है। आमतौर पर एरोला के सम्बंध में हम कम बातें ही जान पाते हैं। जबकि एरोला का आकार भी अलग अलग होता है। वह कभी बहुत छोटा हो सकता है तो कई महिलाओं में इसका आकार असामान्य रूप से बड़ा होता है। हालांकि यह सामान्य है।

 

निप्पलों के इर्द-गिर्द बाल

शायद इस तथ्य पर आपको यकीन न हो लेकिन यह सच है कि निप्पल के इर्द-गिर्द सबके बाल होते हैं। पुरुषों के यह बाल दिखते हैं। जबकि महिलाओं के बाल बहुत छोटे होते हैं, जिन्हें छुआ नहीं जा सकता।

 

निप्पल से खून निकलना

यूं तो निप्पलों से खून कम ही निकलता है। लेकिन जो महिलाएं एथलीट होती हैं, उनके खून निकलने की आशंका बनी रहती है।

 

गर्भावस्था में निप्पल का बढ़ना

गर्भावस्था में निप्पल के आकार और रंग में खासा फर्क देखने को मिलता है। निप्पल का रंग गाढ़ा और आकार बड़ा हो जाता है।

 

निप्पल से रिसाव

हर समय जरूरी नहीं है कि महिला गर्भवती हो, तभी उसके निप्पल से रिसाव हो। यदि सेक्स के दौरान स्तन को पुरजोर से दबाया गया हो तो भी निप्पल से रिसाव हो सकता है।

 

निप्पल का इतिहास

अगर हम प्राचीन काल की बात करें तो उस समय निप्पल एक फैशन स्टेटमेंट हुआ करता था। 14वीं सदी के फ्रांस में निप्पलों को दिखाने में चलन में हुआ करता था। हालांकि यह सबके लिए नहीं वरन सिर्फ रानी के लिए था।

 

 

Read more articles on Sex and relation in hindi.

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES334 Votes 12549 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर