धूम्रपान छोड़ना चाहते हैं तो योग करें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 01, 2014
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

smoking in hindi धूम्रपान हमारे शरीर को कई प्रकार से नुकसान पहुंचाता है। लेकिन, कई लोग चाहकर भी इस खतरनाक लत को छोड़ नहीं पाते। हालांकि, एक ताजा अध्‍ययन में यह बात निकलकर सामने आयी है कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है।

 

धूम्रपान छोड़ने का यह कारगर समाधान है। माना तो यह भी जाता है कि योग न केवल धूम्रपान छोड़ने में मददगार होता है, बल्कि यह इसके बुरे प्रभावों को कम करने में भी मददगार होता है।

धूम्रपान छोड़ने के लिए बाजार में कई दवायें या अन्‍य रासायनिक विकल्‍प मौजूद हैं। लेकिन कई बार इनके सहारे भी धूम्रपान छोड़ पाना आसान नहीं होता। सिगरेट के धुएं से निकलने वाला विषाक्त पदार्थ शरीर में प्रवेश कर जाता है। इससे खून का गाढ़ापन बढ़ने लगता है। कुछ समय बाद यह एक थक्के के रूप में जम जाता है।

 

यह रक्तचाप और हृदय गति को भी प्रभावित करता है। साथ ही यह धमनियों को संकरा कर अंगों में ऑक्सीजन युक्त रक्त परिसंचरण की मात्रा को कम कर देता है।

धूम्रपान के दुष्प्रभावों से बचने के लिए योग अच्छा उपाय है। योगासन और श्वसन से संबंधित व्यायाम धूम्रपान के प्रभाव को खत्‍म करने में मदद करते हैं। इससे फेफड़ों की दशा में सुधार होता है। ध्यान और शुद्धि विषाक्त पदार्थों को शरीर से दूर कर कोशिकाओं को उत्साहित करने में मदद करता है।

 

प्राणायाम से शरीर पूरी तरह से चुस्त रहता है, साथ ही तनाव और चिंता दूर होती है और आत्मविश्वास भी बढ़ता है। सर्वागासन (शोल्डर स्टैंड), सेतु बंधासन (ब्रिज मुद्रा), भुजंगासन (कोबरा पोज), शिशुआसन (बाल पोज), ये सभी आसन स्मोकिंग से छूटकारा दिलाने में मदद करते हैं।

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES8 Votes 872 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर