विश्‍व हास्‍य दिवस: लाफ्टर योगा ने बदल दी लोगों की जिंदगी, जानें क्‍या हैं इसके फायदे

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 04, 2018
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • तनावपूर्ण जिंदगी और गंभीर बीमारियों को मात देता है लाफ्टर योगा
  • हास्‍य योग करने के कुछ सेकेंड में आपका मूड बदलने लगता है
  • ठहाकों से व्‍यक्ति शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत होता है।

अगर सुबह-सुबह आपके घर के आसपास तेज-तेज हंसने की आवाज सुनाई दे तो चकित होने की जरूरत नहीं है, क्‍योंकि वह न तो कोई चुटकुला सुनकर हंसते हैं और न ही किसी का मजाक उड़ा रहे होते हैं, बल्कि वह एक विशेष प्रकार का योग करते हैं। जी हां, आजकल की तनावपूर्ण जिंदगी और गंभीर बीमारियों को मात देने के लिए योगा एक बेहतर विकल्‍प बनकर देश और दुनिया में लोगों को अच्‍छी सेहत, खुशी और मानसिक शांति प्रदान कर रहा है। इस विशेष योग को हास्‍य योग या लाफ्टर योगा कहते हैं। आज विश्‍व हास्‍य दिवस (वर्ल्‍ड लाफ्टर डे) के मौके पर हम आपको उन लोगों के बारे में बताने जा रहे हैं जो हास्‍य योग के दम पर एक बेहतर जीवन जी रहे हैं। साथ ही जाने-माने लाफ्टर गुरू द्वारा बताए गए हास्‍य योग के उन फायदों के बारे में भी बताएंगे जो आपको सेहतमंद शरीर के लिए जरूरी है।



लाफ्टर गुरू के तौर पर देश और दुनिया में अपनी पहचान बना चुके डॉक्‍टर मदन कटारिया के मुताबिक, हंसी और योग को मिलाकर हास्य योग बनता है, जिसमें प्राणायाम (लंबी-लंबी सांसें लेते) के साथ हंसी के अलग-अलग कसरत करना सिखाया जाता है। हास्य योग के तहत जोर-जोर से ठहाके मारकर बिना किसी वजह के बेबाक हंसने का अभ्यास किया जाता है। भारत में लाफ्टर योगा की शुरूआत करने का श्रेय लाफ्टर गुरू डॉक्‍टर कटारिया को ही जाता है। उन्‍होंने अपने रिसर्च में इस बात की पुष्टि भी की है कि हंसी, ठहाकों से व्‍यक्ति शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत होता है।

लाफ्टर योग से इन लोगों ने पाई नई जिंदगी

  • लाफ्टर जुड़े अधिकांश लोग पहले कई तरह की शारीरिक समस्‍याओं से ग्रसित थे। कई लोग ऐसे हैं जो अधिक उम्र, परिवारिक कलह और अन्‍य कारणों से होने वाली बीमारियों से पीडि़त थे उनका जीवन लाफ्टर योग ने बदल दिया है।
  • क्‍लब से जुड़ीं मधु पालीवाल कहती हैं "वैसे तो मैं हास्य योग से साल 2015 में ही जुड़ गई थी, पर दैनिक क्रियाकलाप से वंचित रहती थी। 2016 अप्रेल से मैं निरन्तर आने में सक्षम हो पाई। स्वास्थ्य अच्छा नही रहने से परेशान थी लेकिन अब पूरी तरह से फिट हूं"
  • वहीं जितेंद्र कुमार कहते हैं कि "आज मैं जो भी हूं वह लाफ्टर योग की देन है। मेरे जीवन का उद्देश्य अब इस उम्र में केवल हंसना और हंसाना बन चुका है। रोजाना हास्‍य योग के साथ उछलना, कूदना आदि मेरे जीवन का अभिन्न अंग है। मैं अब एक नया जीवन पा चुका हूं"
  • रोजाना लाफ्टर योग करने वाली मीना वोहरा कहती हैं कि "एक उम्र के बाद जीवन नीरस होने लगता है। घर में अकेलापन मानसिक रूप से कमजोर करने लगता है। इसके लिए जरूरी है कि किसी न किसी गतिविधि में भाग लिया जाए। अपनी सभी समस्‍याओं से निपटने के लिए मैनें लाफ्टर योग का सहारा लिया तो धीरे-धीरे सब कुछ बदलता गया। आज अच्‍छा स्‍वास्‍थ्‍य ही नहीं बल्कि मानसिक शांति भी है"  
  • गोविंद सिंह, जोकि कविता लिखते हैं और इन्‍होंने हाल ही में ग्रेजुएशन कंप्‍लीट किया है। गोविंद कहते हैं कि, "कम उम्र में तनाव और अवसाद से ग्रसित था, भविष्‍य अंधेरे में था, लेकिन लॉफ्टर क्‍लब में आकर लाफ्टर योग करने से मानसिक रूप से काफी मजबूती मिली और अब कविता लेखन ने रफ्तार पकड़ ली है"

लाफ्टर योग के हैं 5 जबरदस्‍त हेल्‍थ बेनेफिट्स  

लाफ्टर गुरू डॉक्‍टर मदन कटारिया ने बताया है हास्‍य योग के 5 बेहतरीन फायदों के बारे में...

1. मूड ठीक करे

हास्‍य योग का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसे करने के कुछ सेकेंड में आपका मूड बदलने लगता है, आपके मस्तिष्‍क की कोशिकाएं कई तरह के केमिकल्‍स श्रावित करने लगती हैं जिसे एंडॉर्फिन के नाम से जाना जाता है। तो अगर आपका मूड अच्‍छा है तो इसका मतलब सब कुछ अच्‍छा है। दरअसल मूड का असर आपकी पर्सनल लाइफ, सोशल लाइफ और बिजनेस लाइफ तीनों पर पड़ता है। अगर आप मानसिक रूप से खुश हैं तो इससे आपको कोई परेशानी नहीं होगी। इसलिए आप रोजाना 30 मिनट हास्‍य योग या लाफ्टर योगा करें और खुद को स्‍वस्‍थ रखें।

इसे भी पढ़ें: गर्मियों के लिए वरदान है ये 2 योग, संक्रामक रोगों से दिलाते हैं छुटकारा

2. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए

लाफ्टर योगा से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और स्‍ट्रेस लेवल कम हो जाता है। दरअसल, स्‍ट्रेस लेवल जितना ज्‍यादा होगा आपका इम्‍यून सिस्‍टम उतना ही कमजोर होगा। इसलिए हास्‍य योग के माध्‍यम से अपना स्‍ट्रेस लेवल कम कीजिए और रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर बीमारियों से मुक्‍त हो जाइए। यह आपके लिए सबसे हेल्‍दी एक्‍सरसाइज है जोकि बीमारियों से बचाता है। हास्‍य योग रक्‍तचाप और रक्‍तशर्करा को नियंत्रित रखता है। ह्रदय और फेफड़ो के लिए भी योग बेहतर है। इसके अलावा इस बीमारिया से बुजुर्गों में अल्‍जाइमर जैसी बीमारियों से निजात मिलती है।

3. बौद्धिक स्‍तर बढ़ाए

मनुष्‍य के मस्तिष्‍क को हमेशा अधिक ऑक्‍सीजन की आवश्‍यकता होती है। हास्‍य योग करने से मस्तिष्‍क ही नहीं बल्कि पूरी बॉडी में ऑक्‍सीजन का प्रसार होता है, इससे बौद्धिक स्‍तर में बढ़ोत्‍तरी होती है साथी शारीरिक दक्षता भी बढ़ती है। अगर आप भी इस तरह के फायदे चाहते हैं तो हास्‍य योग करना शुरू कर दीजिए।

4. सामाजिक जुड़ाव

हास्‍य योग न सिर्फ आपको सेहतमंद बनाता है बल्कि यह सामाजिक जुड़ाव के माध्‍यम से कई प्रकार की खुशियां भी प्रदान करता है। जब आप किसी विशेष जगह पर कई लोगों के साथ हास्‍य योग करते हैं तो वहां कई तरह के खुशहाल व्‍यक्तियों से आपका इंट्रोडक्‍शन होता है, जिससे आपका सामाजिक दायरा बढ़ता है साथ ही आपको मानसिक शांति भी मिलती है। मनोवै‍ज्ञनिक रूप से देखा जाए तो यह प्रत्‍येक व्‍यक्ति के लिए जरूरी है। इससे आपको चेहरे पर हमेशा मुस्‍कान दिखेगी।

5. पॉजिटिव एनर्जी

डॉक्‍टर मदन कटारिया के अनुसार, अगर आप नियमित रूप से लाफ्टर योगा एक्‍सरसाइज़ करते हैं तो आपके विचार और व्‍यवहार में सकारात्‍मकता दिखने लगती है। इससे आप हर क्षेत्र में सफल होते हैं। यह योग सिर्फ बुजुर्गों के लिए नहीं है बल्कि इसे बच्‍चे, किशोर और युवा भी कर सकते हैं। इससे उनका शारीरिक और मानसिक विकास अच्‍छा होगा। बौद्धिक स्‍तर में बढ़ोत्‍तरी होगी।

इसे भी पढ़ें: रीढ़ की हड्डियों को मजबूत और कब्‍ज दूर करता है मंडूकासन, जानें 5 अन्‍य फायदे

यहां रोज लगते हैं हंसी के ठहाके

नोएडा के सेक्टर-21 में लाफ्टर क्लब पिछले चार साल से चल रहा है। क्‍लब के सदस्‍य कमांडर नरेंद्र महाजन (नेवी से रिटायर्ड) ने बताया कि "हम कैंसर और अन्‍य गंभीर बीमारियों से ग्रसित मरीजों को खुश रखने और हिम्मत बढ़ाने के लिए उनके साथ लगातार सेशन करते हैं, इसके अलावा रोजाना हंसी के लिए लाफ्टर योगा कराते हैं, जिससे लोग दिनभर एक्टिव और फिट रहते हैं। उन्‍होंने बताया कि करीब 100 लोग लाफ्टर योग करते हैं। उन्‍होंने यह भी बताया कि क्‍लब में ज्‍यादातर जुड़े लोग रिटायर्ड कर्मचारी हैं। यहां विशेष दिनों में लाफ्टर गुरू डॉक्‍टर मदन कटारिया खुद आकर लाफ्टर योग कराते हैं" इसके अलावा दिल्‍ली और देश के अन्‍य कई शहरों में इस तरह के प्रोग्राम चलाए जा रहे हैं।

कब और क्‍यों मनाया जाता है लाफ्टर डे

विश्व हास्य दिवस विश्व भर में मई महीने के पहले रविवार को मनाया जाता है। हास्य योग के अनुसार, हास्य सकारात्मक और शक्तिशाली भावना है जिसमें व्यक्ति को ऊर्जावान और संसार को शांतिपर्ण बनाने के सभी तत्व उपस्थित रहते हैं। विश्व हास्य दिवस का आरंभ संसार में शांति की स्थापना और मानवमात्र में भाईचारे और सदभाव के उद्देश्य से हुई। विकिपीडिया के मुताबिक, विश्व हास्य दिवस की लोकप्रियता हास्य योग आंदोलन के माध्यम से पूरी दुनिया में फैल गई। आज पूरे विश्व में छह हजार से भी अधिक हास्य क्लब हैं। इस मौके पर विश्व के बहुत से शहरों में रैलियां, गोष्ठियां एवं सम्मेलन आयोजित किये जाते हैं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Yoga In Hindi

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES516 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर