जानें क्‍यों पैरेंट्स को बच्‍चों के सामने नहीं करना चाहिए किस

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 19, 2016
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • चुंबन करना प्यार का इज़हार करने का बेहद कारगर तरीका होता है।
  • माता-पिता का बच्चों के सामने किस करना सही है या नहीं!
  • किस करना केवल एक कामुक भाव प्रकट करने वाली घटना नहीं है।
  • ज्यादा किस करने से बच्चों के मन में से आपका प्रभाव कम होता है।

किस या चुंबन करना प्यार का इज़हार करने का अनूठा और बेहद कारगर तरीका होता है। किस करने के रिश्ते पर भी कई सकारात्मक प्रभाव होते हैं। हालांकि भारतीय परंपरा में किस का चलन पर्दे के पीछे का ही है। हम तेज़ी से पाश्चिमि संस्कृति से चीज़ों को अपना रहे हैं, और वहां किस करना एक आम बात है, और घर पर भी मां-बाप बच्चों के सामने एक दूसरे को चूमते हैं। लेकिन क्या मां-बाप का बच्चों के सामने किस करना सही है? चलिये आज इस विषय पर थोड़ी गहनता से चर्चा करते हैं, और जानने का प्रयास करते हैं कि माता-पिता का बच्चों के सामने किस करना सही है या नहीं, और इसका बच्चों पर क्या असर होता है।

बच्चों पर प्रभाव क्या पड़ता है  

बच्चे मां-बाप से बहुत कुछ सीखते हैं, वे जो देखते हैं उसे अपने दिमाग में डाल लेते हैं। जब माता-पिता बच्चों के सामने किस करते हैं तो वे उन्हें बहुत ध्यान से देखते हैं, और फिर घट रही घटना के बारे में दिमाग में सोचते हैं। इस लिए आपको यह ध्यान रखना चाहिये कि आप उन्हें भी किस करें जिससे उनको भी लगे की आप उन्हें भी प्यार करते हैं, और किस करना केवल एक कामुक भाव प्रकट करने वाली घटना नहीं है, बल्कि प्यार जताने का तरीका है। इसके अलावा ध्यान रखा जाना चाहिये कि माता-पिता अपने बच्चों के सामने साधारण सा ही किस करें। बच्चों के सामने डीप किस करने से ना सिर्फ बच्चों के मन में आपके प्रति कई अजीब से विचार आते हैं, बल्कि उनकी रुची असमय ही कामुकता के प्रति बढ़ने लगती है।

 

Kiss in Front of Children in Hindi

 

अनुशासन कम होना

देखिये किस करने में कोई समस्या नहीं है और ना ही ये कोई गलत काम है, लेकिन बच्चों को सही शिक्षा देने और उनकी सही परवरिश करने के लिये उन्हें अनुशासित रखना बेहद जरूरी होता है। देखिये पति और पत्नी का रिश्ता बहुत सुंदर होता है और आपको एक दूसरे के साथ समय बिताना भी चाहिए। लेकिन उनके सामने बहुत ज्यादा किस करने से बच्चों के मन में से आपका प्रभाव थोड़ा कम होता है। हालांकि ऐसा होना जरूरी नहीं है, लेकिन आप एतियात के तौर पर अपने रिश्ते की अंतरंगता को बच्चों के सामने प्रदर्शित करने से बचें। ताकि उनके मन में अनुशआशन और आपका दर्जा दोनों बने रहें।  



बच्चों के सामने बहुत ज्यादा और बार-बार (स्पान्टैनीअस) किसिंग और हग्गिंग से आपकी अपनी प्राइवेसी भी खत्म होती है। वहीं कभी कभी किस करते करते पति पत्नी अपनी सीमा भूल भी जाते हैं और कामुकता की ओर कब बढ़ जाते हैं उन्‍हें पता ही नहीं चलता। लेकिन बच्चों पर इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। तो केवल किस करने को ही अपने प्यार जताने का तरीका न बनाएं। बच्चे उतने समझदार नहीं होते हैं और जब बच्चे अपने पेरेंट्स को किस करते हुए देखते हैं, तो उन्हें लगता हैं कि वो कहीं भी किसी को भी किस कर सकते हैं। जिसकी वजह से वो अपनी हदें भूल जाते हैं। इसलिए पेरेंट्स को बच्चों के सामने किस नहीं करना चाहिए।

 

Image Source - Getty

Read More Articles On Parenting Tips In Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES6 Votes 1887 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर