मोटापा बढ़ाने वाले ड्रिंक्स पर टैक्स लगाएं सरकारें: WHO

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 18, 2016
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

मीठे पेय पदार्थो से मोटापे और डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने मोटापे और डायबिटीज जैसे रोगों पर लगाम लगाने के लिए सरकारों से मीठे पेय पदार्थों पर टैक्‍स लगाने को कहा है ताकि इनके उपभोग को हतोत्साहित किया जा सके।

sweet drinks in hindi
वैश्विक स्वास्थ्य संगठन ने अपनी नवीनतम रिर्पोट में ऐसी राजकोषीय नीति अपनाने की जरूरत को दोहराया है जिसमें फलों और सब्जियों पर सब्सिडी दी जाए एवं अस्वास्थ्यकर खाद्य विकल्पों पर टैक्‍स लगाया जाए।

‘खानपान एवं गैर-संक्रामक रोगों की रोकथाम के लिए राजकोषीय नीति' नाम की इस रिर्पोट के अनुसार, ‘‘ऐसे वाकये हैं जिसके हिसाब से मीठे पेय पदार्थों पर कर ढांचे को तर्कसंगत बनाए जाने से उनके उपभोग में कमी देखी गई है। विशेषकर जब उनकी खुदरा बिक्री की कीमत को 20 प्रतिशत या उससे अधिक तक बढ़ा दिया जाए।''
 
रिर्पोट में कहा गया है कि ताजे फलों और सब्जियों पर सब्सिडी उपलब्ध कराकर उनके दाम 10-30 प्रतिशत तक कम करने से ऐसे स्वास्थ्यवर्धक उत्पादों के उपभोग को बढ़ाया जा सकता है।

Image Source : Getty

Read More Health News in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES394 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर