जानें प्‍यूबिक हेयर के सफेद होने का क्‍या है मतलब

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 07, 2016
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • सर के बालों की तरह प्यूबिक बाल भी होते हैं सफेद।
  • ऐसा अनियमित दिनचर्या और तनाव से होता है।
  • लगभग 50 प्रतिशत लोगों के बाल होते हैं सफेद।
  • कई बार ये विटामिन बी12 की कमी से भी होते हैं।

सर पर एक सफेद बाल दिखते ही लोग उछल पड़ते हैं और उसे काला करने के उपाय करने लगते हैं। लेकिन प्यूबिक हेयर (जननांग के बाल) सफेद होने लगे तब आपका रिएक्शन कैसा होगा? ये सोचने वाली बात ही नहीं है बल्कि उसपर विचार करने वाली बात भी है।

तीस वर्षीय फूलकुमारी ने अचानक एक दिन नोटिस किया की उसके जननांग के बाल सफेद और पतले होने लगे हैं। फूलकुमारी बहुत चिंतित हो गई और सीधे अपनी डॉक्टर से मिली। तब उसकी चिकित्सक ने उसे शांत रहने की हिदायत दी और कहा कि ये सामान्य लक्षण हैं और इसपर चिंता करने की बात नहीं है। लेकिन फूलकुमारी को विश्‍वास नहीं हुआ। तब उसकी डॉक्टर ने उसको कहा कि जैसे अनियमित खान-पान और तनाव की वजह से सिर के बाद बाल सफेद और पतले होने लगते हैं वैसे ही प्यूबिक हेयर भी सफेद और पतले होने लगते हैं। खान-पान को नियमित करके इसपर नियंत्रण पाया जा सकता है।

 

 

बिल्कुल सामान्य है

इससे पहले की आप इसे उखाड़ने या निकलने जाएं, हम आपको पहले ही बता देते हैं ति ये बहुत ही सामान्य स्थिति है। न्यू यॉर्क सिटी की डर्मेटोलॉजिस्ट एसडी सेज़ल शाह कहती हैं कि “जैसे उम्र के अनुसार सर के बाल सफेद और पतले होने लगते हैं वैसे ही प्यूबिक हेयर भी उम्र के अनुसार पतले और सफेद होने लगते हैं।”

 

प्यूबिक हेयर

प्यूबिक हेयर स्त्री के जननांग में ऊपर औऱ बाहर की तरफ बाल होते हैं जो स्त्री जननांग को चारों ओर से घेरे रहते हैं। ऊपर की तरफ एक अंग जो उल्टे वी के आकार का होता है उसे `क्लाईटोरिस` कहते हैं। ये बाल कई बार अनियमित खान-पान और जीन्स की गड़बडि़यों या अनुवांशिक तौर पर भी सफेद औऱ पतले होने लगते हैं।

 

दो लोगों के बाल सफेद होने में अंतर

  • प्यूबिक हेयर का सफेद होना सामान्य है लेकिन जरूरी नहीं कि जब आपके हों तो आपके दोस्त के भी हों।
  • आपके और आपके दोस्त के प्यूबिक हेयर के सफेद होने में काफी अंतर होता है।
  • क्योंकि आपके प्यूबिक बाल अनुवांशिक कारण से भी सफेद हो रहे होंगे।
  • या फिर जरूरी नहीं कि आपके अनियमित खान-पान के तरह की समस्या आपके दोस्त को भी हो।
  • ऐसे में चिंतित होने की जरूरत नहीं है।

 

सामान्य है ये स्थिति  

डर्मेटॉलॉजी की ब्रिटिश जर्नल में छपी एक शोध के अनुसार जनसंख्या के 23 प्रतिशत हिस्से में कम से कम 50 प्रतिशत लोग अपना 50वां जन्मदिन मनाते वक्त तक सफेद प्यूबिक बालों से सामना कर चुके होते हैं।

 

असमय सफेद होने के कारण  

प्यूबिक बालों के असमय सफेद होने के कई कारण हो सकते हैं। कई बार विटामिनों की कमी से भी ऐसा होता है। शाह इसके पीछे विटामिन B12 और थॉयराइड में ग्लैंड डिसऑर्डर को कारण मानती है। या फिर कई बार विटलीगो जैसी बीमारी के कारण भी वहां के बाल सफेद हो जाते हैं। ऐसा वहां पर व्हाइट पैचेस पड़ने के कारण होता है। कई शोध में इन कारणों को असमय प्यूबिक बालों के सफेद होने के पीछे का कारण माना गया है।

 

कैसे रोका जाए

तो इसे कैसे रोका जाए? शाह कहती हैं कि बालों का सफेद होना जेनेटिकली है जिसे रोकना मुश्किल होता है। लेकिन इसे रोकने के लिए सबसे पहले अपने स्मोकिंग की आदत पर रोक लगाएं। एक स्टडी के अनुसार स्मोकर्स अपनी स्मोकिंग की आदतों में रोक लगाकर 2.5 गुना बालों के सफेद होने पर रोक लगा सकते हैं। साथ ही खाने में विटामिन B12 युक्त भोजन अधिक से अधिक शामिल करें।

 

Read more articles on Women's Health in Hindi.

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES5 Votes 3051 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर