एच सी जी डायट प्लान क्या है

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 01, 2016
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • एचसीजी डायट से 60 दिनों के अंदर वजन कम होता है।
  • यह डायट प्लान पूरी तरह सुरक्षित और स्वास्थ्यवर्धक है।
  • यह तकनीक वजन कम करने के लिए अच्छी मानी जाती है।
  • यह शरीर से वसा और कैलोरी की मात्रा को कम करता है।

एचसीजी या ह्युमन कोरियोनिक गोनाडोट्रापिन ऐसी आहार योजना है जिसका किसी भी प्रकार से अब तक कोई साइड इफेक्ट नहीं हुआ है। यह एक अतिरिक्त संपूर्ण आहार योजना है जो सामान्य मेटाबॉलिज्म के कार्यों को प्रभावित किए बिना शरीर से अतिरिक्त चर्बी को कम कर वजन घटाता है।एजसीजी डाइट प्लान के कार्यक्रमों के जरिए वजन को आसानी से नियंत्रित किया जा सकता है। एचसीजी एक प्राकृतिक हार्मोन है जो कि गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं में पाया जाता है। शरीर में जो अतिरिक्त वसा एकत्रित होती है उसे एचसीजी आहार योजना के तहत वसा को ऊर्जा में परिवर्तित किया जाता है। एचसीजी आहार योजना बहुत ही सरल है और आप भी इसका फायदा उठा सकते  हैं। लेकिन यदि एचसीजी डाइट प्लान अगर गलत तरीके से अपनाया जाता है तो शरीर पर इसका प्रभाव नहीं पडता है।

  • लोगों के अन्दर यह विचार है कि एचसीजी डाइट प्लान असुरक्षित है, जिसके कारण लोगों को इसे अपनाने में संकोच होता है। हालांकि एचसीजी आहार योजना पूरी तरह से सुरक्षित है और पूरी दुनिया में लोग इसका फायदा उठा रहे हैं। चिकित्सकों और विशेषज्ञों ने लोगों को इस योजना को अपनाने के बारे में सलाह दी है। अगर कोई व्यक्ति ईलाज के बाद एचसीजी योजना अपनाता है, तो उसके अंदर से 20-30 पाउंड अनावश्यक वसा कम हो जाती है। एचसीजी आहार योजना को तीन चरणों में बांटा गया है – लोडिंग, मेंटेनेंस और स्टेबिलाइजिंग।
  • शुरूआत के दो दिनों में एचसीजी वेट लॉस थेरेपी को लोडिंग फेज कहा जाता है। इस स्टेज में लोग ज्यादा कैलोरी वाला खाना जैसे- पिज्जा, बर्गर, चिकन, चॉकलेट, चावल आदि खिलाया जाता है। इसके तहत यह कोशिश की जाती है कि आदमी या औरत अपने अंदर ज्यादा से ज्यादा कैलोरी वाला खाना खा लें जिससे कि आगे के दिनों में जब शरीर को कम कैलोरी वाला खाना मिले तो शरीर को कोई नुकसान न हो।
  • दूसरे चरण को मेंटेनेंस फेज भी कहते हैं। इसमें आदमी की मोटाई के हिसाब से तीन सप्ताह से लेकर 40 दिन तक का समय लगता है। इसमें आदमी को बहुत कम कैलोरी वाला खाना के साथ 10-15 बूंदों की खुराक दिन में तीन बार पिलाई जाती है। इस स्टेज में आदमी के पेट, थाई, ठोढी, हाथ, पैर और शरीर के अन्य जगह से अतिरिक्त चर्बी समाप्त हो जाती है। इसके कारण आदमी कुछ दिनों में ही पतला हो जाता है।
  • तीसरे चरण को स्टेबिलाइजेशन फेज कहा जाता है जो कि आखिरी चरण होता है। इसमें आदमी को बहुत ही कम कैलोरी वाला खाना खाने की सलाह दी जाती है। लेकिन पूरी तरह से शुगर और स्टार्च से बचना चाहिए जिससे कि वजन स्थिर रहे, बढे ना।



एचसीजी डाइट प्लान के तहत लगभग 60 दिन का समय लग सकता है। इसमें आदमी अपना वजन कम से कम 15 किग्रा या उससे ज्यादा घटा सकता है। एचसीजी डाइट प्लान अपनाने के बाद खाद्य-पदार्थों को खाने में सावधानी बरतनी चाहिए। कम कैलोरी वाला और वसा रहित खाना चाहिए।

 

Image Source-getty

Read More Article on Healthy Eating in Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES41 Votes 20538 Views 2 Comments
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • Rakhi Choudhary30 Sep 2012

    can you give me hcg diet plan as indian menu

  • Rakhi Choudhary30 Sep 2012

    can you give me hcg diet plan as indian menu

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर