जूता हो कोई भी पहुंचा सकता है ये नुकसान

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 29, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • स्टीलेटोज टाइप शू पैरों को नुकसान पहुंचाते हैं।
  • डॉक्टर जैकलिन सुतरा ने बताए इसके नुकसान।
  • हील्स में सारा वजन आपके पैरों की बॉल्स पर रहता है
  • रनिंग स्निकर्स से क्रोनिंग स्ट्रेस इंजरी हो सकती है।

हम जानते हैं कि स्टीलेटोज पैरों को नुकसान पहुंचाते हैं, तो फ्लैट जूते भी खतरनाक हो सकते हैं। पेडियाट्रिक व शल्य चिकित्सा की डॉक्टर तथा ब्रोंक्स लेबनान अस्पताल में ऑर्थोपेडिक्स की चेयरमेन जैकलिन सुतरा ने अलग-अलग प्रकार के जूतों के कुछ नुकसान बताए। तो चलिये जानते हैं कि अगल-अलग प्रकार के ये खूबसूरत दिखने वाले जूते किस प्रकार से नुकसानदायक हो सकते हैं।

Health dangers of shoe in Hindi

 

रनिंग स्निकर्स (Running sneakers)

रनिंग स्निकर्स मतलब कि दौड़ लगाने के लिये पहने जाने वाले जूतों में बहुत ज्यादा कुशन (गद्देदार सतह) होता है जो अच्छी बात नहीं है। जब जूते में बहुत ज्यादा कुशन होता है तो आपको पैर-मस्तिष्क फ़ीडबैक नहीं मिल पाता है, जो जमीन का आभास करता है। ये जूते रनिंग, जॉगिंग, वॉकिंग (हाइकिंग, डासिंग व साइकलिंग के लिये नहीं) आदि के लिये सही होते हैं। इसे लगातार पहनने से क्रोनिंग स्ट्रेस इंजरी (विशेष तौर पर एड़ी को) हो सकती है।  

 

फ्लिप-फ्लॉप (Flip-flops)

ज्यादातर फ्लिप-फ्लॉप बहुत फ्लैट, पतले और खुले होते हैं। इससे पैर का ज्यादातर भाग खुला रहता है और पैर को कुशन व सपोर्ट नहीं देता है। आपके पैर की उंगलियों के बीच की पेटी भी खतरनाक होती है, क्योंकि यह अंगूठे की मांसपेशियों पर दबाव बनाती है। इन जूतों को पहनने से सूजन, एड़ी में दर्द, तनाव और फ्रैक्‍चर आदि हो सकते हैं।  

 

Health dangers of shoe in Hindi

 

स्टीलेटोस (Stilettos)

लंबे समय तक के लिए ऊंची एड़ी (हाई हील या स्टीलेटोस) के जूते पहने रहने पर सारा वजन आपके पैरों की बॉल्स पर रहता है, जिस कारण से पैरों पर बहुत ज्यादा दबाव पड़ता है। स्टीलेटोस पहनने से एड़ी के टखने में मोच, मिडफुट फ्रेक्चर, न्यूरोमास (सौम्य तंत्रिका ट्यूमर) आदि हो सकते हैं।

 

प्लेटफार्म वेजिज़ (Platform wedges)

वेजिज़ में भी हिल्स होती हैं, जोकि पैरों पर गबाव बनाती हैं। लेकिन हिल्स में सामान्य तौर पर ज्यादा कुशन होता है। कभी-कभी इनमें प्लेटफॉर्म होता है, जोकि झुकाव को कम करता है और पैर की बॉल को भी सुरक्षित रखता है। लेकिन आपको हिल से होने वाले नुकसान तो फिर भी होते ही हैं।

 

Image Source - Getty Images

Read More Article on Healthy Living in Hindi

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES7 Votes 1641 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर