खानपान के जरिये आसानी से घटा सकते हैं वजन

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 08, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • यदि आहार स्‍वस्‍थ और पौष्टिक हों तो वजन घटा सकते हैं।
  • लंच और डिनर में सलाद शामिल करने से नहीं बढ़ात वजन।
  • बींस, नाशपाती, सोया, सूप वजन घटाने में करते हैं मदद।
  • ऑलिव ऑयल और सिरका के सेवन से भी वजन घटता है।

खाने से वजन बढता है, ये तो दुनिया जानती है, लेकिन कुछ ऐसे भोजन भी हैं जिनके सेवन से आपका वजन कम होता है। वजन पर नियंत्रण रखना स्वास्थ्य के लिहाज से बेहद आवश्यक है और क्विक वेट लॉस आजकल एक ट्रेंड-सा बन गया है।

Eat to Lose Weightहालांकि इसके कई तरीके हैं लेकिन विभिन्न रिसर्चो की मानें तो सही किस्म का भोजन वजन कम करने में सबसे ज्यादा सहायक होता है। कुछ ऐसी चीजें हैं जिन्हें अपनी डाइट में शामिल करने से वजन को नियंत्रित रखा जा सकता है। ऐसे ही कुछ भोज्य पदार्थो का यहां जिक्र किया जा रहा है।

 

बींस

बींस को वेट लॉस के लिहाज से सबसे अच्छा माना जाता है। यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया की एक रिसर्च के अनुसार बींस में ऐसे तत्व होते हैं जो कॉलेसिस्टॉकिनिन नाम के डाइजेस्टिव हार्मोन को लगभग दो गुना बढाने में मदद करते हैं। कुछ अध्ययनों के अनुसार बींस ब्लड शुगर के स्तर को मेंटेन करने में मदद करता है ताकि अगर आपको लंबे समय तक भूखा रहना पडे तो आपके लिए नुकसानदेह न हो। बींस को हाई फाइबर डाइट माना जाता है जो कॉलेस्ट्राल को कम करने में भी मदद करता है।

 

अंडे

अंडे प्रोटीन का खजाना होते हैं। सुबह नाश्ते में अंडे खाना सेहत के लिहाज से बहुत अच्छा होता है। एक रिसर्च में पाया गया कि वे स्त्रियां जो नाश्ते में स्क्रैम्बल्ड एग्ज के साथ दो स्लाइस टोस्ट और कम कैलरी वाला फ्रूट स्प्रेड लेती हैं, उन्हें आम नाश्ता खाने वाली स्त्रियों के मुकाबले कम भूख लगती है। कम भूख लगने से जाहिर है इंसान कम कैलरी कंज्यूम करेगा।

 

सैलेड

क्या आपको लंच या डिनर के दौरान खुद को स्टफ कर लेने की आदत है? यदि हां, तो अपनी मील की शुरुआत सैलेड से करें। ध्यान रखें कि यह सैलेड क्रीमी ड्रेसिंग के बगैर होना चाहिए। पेन स्टेट यूनिवर्सिटी में 42 स्त्रियों पर हुए एक अध्ययन में देखा गया कि जिन्होंने मील के पहले एक बडी प्लेट लो कैलरी सैलेड खाया, वे बाद में लगभग 12 प्रतिशत कम पास्ता ही खा सकीं। अध्ययनकर्ताओं के अनुसार इसकी वजह रहा सैलेड। अमेरिकन डायटिक एसोसिएशन के एक जर्नल में प्रकाशित रिपोर्ट की मानें तो सैलेड में विटामिन सी और ई के अलावा फॉलिक एसिड, लाइकोपीन और कैरोटेनॉयड्स आदि पोषक तत्व मौजूद हैं जो प्रतिरोधक क्षमता को बढाते हैं।
ग्रीन टी- ग्रीन टी उन सभी लोगों के लिए बेहतरीन पेय है जो वजन कम करने की इच्छा रखते हैं। ग्रीन टी में कैटेशिंस नाम के एंटीऑक्सिडेंट्स मौजूद होते हैं जो फैट बर्न करने और मेटाबॉलिज्म को बढाने में मदद करते हैं। विभिन्न शोधों से पता चला है कि ग्रीन टी बॉडी मास इंडेक्स को घटाने और हानिकारक एलडीएल कॉलेस्ट्रॉल को कम करने में भी मदद करती है।

 

नाशपाती

नाशपाती फाइबर का खजाना होती है। यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन के अनुसार लगभग छह ग्राम की एक नाशपाती आपकी भूख को संतुष्ट करने के लिए पर्याप्त होती है। संस्था के अनुसार भूख मिटाने के लिए सेब नाशपाती के बाद सबसे अच्छा स्रोत है। दोनों ही फलों में पेक्टिन फाइबर होता है जो ब्लड शुगर के स्तर को कम करता है। असमय भूख लगने पर हाई कैलरी स्नैक्स लेने के बजाय नाशपाती खाएं, आपके शरीर में गैरजरूरी कैलरी पहुंचने से बचेगी।

 

सूप

एक कप चिकन सूप और एक नॉर्मल साइज चिकन पीस से लगभग एक जैसी ही भूख मिटती है। शोधकर्ताओं की मानें तो चिकन सूप भूख कम करने में सहायक होता है।

 

लीन बीफ

अगर आप अपने शरीर के एक्स्ट्रा पाउंड्स को कम करने की चाह रखते हैं तो लीन बीफ को अपने डिनर में शामिल कर लीजिए। अगर आप रोजाना 1700 कैलरी की डाइट लेते हैं तो 9-10 आउंस लीन बीफ आपकी डाइट का एक अहम हिस्सा बन सकती है। बीफ खाने वालों को भूख भी कम लगती है, इसलिए भी इसे वेट लॉस फूड की कैटगरी में शामिल किया जाता है।

 

ऑलिव ऑयल

बढती उम्र में फैट कम करना मुश्किल होता है। ऐसे में ऑलिव ऑयल आपके लिए मददगार साबित हो सकता है। ऑलिव ऑयल मोनोअनसैचुरेटेड फैट्स से बना होता है जो कैलरी बर्न करने में सहायक होता है। ऑलिव ऑयल को सॉते करने या सैलेड ड्रेसिंग के तौर पर बखूबी प्रयोग किया जा सकता है। ऑस्ट्रेलिया में 57 से 73 वर्ष की स्त्रियों पर किया गया, एक अध्ययन यह साबित करता है कि ऑलिव ऑयल मेटाबॉलिज्म बढाने में मदद करता है। इस अध्ययन में शामिल स्त्रियों को नाश्ते में स्किम्ड मिल्क और ओटमील में ऑलिव ऑयल डालकर दिया गया था।

 

दालचीनी

भोजन के बाद मीठा मोटापे का बडा कारण होता है। माइक्रोवेव किए हुए ओटमील या होल-ग्रेन टोस्ट पर दालचीनी पाउडर छिडक कर खाएं, आपको इस क्रेविंग से भी छुटकारा मिलेगा और अनचाही कैलरीज से भी। यूएस डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर द्वारा किए गए एक शोध के अनुसार थोडी-सी दालचीनी खाकर भोजन के बाद मीठे की क्रेविंग से आसानी से छुटकारा पाया जा सकता है। दालचीनी सेहत के लिहाज से भी बहुत अच्छी है। एक-चौथाई छोटा चम्मच दालचीनी का पाउडर का रोजाना सेवन टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों में ब्लड शुगर और कॉलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक होता है।

 

विनेगर

विनेगर के सेवन से लंबे समय तक भूख नहीं लगती। एक स्वीडिश अध्ययन के अनुसार प्लेन ब्रेड खाने वालों के मुकाबले ब्रेड स्लाइस को विनेगर में डुबो कर खाने वालों को भूख कम लगती है। विनेगर में मौजूद एसिटिक एसिड से पाचन में समय लगाता है, जिससे भूख देर से लगती है।

 

 

Read More Articles On Weight Management in Hindi

 

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES37 Votes 48311 Views 3 Comments
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • Pooja13 Feb 2013

    is article se bahut sari jankari mil gayi mujhe, thanks....

  • hema14 Sep 2012

    meri age22 h meri height 5'2 h or mera weight 60 kg h pls weight kaise kam hoga btaiye.

  • raj kishor23 May 2011

    me 33 year ka hu our mera lambai 5'6" he, mera bajan 80 kg he, mere adhik bajan ke karan mrere ridh ke center me kafi dard rahta he sabhi prakar ke test karba liye yaha tak ki bod or mri test bhi karbaye he koi isha test nahi he jo nahi hua he doctor ne bajan kam karne ko kaha he per bajan kam hone ka nam hi nhi he pet bhi mere thora jyada nikal gaya he, bajan ke karn mere adi me bhi dard rahta he. aap se anurodh he mujhe sahi salah de me one year se aapna ilaj karba raha hu per faida nahi he.

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर