रोजाना खाएं ये 5 नट्स, 10 दिन में घटेगा 5kg वजन

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 14, 2018
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

मोटापा घटाने के लिए वैसे तो सैंकड़ों नुस्‍खे और दवाइयां हैं जो थोड़े समय में वजन कम करने का दावा करते हैं, लेकिन उसका परिणाम नही मिलता है। आज हम आपको न ही किसी नुस्‍खे के बारे में बताएंगे और न ही किसी दवाई की बात करेंगे। बस आपको हमारे बताए गए कुछ टिप्‍स को समझकर उसे फॉलो करना होगा। हम आपको कुछ नट्स के बारे में बता रहे हैं जिसके माध्‍यम से आप अपना वजन आसानी से घटा सकते हैं।

नट्स क्या हैं?

नट्स को एक श्रेणी में डालना थोड़ा मुश्किल होगा, जैसा कि नट्स कठोर खोल वाले बीज, फल व फलियां आदि होते हैं। अलग-अलग नट अलग श्रेणी में आती हैं। सबसे ज्यादा खाये जाने वाले नट्स में अखरोट, बादाम, मूंगफली, पिस्ता व काजू आदि आते हैं। ये सभी पौष्टिक होने के साथ-साथ प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फाइबर के अच्छे स्त्रोत होते हैं। इसमें विटमिन ई, फोलिक एसिड, बी - कॉम्प्लेक्स, मैग्नेशियम, कॉपर जिंक आदि की भी प्रचुर मात्रा  में होते हैं। नट्स में ओमेगा-3 फैटी एसिड भी होता है, और ये रक्त में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करते हैं। नट्स के सेवन से हृदय रोग से भी बचाव होता है। ये मोनोसैचुरेटेड फैटी एसिड और सुरक्षात्मक फ्लेवोनाइडस का मिश्रण होता है, जोकि हृदय के लिए बेहद लाभदायक होते हैं।

नट्स में पाया जाने वाला फाइटोकेमिकल कैंसर से बचाव करता है। आहार विशेषज्ञ बताते हैं कि नट्स में पाएं जाने वाले एंटी-ऑक्‍सीडेंट, विटामिन व अन्य कई तरह के पोषक तत्‍व शरीर के सा‍थ-साथ दिमाग़ को भी तारोताजा रखते हैं। वहीं नट्स में पाया जाने वाला प्रोटीन विभिन्न अंगों, मांसपेशियों, हार्मोस और विभिन्न एंजाइमों के निर्माण में मदद करता है।

इसे भी पढ़ें: कहीं मेटाबॉलिज्म तो नहीं है आपके बढ़ने वजन का कारण?

अखरोट

अखरोट भी ऐंटि-ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है। ये कोशिकाओं को नुकसान, हार्ट संबंधी बीमारियां, कैंसर, जल्दी बुढ़ापा आ जाना जैसी समस्याओं से दूर रखता है। इनमें ओमेगा-3 फैटी ऐसिड भी काफी मात्रा में होता है, जो कि आपकी बॉडी के लिए अच्छा होता है। इसमें भी हेल्दी अनसैचुरेटिड फैट होते हैं। एक से दो अखरोट रेग्युलर मील में खाए जा सकते हैं।

मूंगफली

मूंगफली विटामिन ई, फोलेट और मैग्नीज का बड़ा सोर्स है। इसमें 22 फीसदी ऐंटि-ऑक्सीडेंट होते हैं, जो इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में मददगार होते हैं। ये दिल की बीमारियों से भी दूर रखता है। लेकिन इन्हें सही मात्रा में खाना जरूरी है। दिन में आठ से दस मूंगफली खाई जा सकती हैं। उबली हुई सब्जियों के साथ भुनी हुई मूंगफली खाना एक अच्छा ऑप्शन है।

इसे भी पढ़ें: नॉर्मल वेट वालों को नहीं होती ये 9 जानलेवा बीमारियां

काजू

काजू में आइरन, मैग्नीशियम और जिंक पाया जाता है। इसका आइरन कोशिकाओं में ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करता है। ये एनीमिया से बचाता है। वहीं, जिंक इम्यून सिस्टम मजबूत करता है। मैग्नीशियम से मेमोरी पावर अच्छी होती है और यह बढ़ती उम्र में याद्दाश्त को ठीक रखात है। एक्सपर्ट्स के अनुसार अपने रूटीन में कम से कम चार से पांच काजू जरूर शामिल करने चाहिए।

पिस्ता

पिस्ता वजन करने में बहुत मददगार होता है क्योंकि एक पिस्ते में चार से भी कम कैलोरी होती है। इसके साथ ही इसमें एल-आर्जीनिन होता है, जो आर्ट्रीज की परत को और लचीला बना देती है। इससे ब्लड क्लॉटिंग की संभावना कम हो जाती है, जो हार्ट अटैक का कारण बन सकता है। वहीं इसमें विटामिन ई भी होता है, जो शरीर को मजबूती देता है।

बादाम

दूसरे नट्स के मुकाबले बादाम में सबस ज्यादा फाइबर होता है। इसके एक औंस में लगभग तीन ग्राम के करीब फाइबर होता है। यही नहीं, यह भी विटामिन ई से भरपूर होता है, जो कि एक शाक्तिशाली ऐंटि-ऑक्सीडेंट है। बादाम से वजन भी घटाया जा सकता है। एक रिसर्च के अनुसार, वजन कम करने वाले लोग अगर अपनी डाइट में बादाम शामिल करते हैं तो उनका वजन जल्दी घटता है। इसके अलावा ये ब्लड शुगर को कंट्रोल में भी कारगर है। एक दिन में आठ से दस भीगे हुए बादाम खाए जा सकते हैं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Weight Loss In Hindi

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES5281 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर