भागदौड़ भरी जिंदगी में इन तरीकों से रखें दिमाग को स्‍वस्‍थ और फिट

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 02, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • प्रतिदिन 15 से 20 मिनट गेम्‍स खेलने से दिमाग रहता है फिट।
  • मछली के तेल और ऑलिव ऑयल का सेवन स्‍वस्‍थ दिमाग रखता है।
  • दिमाग को दुरुस्‍त रखने के लिए टीवी देखने की आदत को कम करें।
  • हर रोज शारीरिक व्‍यायाम करने से मजबूत होती हैं दिमाग की नसें।

कोई व्‍यक्ति दिमागी रूप से स्‍वस्‍थ नहीं है तो इसका सीधा असर उसके काम और व्‍यवहार पर पड़ता है। भागदौड़ भरी जिंदगी में जरूरी है कि आप दिमागी रूप स्‍वस्‍थ रहें। दिमागी रूप से फिट रहने के लिए आपके दिमाग में अलग- अलग तरह के विचार आने चाहिए। साथ ही आपका जिज्ञासु प्रवृत्ति का होना भी जरूरी है।

improve brain fitness जिज्ञासु प्रवृत्ति वाले लोग हमेशा कुछ न कुछ क्रिएटिव करने के बारे में सोचते रहते हैं। इस तरह की आदत स्‍वस्‍थ दिमाग का निर्माण करती है। अपने आस-पास होने वाली चीजों के प्रति उत्‍सुकता होना आम बात है, लेकिन जरूरी यह है कि आप इन चीजों को किस तरह समझते हैं और किस तरह काम करते हैं। यह सब दिमाग की कुशलता पर निर्भर करता है। इस लेख के जरिए हम आपको बताते हैं दिमाग को स्वस्थ और फिट रखने वाले कुछ आसान उपायों के बारे में।

 

गेम्‍स खेलें

कई शोध इस बात को साबित कर चुके हैं कि दिमाग को स्‍वस्‍थ रखने में गेम्‍स अहम भूमिका निभाते हैं। गेम्‍स खेलने के दौरान दिमाग को चुनौती मिलती है। सुडोकू और शतरंज जैसे तर्क शक्ति पर आधारित गेम्‍स, वर्ग पहेली और इलेक्‍ट्रॉनिक खेल दिमाग की तेजी से सोचने की गति और याद्दाश्‍त बढ़ाते हैं। साथ ही इनसे आपका मनोरंजन भी होता है। यदि आप इस तरह के गेम्‍स को प्रतिदिन 15 से 20 मिनट देते हैं तो यह आपके दिमाग के लिए फायदेमंद साबित होगा।

मेडिटेशन

प्रतिदन मेडिटेशन यानी चिंतन करने की आदत व्‍यक्ति को दिमागी रूप से स्‍वस्‍थ बनाती है। मेडिटेशन करने से आप दिमागी रूप से फिट रहने के साथ ही शारीर‍िक रूप से भी स्‍वस्‍थ रहते हैं। जिन लोगों को अनिंद्रा की परेशानी होती है, उनके लिए भी मेडिटेशन फायदेमंद साबित होता है।


स्‍वस्‍थ आहार का सेवन करें

दिमागी रूप से फिट रहने के लिए जरूरी है कि ऐसे आहार का सेवन करें जो शरीर के साथ ही दिमाग के लिए भी फायदेमंद साबित हो। आपको फैट से भरपूर भोजन करना चाहिए। विशेष तौर पर मछली का तेल और ऑलिव ऑयल आपको दिमागी तौर पर फिट रखता है।


कहानियां पढ़ें और शेयर करें

अपने अनुभवों को दोस्‍तों के साथ शेयर करें इससे आपकी याददाश्‍त मजबूत होती है। साथ ही कहानियां पढ़ने की आदत भी मानसिक रूप से फिट रखती है। ग्रुप में बैठने पर दोस्‍तों के साथ अपने नए और पुराने अनुभव बांटें। अनुभव बांटने से आपको और उन्‍हें अच्‍छा लगेगा, साथ ही याददाश्‍त भी मजबूत होगी। कुछ लोगों के पास कहानी को लंबे और रोचक तरीके से बताने की कला होती है।

 

टीवी कम देखें

देखा गया है कि अधिकतर लोग औसतन एक दिन में चार घंटे या इससे अधिक टीवी देखते हैं। टीवी आपके संबंधों के साथ ही आपकी जिंदगी पर भी असर डालता है। इसलिए कोशिश करें कि टीवी देखने की आदत को धीरे-धीरे कम करें और दिमाग से संबंधित व्‍यायाम और शरीरिक व्‍यायाम करें।


शरीरिक व्‍यायाम करें

शरीरिक व्‍यायाम भी एक तरह से दिमागी कसरत ही है। एक्‍सरसाइज करने के दौरान होने वाली हलचल का असर सीधे दिमाग की नसों पर पड़ता है। नियमित रूप से शारीरिक व्‍यायाम करने की आदत व्‍यक्ति को दिमागी रूप से स्‍वस्‍थ बनाती है। आप जो शारीरिक व्‍यायाम कर रहे हैं उसमें एक निश्‍चित समय अंतराल पर बदलाव की कोशिश करें, इससे आपका दिमाग ज्‍यादा स्‍वस्‍थ बना रहेगा।

 

अलग पढ़ने की आदत

पुस्‍तकें पढ़ने की आदत अच्‍छी है। समय मिलने पर कुछ न कुछ अवश्‍य पढ़ें। इस तरह की आदत से आपका दिमाग दुरुस्‍त रहता है। आप पुस्‍तकालय से किताब लेकर किसी रोचक किरदार के बारे में, किसी जानकारी से संबंधित और तथ्‍यों के बारे में पढ़ सकते हैं। दिमाग को फिट रखने के लिए विदेशी लेखकों को भी पढ़ना चाहिए। इससे आप न केवल दिमागी रूप से फिट रहेंगे बल्कि आपको विभिन्‍न सं‍स्‍कृतियों के बारे में भी जानकारी मिलेगी।


नये स्किल सीखें

नई स्किल सीखकर भी दिमाग को फिट रखा जा सकता है। अपने दिमाग को नई चीजों के बारे में सोचने के लिए प फ्री छोड़ दें। उदाहरण के लिए आप शेक्‍सपियर का साहित्‍य पढ़ें, स्‍वादिष्‍ट खाना बनाने की विधि के बारे में पढ़ें और खराब चीजों से किस तरह बच्‍चों के खिलौने बनाएं जाएं यह जानें। ऐसा करने से आपका दिमाग अलग-अलग तरह से सोचेगा और फिट रहेगा।

 

 

 

Read More Articles On Mental Health In Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES24 Votes 3101 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर